Connect with us

दुनिया

राममंदिर भूमिपूजन पर पाकिस्तान ने कही ये बात तो भारत बोला-आतंकी देश से यही उम्मीद

Published

on

नई दिल्ली। भारत ने गुरुवार को पाकिस्तान के अध्योध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर दिए गए बयान पर कहा है कि आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले और अपने देश में अल्पसंख्यकों को उनके अधिकारों से वंचित रखने वाले देश से और क्या अपेक्षा की जा सकती है।

पाकिस्तान ने कही थे ये बात

पाकिस्तान ने बुधवार को कहा था कि भारतीय सर्वोच्च न्यायालय के त्रुटिपूर्ण निर्णय से मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ जिसमें न केवल न्याय पर आस्था तरजीह दी गई बल्कि भारत में बढ़ते अधिनायकवाद को भी बल मिला जहां अल्पसंख्यकों खासकर मुसलमानों और उनके पूजा स्थलों पर हमले बढ़ रहे हैं।

विदेश मंत्रालय ने दिया करारा जवाब

इस पर विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ पाकिस्तान को भारत के आंतरिक मामलों में दखल देने और सांप्रदायिक उकसावे से बचना चाहिए। हालांकि सीमा पार आतंकवाद का बढ़ावा देने वाले और अपने यहां अल्पसंख्यकों को उनके धार्मिक अधिकारों से वंचित करने वाले देश से और कोई अपेक्षा भी नहीं की जा सकती। फिर भी इस तरह की टिप्पणियां बहुत अफसोसजनक हैं।

Trending