North Korea: वैज्ञानिकों को हाइपरसोनिक मिसाइल सेक्‍टर में मिली बड़ी सफलता, आग बबूला हुआ अमेरिका

वर्ल्ड डेस्क. डेमोक्रेटिक रिपब्लिक आफ कोरिया सफलतापूर्वक अपनी हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण किया है। जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है। कि ये मिसाइल अकादमी आफ डिफेंस साइंस द्वारा लान्‍च की गई। इस मिसाइल ने 700 किमी दूर अपने टार्गेट पर सटीक निशाना लगाया। 

 
kk
North Korea: वैज्ञानिकों को हाइपरसोनिक मिसाइल सेक्‍टर में मिली बड़ी सफलता, आग बबूला हुआ अमेरिका 
 

वर्ल्ड डेस्क. डेमोक्रेटिक रिपब्लिक आफ कोरिया सफलतापूर्वक अपनी हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण किया है। जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है। कि ये मिसाइल अकादमी आफ डिफेंस साइंस द्वारा लान्‍च की गई। इस मिसाइल ने 700 किमी दूर अपने टार्गेट पर सटीक निशाना लगाया। 

हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण उत्‍तर कोरिया ने नए फ्यूल सिस्‍टम की विश्वसनीयता को साबित किया है। जानकारी के मुताबिक उनका ये दूसरा हाइपरसोनिक मिसाइल का परीक्षण था। इससे पहले उत्‍तर कोरिया ने सितंबर को ह्वासांग-8 का परीक्षण किया था। बताया जा रहा है। इस परीक्षण से वैज्ञानिकों को हाइपरसोनिक मिसाइल सेक्‍टर में बड़ी सफलता हासिल हुई है। 

एजेंसी की दी गई जानकारी के मुताबिक बेहद सर्द मौसम में इस मिसाइल का सफल परीक्षण ये भी दर्शाता है कि उनका नया फ्यूल सिस्‍टम काफी बेहतर है। इस टेस्‍ट ने एक बार फिर से कोरियाई प्रायद्वीप समेत समूचे इलाके की सुरक्षा पर एक संकट पैदा कर दिया है। इस टेस्‍ट को लेकर अमेरिका भी काफी बौखला गया है। इस टेस्‍ट की जानकारी मिलने के बाद अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने फोन पर जापान के विदेश मंत्री हयाशी योशीमाशा से बात की। उन्‍होंने उत्‍तर कोरिया द्वारा किए गए परीक्षण के मद्देनजर जापान की उनकी सुरक्षा का भरोसा भी दिलाया।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता नेड प्राइस ने एक प्रेस रिलीज करते हुए कहा कि अमेरिका जापान की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। वहीं दूसरी तरफ ब्लिंकन ने इस टेस्‍ट के लिए उत्‍तर कोरिया की कड़ी आलोचना की है। उन्‍होंने कहा है कि जापान काफी संकट में है। शिन्‍हुआ न्‍यूज एजेंसी ने भी डीपीआरके के हवाले से इस मिसाइल के सफल परीक्षण की जानकारी दी है।