चीन और अमेरिका के बीच बुरी तरह फंस सकता है पाकिस्तान, भुगतना होगा न्योता ठुकराने का अंजाम

वर्ल्ड डेस्क. चीन को खुश करने के चक्कर में पाकिस्तान लगातार अमेरिका से अपने रिश्ते खराब करता जा रहा है। पाकिस्तान को इसका अंजाम भी बहुत बुरा दिखाई दे रहा है। इस बात का खुलासा एक मीडिया रिपोर्ट्स में हुआ है। बताया जा रहा है, पाकिस्तान ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के 'समिट फॉर डेमोक्रेसी' में भाग लेने से इंकार कर दिया।

 
ppp
चीन और अमेरिका के बीच बुरी तरह फंस सकता है पाकिस्तान, भुगतना होगा न्योता ठुकराने का अंजाम
 

वर्ल्ड डेस्क. चीन को खुश करने के चक्कर में पाकिस्तान लगातार अमेरिका से अपने रिश्ते खराब करता जा रहा है। पाकिस्तान को इसका अंजाम भी बहुत बुरा दिखाई दे रहा है। इस बात का खुलासा एक मीडिया रिपोर्ट्स में हुआ है। बताया जा रहा है, पाकिस्तान ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के 'समिट फॉर डेमोक्रेसी' में भाग लेने से इंकार कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिका ने पाकिस्तान से लोकतंत्र के शिखर सम्मेलन यानी 'समिट फॉर डेमोक्रेसी' में भाग लेने का आग्रह किया था। लेकिन पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने इस महीने की शुरुआत में अमेरिकी निमंत्रण को ठुकरा दिया। विशेषज्ञों का कहना है कि 'समिट फॉर डेमोक्रेसी' अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन द्वारा चीन को दरकिनार करने का प्रयास है क्योंकि बीजिंग इसका हिस्सा नहीं था।

अमेरिका-चीन की लड़ाई में फंसा पाक

पाकिस्तान को आशंका है कि वह अमेरिका और चीन के बिगड़ते संबंधों में फंस सकता है। द नेशन की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान इस समय अमेरिका और भारत के गहराते संबंधों को और अफगानिस्तान में मौजूद संकट को लेकर काफी मंथन कर रहा है। डेमोक्रेसी समिट में अमेरिका के निमंत्रण को खारिज किए जाने के संबंध में इस्लामाबाद में राजनयिक सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान बिगड़ते संबंधों के बीच अमेरिका को शांत करने की कोशिश कर रहा है।