Connect with us

दुनिया

देखें वीडियो : कुवैत में शेख ने गाया भजन, देखकर सुषमा स्वराज हो गईं हैरान, बजाने लगीं तालियां

Published

on

नयी दिल्ली। भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज कुवैत में द्विपक्षीय मीटिंग के लिए पहुंची हैं। इस दौरान उन्होंने कुवैत के अमीर (शासक) शेख सबाह अल-अहमद अल जाबेर अल सबाह समेत शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात की और आर्थिक तथा सुरक्षा सहयोग को बढ़ावा देने वाले विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। इसी के साथ सुषमा ने भारतीय समुदाय से जुड़े मसले भी उठाए।

वहीं कुवैत की भारतीय एम्बेसी ने एक इवेंट होस्ट किया था। जहां कुवैत के सिंगर मुबारक अल-राशिद ने ‘Vaishnav Jan To’ भजन गाया। जिसको सुनकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के चेहरे पर मुस्कान आ गई। ऐसा भजन सुनकर सुषमा स्वराज हैरान रह गईं और तालियां बजाने पर मजबूर हो गईं।

विदेश मंत्रालय के स्पोकपर्सन रवीश कुमार ने ट्विटर पर वीडियो शेयर किया है। जिसमें सिंगर राशिद पूरे सुर में भजन गा रहे हैं। ट्विटर पर इस वीडियो को बहुत पसंद किया जा रहा है। रवीश कुमार ने लिखा- विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का ‘लैंड ऑफ पर्ल्स’ कुवैत में भव्य स्वागत किया गया। अगले दो दिन द्विपक्षीय बैठकों और गतिविधियों की व्यस्तता रहेगी। स्वराज मंगलवार को कुवैत पहुंची थीं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

दुनिया

इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के बाद अब उनके मंत्री पर लगा ये बड़ा आरोप, इस्तीफा

Published

on

जेरूसलम । इजरायल के कल्याण मंत्री ने अटॉर्नी जनरल द्वारा उन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने का फैसला करने के बाद कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, इजरायल के कल्याण मंत्री और प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की लिकुड पार्टी के सदस्य हैम कैट्ज ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री को सौंपे एक पत्र में अपने इस्तीफे की पेशकश की।

आरोप निराधार

उन्होंने अपनी ओर से जारी एक बयान में कहा, “मुझे बदनाम करने और मेरे इरादों को गलत साबित करने का प्रयास किया गया, जबकि सांसद के रूप में मेरा काम ईमानदारी और अच्छे विश्वास के साथ किया गया रहा है। यह निराधार है।”

नेतन्याहू पर खुद लगे हैं भ्रष्टाचार के आरोप

इजरायल के अटॉर्नी जनरल अविचाई मंडेलब्लिट ने बुधवार को घोषणा की थी कि कैट्ज पर धोखाधड़ी और विश्वास भंग करने का आरोप लगाया जाएगा। अपने नोटिस में, मंडेलब्लिट ने कहा कि कैट्ज ने अपने करीबी सहयोगी व वित्तीय सलाहकार के स्वामित्व वाली एक प्रमुख इजरायली कंपनी एक्विटल को वित्तीय लाभ प्रदान किया है। नेतन्याहू खुद भ्रष्टाचार के कई आरोपों का सामना कर रहे हैं। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

दुनिया

बौखलाए पाकिस्तान को अमेरिका ने दिया बहुत बड़ा झटका, आर्थिक मदद कर दी आधी

Published

on

नयी दिल्ली। अमेरिका ने पाकिस्तान को आज एक और बड़ा झटका दिया है. आर्थिक संकट से गुजर रहे पाकिस्तान को अमेरिका ने ‘केरी लूगर बर्मन एक्ट’ के तहत दी जाने वाली आर्थिक मदद में भारी कटौती कर दी है. अमेरिका ने ‘केरी लूगर बर्मन एक्ट’ के तहत पाकिस्तान को दी जाने वाली प्रस्तावित आर्थिक मदद में 44 करोड़ डॉलर की कटौती कर दी है. इस कटौती के बाद पाकिस्तान को 4.1 अरब डॉलर की धनराशि दी जाएगी.

पाकिस्तान को अमेरिका ने दिया एक और झटका, आर्थिक मदद कर दी आधी

पाकिस्तानी अखबार एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के मुताबिक, आर्थिक मदद में कटौती के फैसले के बारे में इस्लामाबाद को इमरान खान के अमेरिकी दौरे से तीन सप्ताह पहले ही आधिकारिक सूचना दे दी गई थी. इस्लामाबाद अमेरिका से यह आर्थिक मदद ‘पाकिस्तान एन्हैंस पार्टनरशिप एग्रीमेंट (पेपा) 2010’ के जरिए हासिल करता है.  मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, 90 करोड़ डॉलर की बची हुई अमेरिकी मदद पाने के लिए पाकिस्तान ने पिछले सप्ताह ही पेपा की समयसीमा बढ़ा दी थी.

पाकिस्तान को अमेरिका ने दिया एक और झटका, आर्थिक मदद कर दी आधी

अक्टूबर 2009 में अमेरिकी कांग्रेस ने ‘केरी लूगर बर्मन ऐक्ट’ पास किया था और इसे लागू करने के लिए सितंबर 2010 में पेपा पर हस्ताक्षर किए गए. इसके तहत पाकिस्तान को पांच साल की अवधि में 7.5 अरब डॉलर की मदद दिए जाने की व्यवस्था की गई थी.  इस अधिनियम को पाकिस्तान की आर्थिक संरचना में निवेश करने के मकसद से लाया गया था जिसके तहत देश के ऊर्जा और जल संकट को दूर किया जाना था.

पाकिस्तान को अमेरिका ने दिया एक और झटका, आर्थिक मदद कर दी आधी

हालांकि, पेपा समझौते के लागू होते ही पाकिस्तान और अमेरिका के रिश्ते बिगड़ने शुरू हो गए थे. इसका असर अमेरिका की पाकिस्तान के लिए उसकी प्रतिबद्धताओं और आर्थिक मदद पर भी पड़ा. सूत्रों के मुताबिक, आर्थिक मदद में कटौती से पहले 4.5 अरब डॉलर की धनराशि आवंटित की जानी थी जो अब घटकर 4.1 अरब डॉलर पर पहुंच गई है.

पाकिस्तान को अमेरिका ने दिया एक और झटका, आर्थिक मदद कर दी आधी

पाकिस्तान के अधिकारियों ने अमेरिका के फैसले पर कहा कि यूएस द्वारा दी जाने वाली धनराशि में कटौती केवल पाकिस्तान के लिए ही नहीं की गई है बल्कि यह डोनाल्ड ट्रंप विकासशील देशों को दी जाने वाली मदद को घटाने की रणनीति का ही हिस्सा है. पाकिस्तान के आर्थिक मंत्रालय के मुताबिक, पेपा उन चार माध्यमों से एक है जिसके जरिए यूएस पाकिस्तान को नागरिक आर्थिक मदद पहुंचाता है.

2001 के बाद से पाकिस्तान को सभी माध्यमों से यूएस ने करीब 8.2 अरब डॉलर की आर्थिक मदद का वादा किया है जिसमें से 6.6 अरब डॉलर की मदद उसे दी जा चुकी है. दूसरी तरफ, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान के लगातार अनुरोधों को दरकिनार करते हुए अमेरिका ने कश्मीर मुद्दे पर दखल देने से इनकार कर दिया है. https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

दुनिया

पाकिस्तान की टूटी आखिरी उम्मीद, सुरक्षा परिषद में कश्मीर पर 9 वोट भी नहीं जुटा सका, चीन भी लाचार

Published

on

न्यूयॉर्क। पाकिस्तान को सुरक्षा परिषद में झटका लगा है। सुरक्षा परिषद के स्थाई सदस्य चीन के बीच बचाव के बाद सुरक्षा परिषद ने मान लिया है कि कश्मीर के मुद्दे पर सुरक्षा परिषद की औचारिक बैठक की जगह अब बंद कमरे में शुक्रवार को अनौपचारिक बैठक ही हो सकेगी, जिसमें परिषद के पांचों स्थाई सदस्य सहित 15 सदस्य ही भाग ले सकेंगे। सुरक्षा परिषद की औपचारिक बैठक के लिए न्यूनतम नौ सदस्यों की सहमति आवश्यक है, जो पाकिस्तान हासिल करने में नाकामयाब रहा है।

रूस बोला

इस बैठक में पाकिस्तान के प्रतिनिधि को अपना पक्ष रखे जाने की इजाजत नहीं होगी। परिषद में रूसी प्रतिनिधि ने बुधवार की शाम कहा कि वह तभी बैठक में भाग लेंगे, जब परिषद की बैठक बंद कमरे में अनौपचारिक होगी। मास्को की ओर से पहले ही यह कहा जा चुका है कि कश्मीर पर भारत और पाकिस्तान के बीच राजनैतिक और कूटनीतिक द्विपक्षीय वार्ता एक मात्र विकल्प है। रूसी प्रतिनिधि इन निर्देशों पर अडिग रहेंगे।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह मुहम्मद कुरैशी ने लिखा था पत्र

पिछले सप्ताह पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह मुहम्मद कुरैशी ने अपनी बीजिंग यात्रा में अपने समकक्ष विदेश मंत्री के सम्मुख एक के बाद एक दलीलों से उन्हें इस बात के लिए राज़ी किया था कि वह जम्मू कश्मीर के संदर्भ में अनुछेद 370 और 35ए को रद्द किए जाने तथा इस क्षेत्र का विशेष दर्जा समाप्त किए जाने एवं कश्मीर में भारतीय पुलिस बल की कथित ज्यादितियों के विरुद्ध सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाएंगे। इस संबंध में कुरैशी ने सुरक्षा परिषद की अध्यक्ष को भी पत्र लिखकर परिषद की औपचारिक बैठक बुलाने और पाकिस्तान की ओर से पक्ष रखने, बैठक की वार्ता को अधिकृत तौर पर रिकॉर्ड किए जाने का आग्रह किया था। लेकिन कुरैशी अथवा चीन सुरक्षा परिषद के 15 में से अपेक्षित नौ सदस्यों को औचारिक बैठक के लिए तैयार कराने में विफल रहे।
इस अनौचारिक बैठक में सदस्यों की ओर से उठाई गई बातों को अधिकृत तौर पर सार्वजनिक नहीं किया जाएगा। इस तरह का एक प्रयास सन् 1971 में हुआ था, तब परिषद की बैठक औपचारिक रूप से हुई थी। चीन के पाकिस्तान के प्रति रुख में कोई नयापन नहीं है। पुलवामा मामले में भी चीन आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना अजहर मसूद को आतंकी घोषित किए जाने के मामले में भी हरी झंडी देने में आनाकानी करता रहा था। यह तो अमेरिका और इंग्लैंड सहित अनेक देशों के दबाव का असर रहा कि चीन ने सुरक्षा परिषद की ओर से आतंकी सूची में रखे जाने की प्रस्ताव को स्वीकार किया।

UNSC के इन देशों ने पाक को कहा ना

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् (यूएनएससी) में कुल 15 सदस्य हैं। इनमें 5 स्थाई और 10 अस्थाई हैं। अस्थाई सदस्यों का कार्यकाल कुछ वर्षों के लिए होता है जबकि स्थाई सदस्य हमेशा के लिए होते हैं। स्थाई सदस्यों में अमेरिका, रूस, चीन, ब्रिटेन और फ्रांस शामिल हैं। अस्थाई देशों में बेल्जियम, कोट डीवोएर, डोमिनिक रिपब्लिक, इक्वेटोरियल गुएनी, जर्मनी, इंडोनेशिया, कुवैत, पेरू, पोलैंड और साउथ अफ्रीका जैसे देश हैं। स्थाई सदस्यों में चीन को छोड़ दें तो बाकी के देशों-फ्रांस, रूस, ब्रिटेन और अमेरिका ने पाकिस्तान को ठेंगा दिखा दिया है। इनका स्पष्ट कहना है कि कश्मीर मुद्दा हिंदुस्तान और पाकिस्तान का आंतरिक मसला है, इसलिए दोनों देश मिलकर निपटें, किसी तीसरे पक्ष की इसमें दरकार नहीं।

चीन की मजबूरी

ऐसा नहीं है कि चीन, पाकिस्तान का घनिष्ठ पड़ोसी है और वह अपने मित्र राष्ट्र के लिए कुछ भी कर सकता है। चीन के सामने बड़ी मजबूरी बेल्ट रोड इनीशिएटिव (बीआरओ) है जिसका बड़ा हिस्सा पाकिस्तान से होकर गुजर रहा है। सड़क निर्माण के इस बड़े प्रोजेक्ट में चीन ने बहुत कुछ झोंक दिया है। अरबों युआन की राशि उसने रोड प्रोजेक्ट में लगाई है और पाकिस्तान से यारी बनाए रखने के लिए वहां बड़ी मात्रा में निवेश किया है।

ऐसे में चीन के सामने दो ही विकल्प हैं। पहला यह कि वह पाकिस्तान को झिड़क दे और अपने बूते बीआरओ को आगे बढ़ाए। दूसरा विकल्प उसके सामने सबकुछ बर्दाश्त करते हुए पाकिस्तान को मदद देने का है। पाकिस्तान को चीन झिड़क नहीं सकता क्योंकि उसे पता है इससे उसका पैसा तो डूबेगा ही, रोड प्रोजेक्ट में जान-माल की भी बड़ी क्षति होगी।

गौर करने वाली बात यह है कि पाकिस्तानी आतंकी कई देशों में कोहराम मचा चुके हैं लेकिन अभी तक उन्होंने किसी चीनी नागरिक को नहीं छुआ है जो बीआरओ प्रोजेक्ट में लगे हैं। इसलिए चीन हर नफा-नुकसान देखते हुए पहले विकल्प में टिकना चाहता है। लिहाजा यूएनएससी की बैठक में वह पाकिस्तान की मदद कर रहा है।

अस्थाई सदस्यों से चीन को ठेंगा

कुल 10 अस्थाई देशों में पोलैंड अकेला राष्ट्र जो पाकिस्तान के साथ खड़ा दिख रहा है। हालांकि यह उसकी राजनयिक मजबूरी है। उसने भारत और पाकिस्तान के इस बखेड़े से खुद को काफी दूर रखा है लेकिन पोलैंड चूंकि इस वक्त यूएनएससी का रोटेटिंग प्रेसिडेंट है, इसलिए उसके सामने बैठक कराना ही अंतिम विकल्प है। इसका अर्थ यह कतई नहीं निकाला जाना चाहिए कि पोलैंड कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के साथ है। वह किसी राष्ट्र के साथ नहीं है बल्कि अस्थाई देशों की ओर से बैठक की मेजबानी कर रहा है।

पोलैंड के अलावा बेल्जियम, कोट डीवोएर, डोमिनिक रिपब्लिक, इक्वेटोरियल गुएनी, जर्मनी, इंडोनेशिया, कुवैत, पेरू और साउथ अफ्रीका पाकिस्तान को पूरी तरह नकार चुके हैं। इन देशों से पाकिस्तान को धेले भर का समर्थन नहीं मिलने वाला। तभी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने विश्व बिरादरी के सामने दुखड़ा रोया कि गए तो सबकी दहलीज पर लेकिन भाव किसी ने नहीं दिया।

यूएनएससी देशों की वीटो प्रक्रिया

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में वीटो की प्रबल प्रक्रिया है। किसी भी एडॉप्शन (प्रस्ताव) को हरी झंडी मिलने या उसे नकारने में इसका रोल काफी अहम है। संयुक्त राष्ट्र चार्टर की ओर से तय शर्तों के तहत, सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्यों के वीटो का अधिकार प्रतिबंधित है, अर्थात यह मुख्य रूप से सुरक्षा परिषद के कामकाज से संबंधित के मामलों में लागू नहीं होता है।

ऐसी स्थिति में, सुरक्षा परिषद को निर्णय लेने के लिए नौ सदस्यों के समर्थन की जरूरत होती है, भले ही वे सुरक्षा परिषद के स्थायी या गैर-स्थायी सदस्य हों। गैर-स्थायी सदस्यों की शक्तियां भी “वीटो के सामूहिक अधिकार” की तरह मजबूत होती हैं (यदि सुरक्षा परिषद के कम से कम सात गैर-स्थायी सदस्य किसी ए़डॉप्शन के खिलाफ वोट देते हैं, तो भी समर्थन नहीं मिलता है)।

पाकिस्तान को जब इतने राष्ट्र नकार चुके हैं तो वह कश्मीर मुद्दे पर किस मुंह से खुलेआम बैठक करेगा। ऐसी स्थिति में संयुक्त राष्ट्र के सामने एक ही चारा है कि बैठक बंद दरवाजे के पीछे की जाए ताकि किसी देश की जगहंसाई होने से बच जाए। https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

उत्तर प्रदेश7 hours ago

अयोध्या : दुस्साहसी स्कॉर्पियो सवार लोगों ने चीता मोबाइल के सिपाही को किया अपहृत, जिले में हड़कम्प

खेल7 hours ago

इस महिला खिलाड़ी ने बिना कपड़ों के खिंचवाई फोटो, बताई न्यूड होने की वजह

देश7 hours ago

पति को छोड़कर विदेश जा रही थी पत्नी, एयरपोर्ट पर फर्जी कॉल कर बोला-फ्लाइट में बैठी है फिदायीन

उत्तर प्रदेश8 hours ago

अयोध्या : दस साल की बच्ची से दुष्कर्म करने वाले को पुलिस ने चंद घंटों में दबोचा

उत्तर प्रदेश8 hours ago

अयोध्या : रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगा था साढ़े आठ लाख रुपये, पुलिस ने दबोचकर भेजा जेल

उत्तर प्रदेश8 hours ago

अयोध्या : धर्मनगरी के कोतवाल का अचानक तबादला, एक चौकी प्रभारी भी हुए लाइन हाजिर

देश8 hours ago

भारतीय सेना ने लिया जवान की शहादत का बदला, पाकिस्तान की एक चौकी को किया नेस्तनाबूत

उत्तर प्रदेश8 hours ago

अयोध्या : धर्मनगरी के संवेदनशील क्षेत्र में सर्राफा व्यापारी की गला काटकर हत्या

उत्तर प्रदेश8 hours ago

कन्नौज : पौधरोपण समाज का अनिवार्य दायित्व : डीजे

उत्तर प्रदेश9 hours ago

श्रावस्ती : फर्जी नम्बर प्लेट लगाकर चला रहे 2 वाहन बरामद, 2 आरोपी भी गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश9 hours ago

श्रावस्ती : ’बिन पेड़ जल नहीं, जल नहीं तो जीवन नहीं’-जनपद न्यायाधीश

उत्तर प्रदेश9 hours ago

मंडलायुक्त व पुलिस उपमहानिरीक्षक ने सुनी समस्याएं, दिया दिशा-निर्देश

उत्तर प्रदेश9 hours ago

कन्नौज : अस्थायी गोवंश आश्रय स्थलों के खाते दो दिन में खुलवाएं-जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार

उत्तर प्रदेश9 hours ago

कन्नौज : यूनिवर्सल सेनिटेशन कवरेज की समीक्षा में घर-घर जाकर शौचालय सत्यापन के निर्देश

उत्तर प्रदेश9 hours ago

कन्नौज : स्टेडियम के निरीक्षण में दो कोच गायब मिले, वेतन रोका

उत्तर प्रदेश9 hours ago

श्रावस्ती : बिना सूचना के अनुपस्थित अध्यापक से जवाब-तलब, शिक्षामित्र के सेवा समाप्ति का निर्देश

उत्तर प्रदेश9 hours ago

श्रावस्ती : जिलाधिकारी ने बाल श्रम उन्मूलन व मानव तस्करी की रोकथाम के लिए जारी किया पोस्टर

उत्तर प्रदेश12 hours ago

अयोध्या : पेड़ पौधे प्राणवायु का प्राकृतिक स्रोत-विधायक वेद प्रकाश गुप्ता

वीडियो3 weeks ago

फिर चर्चा में पीली साड़ी वाली अफसर, सपना के गाने पर नीली साड़ी पहन किया धमाकेदार डांस, देखें वीडियो

दुनिया3 weeks ago

‘प्रेमी को बांध देती थी हथकड़ी से फिर करती थी मारपीट, वियाग्रा खिला कर बनाती थी जबरन संबंध’

वीडियो3 weeks ago

साक्षी की तरह कृति ने भी भागकर रचाई दूसरी जाति में शादी, सियासी खानदान की है बेटी, देखें वीडियो

वीडियो3 weeks ago

थाने में महिला पुलिसकर्मी को चढ़ा टिक-टॉक का खुमार, वीडियो बनाकर लगाए ठुमके, देखें वीडियो

देश3 weeks ago

स्पीकर की कुर्सी पर बैठीं थीं BJP सांसद, आजम बोले-…आपकी आंखों में देखता रहूं, अखिलेश बचाव में उतरे

टेक्नोलॉजी3 weeks ago

भारत में लांच हुआ धमाकेदार स्मार्टफोन, फीचर्स देख हो जाएंगे हैरान, कीमत सिर्फ इतनी

मनोरंजन2 weeks ago

टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने शेयर की हनीमून की फोटो, फिर कैैप्शन में लिख दी ये बात

देश3 weeks ago

इस वरिष्ठ आईएएस पर आरोप, नशे में कर संबंध बनाए फिर धमकी देकर की दूसरी शादी, जानें पूरा मामला

राज्य4 weeks ago

यूपी : होटल मालिक से था छात्रा को प्यार, मिलने पहुंची, हुआ कुछ ऐसा कि युवक ने मार दी गोली, मौत

देश4 weeks ago

आठ माह की गर्भवती के साथ 4 दरिंदों ने किया सामूहिक बलात्कार, फिर वीडियो बनाकर पति को भेज दिया

मनोरंजन2 weeks ago

जेल जा सकते हैं पवन सिंह, अक्षरा ने दर्ज कराई FIR, लगाए सनसनीखेज आरोप, सुनाई ब्रेकअप स्टोरी

मनोरंजन3 weeks ago

बिकनी पहनकर निक जोनास के पैरों पर लेटी प्रियंका चोपड़ा, पी सिगरेट, लोगों ने किये ऐसे कमेंट

राज्य1 week ago

अम्बेडकर नगर में चार युवकों ने शिवलिंग पर पैर रखकर खिंचवाई फोटो, पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा

वीडियो1 week ago

नहीं बन सका पायलट तो अपनी नैनो कार को ही बना दिया हेलिकॉप्टर, देखें हैरान करने वाला वीडियो

देश4 weeks ago

6 राज्यों के राज्यपाल बदले गए, यूपी में राम नाईक की जगह लेंगी आनंदी बेन पटेल  

देश2 weeks ago

एक और न‍िर्भया कांड, युवती के साथ गैंगरेप के बाद काट डाले स्तन, चीर दी छाती

देश1 week ago

पत्नी की बेवफाई, पति नहीं रहता था घर पर बुला लेती थी प्रेमी को, फिर ऐसी खुल गई सारी पोल

देश1 week ago

बड़ी कंपनी में नौकरी करती थी महिला, GB रोड में बेच दिया, रोज 20 आदमी करते थे बलात्कार

Trending