Connect with us

दुनिया

VIDEO : वेनेजुएला के राष्ट्रपति पर ड्रोन से हमला, नेशनल गार्ड ने ऐसे बचाई जान

Published

on

नयी दिल्ली। वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो पर एक कार्यक्रम के दौरान ड्रोन हमला किया गया। जिसमें वो बाल-बाल बच गए। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार को मादुरो राजधानी कराकस में नेशनल गार्ड के 81 वर्ष पूरे होने पर मनाए जा रहे समारोह में भाषण दे रहे थे, तभी उनके पास कुछ विस्फोटक आ गिरा था। इसके बाद उन्होंने भाषण बीच में ही रोक दिया और कराकस सेना राष्ट्रपति को तुरंत वहां से सुरक्षित स्थान पर ले गई। सरकार ने कहा कि इस पूरी घटना में सात सैनिक घायल हुए हैं। निकोलस मादुरो ने घटना के बाद सरकारी चैनल पर कहा, ‘‘यह हमला मेरी हत्या करने के लिए किया गया था, उन्होंने आज मेरी हत्या करने की कोशिश की। उन्होंने कहा, ‘‘एक उड़ती हुई चीज में मेरे सामने विस्फोट हो गया।

इन देशों पर लगाया आरोप

मादुरो ने इस हमले के लिए पड़ोसी देश कोलंबिया और अमेरिका के अज्ञात ‘‘वित्तदाताओं’’ को जिम्मेदार ठहराया है। वहीं उनके कई अधिकारियों ने हमले के लिए वेनेजुएला के विपक्षी खेमे को जिम्मेदार ठहराया है। राष्ट्रपति ने कहा कि हमले में कुछ को गिरफ्तार कर लिया गया है और जांच जारी है।  वेनेजुएला के सरकारी टेलीविजन पर दिखाई जा रही तस्वीरों के अनुसार कल भाषण देते हुए मादुरो उस समय अचानक सकपका गए जब जोर से कुछ गिरने की आवाज आई, तभी वहां मौजूद देश के नेशनल गार्ड के जवान तत्काल हरकत में आए और पूरे क्षेत्र में फैल गए।

हालांकि टेलीविजन पर कोई ड्रोन नजर नहीं आया। केवल अंगरक्षक मादुरो के सामने बैलिस्टिक ढाल लेकर उन्हें बचाने पहुंच और फिर अचानक ही प्रसारण बंद हो गया। वहीं सूचना मंत्री जॉर्ज रोड्रिगेज ने बताया कि ‘‘स्थानीय समयानुसार ठीक पांच बजकर 41 मिनट पर कई धमाके सुने गए। जांच में यह साफ पाया गया है कि विस्फोटक सामग्री ड्रोन जैसी किसी चीज में लाई गई’’. वहीं तीन स्थानीय लोगों ने बताया कि विस्फोट परिसर में एक गैस टैंक में विस्फोट के कारण हुआ।

रहस्यमय विद्रोही समूह ने ली हमले की जिम्मेदारी

दूसरी तरफ, वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो की ‘हत्या’ करने की साजिश की जिम्मेदारी रहस्यमय विद्रोही समूह ने ली है। इस समूह ने कहा, ‘यह हमला मिलिट्री सम्मान के विरोध में था, जो उस शख्स को दिया गया, जो संविधान भूल चुका है। जिन्होंने अमीर बनने के लिए सार्वजनिक कार्यालय को गंदा कर दिया है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

दुनिया

पुलवामा पर संयुक्त राष्ट्र में प्रस्ताव, चीन ने भी नहीं दिया पाकिस्तान का साथ, पढ़ें बड़ी बातें

Published

on

जिनेवा/न्यूयार्क/नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों पर हुए आतंकी हमले पर भारत ने संयुक्त राष्ट्र में अपनी बात रखी। संयुक्त राष्ट्र(यूएन) में पुलवामा आतंकी हमले को लेकर निंदा प्रस्ताव लाया गया।

यह प्रस्ताव संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद्(यूएनएससी) में लाया गया, जिसे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् के पांचों स्थायी सदस्य एवं 10 गैर-स्थायी सदस्यों द्वारा सर्वसम्मति से पास कर दिया गया। गौर करने वाली बात यह है कि चीन संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् का स्थायी सदस्य होने के साथ वीटो अधिकार प्राप्त है, फिर भी चीन ने पुलवामा आतंकी हमले पर आए इस प्रस्ताव को नहीं रोका।

क्या है प्रस्ताव की भाषा

विदेश मंत्रालय में संयुक्त राष्ट्र(यूएन) डेस्क से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि यूएन में पुलवामा आतंकी हमले से संबंधित इस प्रस्ताव को भारत अपने मित्र देशों के साथ लाया था। इस प्रस्ताव की भाषा इस तरह रखी गई है कि प्रस्ताव में पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद, आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद और आतंक फैलाने वालों को कटघरे में खड़ा करने के लिए वैश्विक सहयोग मिल सके और इसमें भारत सफल रहा। सुरक्षा परिषद के सदस्य देशों ने पुलवामा आतंकी हमले के पीड़ित परिवारों के साथ-साथ भारतीय लोगों और भारत सरकार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की।

आतंकवादी कृत्य शांति और सुरक्षा के लिए खतरा

सभी ने पुष्टि की कि अपने सभी रूपों और अभिव्यक्तियों में आतंकवाद, अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए सबसे गंभीर खतरों में से एक है। साथ ही इस बात को भी रेखांकित किया गया कि आतंकी कृत्यों के आयोजकों, फाइनेंसरों और प्रायोजकों को इसके लिए जिम्मेदार माना जाए और उन्हें कानून के दायरे में खड़ा किया जाए। इतना ही नहीं संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् ने दुनिया के सभी सदस्य देशों से अपील की है कि वे अपने सामर्थ्य के अनुसार भारत सरकार और इस संबंध में अन्य सभी संबंधित अधिकारियों के साथ सक्रिय सहयोग करें।

परिषद् ने दोहराया कि आतंकवाद का कोई भी कार्य आपराधिक और अन्यायपूर्ण है, चाहे उनकी प्रेरणा कोई भी हो, जब भी और जिस किसी ने भी किया हो, वो अक्षम्य है। संयुक्त राष्ट्र के चार्टर के अनुसार भी आतंकवादी कृत्य अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार कानून, अंतरराष्ट्रीय शरणार्थी कानून और अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानून के अंतर्गत भी अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के लिए खतरा है। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

दुनिया

पाक को एक और झटका, 200 दिनों में नहीं की कार्रवाई तो ‘ब्लैक लिस्ट’ में डाल देगा FATF, जानें क्या है ये

Published

on

नयी दिल्ली। पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद चौतरफा घिरे पाकिस्तान को शुक्रवार एक और झटका लगा है। पेरिस में हुई फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की बैठक में भारत ने पाकिस्तान को ‘काली सूची’ में डालने की पहल की थी लेकिन इस संस्था ने इमरान खान की सरकार को आतंकवादी फंडिंग के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए अक्टूबर तक का समय दिया है। FATF ने पाकिस्तान को चेतावनी दी है कि वह आतंकवाद के खिलाफ एक्शन लेने की टाइमलाइन को ना चूके, वरना उसे गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।

नहीं उठाया कदम तो ‘काली सूची’ में जाएगा पाक

एफएटीएफ ने कहा है कि पाकिस्तान यदि आतंकियों की वित्तीय मदद रोकने के लिए समुचित एवं पर्याप्त कदम नहीं उठाता है तो उसे ‘काली सूची’ में डाल दिया जाएगा। इस तरह पाकिस्तान को एफएटीएफ से सात महीने करीब 200 दिनों का समय मिल गया है। पाकिस्तान पहले से ही इस संस्था की ‘ग्रे सूची’ में मौजूद है।

‘काली सूची’ गया तो पाक तो आर्थिक मोर्चे पर और कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा

‘काली सूची’ में डाल दिए जाने पर पाकिस्तान को आर्थिक मोर्चे पर और कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। विदेशी कारोबारियों और बैंकों को पाकिस्तान में कारोबार करना मुश्किल हो जाएगा। इसका पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था और व्यापार पर बुरा असर पड़ेगा। ईरान और उत्तर कोरिया पहले से ही एफएटीएफ की काली सूची में हैं। साल 1989 में गठित एफएटीएफ एक अंतर-सरकारी वैश्विक संस्था है जो टेरर फंडिंग एवं आतंकवादी गतिविधियों में मनी लॉन्ड्रिंग के खिलाफ काम करती है।

क्या है एफएटीएफ और क्या है इसका काम, जानें

आपको बता दें कि ये संस्था आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे देशों को आर्थिक मदद मुहैया कराती है। इसके अलावा इस संस्था की तरफ से दी जाने वाली रेटिंग का असर वर्ल्ड बैंक, IMF समेत कई अन्य संस्थाओं पर बढ़ता है। ये संस्थाएं रेटिंग के अनुसार ही किसी देश को कर्ज देती हैं। आपको बता दें कि शुक्रवार को हुई इस बैठक से पहले ही पाकिस्तान ने कुछ आतंकी संगठनों पर बैन लगाया था। जिसमें मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद का जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन समेत कई संगठन शामिल हैं। पाकिस्तान की कोशिश थी कि वह इस प्रकार की कार्रवाई कर ग्रे लिस्ट से बाहर निकल सकेगा, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। http://www.kanvkanv..com

Continue Reading

दुनिया

वेनेजुएला में तनाव : मदुरो ने सीमाएं सील करने के दिए आदेश, रूस, चीन और क्यूबा का मिला है समर्थन

Published

on

कारकास। वेनेजुएला के ने पड़ोसी देश ब्रजील सहित अन्य देशों के साथ लगती अपने देश की सीमाएं सील करने के आदेश दिए हैं, ताकि अमेरिका अथवा उसके मित्र देशों की ओर से मानवीय मदद सामग्री उनके देश में पहुंचने न पाए।

सीमा पार करने के लिए आदेश के इंतजार में हैं मानवीय राहत सामग्री

अमेरिकी वायु सेना के कार्गो विमानों से मानवीय राहत सामग्री और दवाएं कोलंबिया भेजी गई हैं जो इस समय ट्रकों में लदकर वेनेजुएला सीमा पार करने के लिए आदेश के इंतजार में हैं। अमेरिका और उसके चहेेते विपक्ष के नेता और नेशनल असेंबली के स्पीकर जुआन गुइडो, जो इस समय स्वयं को अंतरिम राष्ट्रपति के रूप में कुछ देशों से मान्यता भी पा चुके हैं, शनिवार को कोलंबिया-वेनेजुएला सीमा पर सैकड़ों दर्शकों के साथ पहुंच रहे है।

कोई भी दुर्घटना हो सकती है

गुइडो ने चेतावनी दी है कि वेनेजुएला सेना शांत रहे और ट्रकों को सीमा के अंदर-अंदर आने दे। आशंकाएं जाहिर की जा रही हैं कि उस समय कोई भी दुर्घटना हो सकती है। उल्लेखनीय है कि समाजवादी नेता निकोलस मदुरो को रूस, चीन और क्यूबा का समर्थन हासिल है, जबकि गुइडो को अमेरिका, कनाडा, यूरोपीय देशों के अलावा लेटिन अमेरिका के ब्राजील सहित अनेक देश मान्यता दे चुके हैं। अमेरिकी मीडिया की माने तो भूख और बीमारी की वजह से हजारों लोग वेनेजुएला छोड़कर दूसरे देशों में शरण लेने के लिए घरों से निकल चुके हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
वीडियो8 hours ago

शहीद मेजर विभूति की शादी का वीडियो हुआ वायरल, पत्नी के साथ ऐसे मनाई थी खुशियां, आप भी देखें

राज्य9 hours ago

बहराइच : चोरी की 4 बाइक व अवैध तमंचा-कारतूस के साथ 2 गिरफ्तार, टीम को किया पुरस्कृत

राज्य9 hours ago

बहराइच : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से सभी पात्र कृषकों को आच्छादित कराएं : जिलाधिकारी

राज्य9 hours ago

राम मंदिर का रास्ता जरूर निकेलगा, नामुमकिन को मुमकिन में बदलने का नाम ही नरेंद्र मोदी : योगी 

राज्य9 hours ago

श्रावस्ती : सीएचसी गिलौला में फैली गंदगी दे रही संक्रामक रोगों को न्यौता

राज्य9 hours ago

गोंडा में मामूली विवाद पर दो युवकों की धारदार हथियार से हत्या, आक्रोश

राज्य9 hours ago

अयोध्या : आईजी डॉ. संजीव गुप्ता ने संभाला कार्यभार, कहा- कानून व्यवस्था बनाए रखना पहली प्राथमिकता

राज्य9 hours ago

कन्नौज : दो अरब 26 करोड़ की जिला योजना को प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता वाली समिति ने दी मंजूरी

राज्य9 hours ago

कन्नौज : मित्रसेनपुर में लगा विधिक साक्षरता शिविर, योजनाओं के बारे में दी गयी जानकारी 

राज्य9 hours ago

सुल्तानपुर : सात साल की बच्ची का अपहरण, पुलिस ने 12 घंटे में किया बरामद

देश9 hours ago

सोपोर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के दो कमांडर ढेर, हिंसक झड़प

राज्य10 hours ago

अयोध्या : पुलवामा हमले के विरोध में मुस्लिम समुदाय में उबाल, जुमे की नमाज के बाद निकाला विरोध मार्च

राज्य10 hours ago

अयोध्या : सात फेरे लेने के बाद फरार हुई दुल्हन, छोटी बहन ने शादी कर बचाई लाज

दुनिया12 hours ago

पुलवामा पर संयुक्त राष्ट्र में प्रस्ताव, चीन ने भी नहीं दिया पाकिस्तान का साथ, पढ़ें बड़ी बातें

खेल12 hours ago

पाकिस्तान को अब मिलेगा किक्रेट में बड़ा झटका, BCCI ने ICC को लिखा खत, कही ये बातें

राज्य12 hours ago

कम करना है वजन तो बस 2 मिनट में करें ये वर्कआउट, जिम से ज्यादा है फायदेमंद 

दुनिया13 hours ago

पाक को एक और झटका, 200 दिनों में नहीं की कार्रवाई तो ‘ब्लैक लिस्ट’ में डाल देगा FATF, जानें क्या है ये

राज्य13 hours ago

देवीपाटन मंडल :  सेवा करने का मौका तो श्रावस्ती को बनाएंगे देश का मॉडल : निखिल चंद शुक्ल

खेल1 week ago

ICC के कहने पर जोंटी रोड्स ने चुने दुनिया के टॉप 5 फील्डर्स, इस भारतीय खिलाड़ी को बताया नंबर वन

राज्य7 days ago

यूपी में 64 IAS और 11 IPS व 58 PPS अफसरों के तबादले, 22 जिलों में नए डीएम, देखें पूरी लिस्ट

मनोरंजन4 weeks ago

रवि किशन की बेटी और पद्मिनी कोल्हापुरे के बेटे की जोड़ी फिल्मी परदे पर मचाएगी धमाल

देश1 week ago

पुलवामा में उरी से भी बड़ा आतंकी हमला, 20 जवानों के दूर तक बिखरे थे शव, देखें 20 भयावह तस्वीरें और वीडियो

देश1 week ago

पुलवामा आतंकी हमला : CRPF के 44 जवान शहीद, मोदी बोले-व्यर्थ नहीं जाएगा बलिदान, देखें वीडियो

राज्य2 weeks ago

सीतापुर : पीड़ित गिड़गिड़ाते रहे और रसूखदारों को रेवड़ी की तरह बांट दिए शस्त्र लाइसेंस

राज्य3 weeks ago

अय्याश दरोगा ने खाकी को किया शर्मसार, युवती के साथ रंगरेलिया मनाते वायरल हुआ वीडियो

मनोरंजन3 weeks ago

43 साल की कुंवारी एकता कपूर सरोगेसी से बनी मां, बेटे का हुआ जन्म, सोशल मीडिया पर ऐसे आए रिएक्शन

राज्य1 week ago

योगी आदित्यनाथ सरकार को बड़ा झटका, ओम प्रकाश राजभर ने छोड़ा मंत्री पद, CM को लिखा लेटर

देश4 weeks ago

भाजपा को झटका : प्रियंका गांधी की पहल पर कांग्रेस में शामिल होंगे वरुण गांधी!, मिलेगी ये बड़ी जिम्मेदारी

देश1 week ago

जम्मू-कश्मीर में CRPF के काफिले पर बड़ा आतंकी हमला, IED ब्लास्ट में 20 जवान शहीद, 45 घायल

देश1 week ago

शहादत को सलाम : 22 दिन पहले ही पिता बने थे तिलक राज, खबर मिलते ही शोक में डूबा गांव

राज्य2 weeks ago

ESMA के बावजूद 20 लाख कर्मचारी ‘महाहड़ताल’ पर, काटा जाएगा वेतन

राज्य3 weeks ago

योगी के हेलिकॉप्टर को ममता सरकार ने उतरने के नहीं दी इजाजत, लखनऊ से फोन पर गरजे मुख्यमंत्री

देश6 days ago

एलओसी पर आईईडी ब्लास्ट में मेजर शहीद, 19 दिन बाद होनी थी शादी

राज्य6 days ago

यूपी में चली ‘तबादला एक्सप्रेस’, योगी सरकार ने 109 वरिष्ठ PCS अधिकारियों के किए तबादले, देखें लिस्ट

राज्य4 weeks ago

अखिलेश यादव ने संगम में लगाई डुबकी, खाई गंगा मइया की कसम, कहा-सरकार बनने पर…

दुनिया2 weeks ago

शादी को हुए थे सिर्फ 3 मिनट, फिर दूल्हे ने किया ऐसा काम कि दुल्हन ने वहीं दे दिया तलाक

Trending