पाकिस्तान: जनरल बाजवा के सेवा विस्तार पर सस्पेंस बरकरार, इमरान खान बोले- अभी नहीं लिय कोई फैसला

पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा के विवादास्पद सेवा विस्तार का मुद्दा एक बार फिर चर्चा में है।
 
bajwa and imran khan
पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल बाजवा के सेवा विस्तार पर सस्पेंस बरकरार

इस्लामाबाद। पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा के विवादास्पद सेवा विस्तार का मुद्दा एक बार फिर चर्चा में है। इस बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि उन्होंने अभी तक सेनाध्यक्ष बाजवा के सेवाविस्तार के बारे में नहीं सोचा है। मीडिया को दिए गए एक बयान में इमरान खान ने कहा कि जनरल बाजवा के कार्यकाल को समाप्त होने में अभी समय है। वह नवंबर में सेवानिवृत्त हो रहे हैं। ऐसे में अभी सरकार के पास समय है। इसलिए उनके कार्यकाल के बारे में इतनी चिंता क्यों है?


दअरसल, पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल बाजवा उस समय विवादों में घिर गए थे, जब उन्हें नवंबर, 2019 में सेवाविस्तार दिया गया था। बाजवा 29 नवंबर, 2019 में सेवानिवृत्त होने वाले थे, लेकिन प्रधानमंत्री इमरान खान ने एक अधिसूचना के माध्यम से क्षेत्रीय सुरक्षा स्थिति का हवाला देते हुए उनके कार्यकाल को बढ़ा दिया था। हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने इस आदेश को यह कहते हुए रद्द कर दिया था कि सेना प्रमुख के कार्यकाल को बढ़ाने के लिए कोई कानून नहीं है। बाद में सरकार द्वारा छह महीने में नया सेनाप्रमुख नियुक्त करने के आश्वासन के बाद उन्हें सेवा विस्तार दिया गया। 


सेवा बढ़ाने के लिए पेश किया गया बिल 
पाकिस्तान में तीनों सेनाओं के प्रमुख और संयुक्त सेना प्रमुख की सेवानिवृत्ति की उम्र 60 वर्ष है, लेकिन जनरल बाजवा के मामले के बाद इस उम्र को 60 से 64 वर्ष किया गया। इसमें इमरान सरकार को प्रमुख विपक्षी दलों का समर्थन मिला और इसको लेकर असेंबली में बिल भी पेश किया गया।