शारजाह पुस्तक मेले में भी छाए मोदी, PM के 62 पन्नों के लेखों का हुआ विमोचन

वर्ल्ड डेस्क. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता विदेशों में तेजी से बढ़ रही है। इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि फरवरी में पीएम मोदी के 62 पन्नों के लेखों का विमोचन ब्रिटेन में किया गया था उसी का विमोचन शारजाह अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेले में हुआ।

 
dubai
शारजाह पुस्तक मेले में भी छाए मोदी, PM के 62 पन्नों के लेखों का हुआ विमोचन

वर्ल्ड डेस्क. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता विदेशों में तेजी से बढ़ रही है। इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि फरवरी में पीएम मोदी के 62 पन्नों के लेखों का विमोचन ब्रिटेन में किया गया था उसी का विमोचन शारजाह अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेले में हुआ।

जानकारी के मुताबिक, ब्रिटिश-भारतीय लेखक मिहिर बोस ने शारजाह अंतरराष्ट्रीय पुस्तक मेले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर लिखे 62 पन्नों के लेखों के संकलन का अनावरण किया। पत्रकार से लेखक बने बोस ने इस संकलन को 'नरेन्द्र मोदी - द योगी आफ पापुलिज्म' नाम दिया है। हालांकि फरवरी में इसका विमोचन ब्रिटेन में किया जा चुका था।

ब्रिटिश-भारतीय लेखक मिहिर बोस ने पीएम मोदी और वर्तमान भारत के बारे में बात करते हुए कहा, भारत कभी एक महान राष्ट्र था लेकिन पिछली सरकारों के दशकों के कुशासन के कारण यह अपनी महानता खोने लगा, जिसे मोदी सरकार द्वारा फिर से प्राप्त किया जा रहा है। 

वहीं पुस्तक मेले में 100 प्रसिद्ध भारतीय कविताओं के अरबी संस्करण का भी विमोचन किया गया। इन कविताओं को भारतीय राजनयिक और साहित्यकार अभय के द्वारा चयनित व संपादित किया गया है। संग्रह को '100 कसीदत ¨हदियाह रैयेह' नाम दिया गया है। इसमें 28 भारतीय भाषाओं की कविताएं शामिल हैं, जो तीन हजार वर्षो के भारतीय काव्य इतिहास से हैं।