अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की तादाद 7 लाख के पार

- जिनको खतरा ज्यादा उनको लगेगी वैक्सीन की बूस्टर डेाज 
 
coronavirus pic.jpg
अमेरिका में कोरोना

वाशिंगटन। अमेरिका में कोरोना महामारी से होने वाली मौत का आंकड़ा सात लाख को पार कर गया है। इसके साथ ही अधिकारियों ने बुजुर्गों और ज्यादा जोखिम वाले व्यवसायों में काम करने वाले लोगों की सुरक्षा के लिए कोविड वैक्सीन की दोनों खुराक के साथ बूस्टर डोज देने की तैयार की है।
 
पिछले एक सप्ताह में देश में प्रतिदिन औसतन 2,000 से अधिक लोगों के मौत की जानकारी सामने आई है। जो जनवरी में होने वाली मृत्यु दर से करीब 60 फीसदी अधिक है। आंकड़ों के अनुसार अमेरिका में अभी कोविड संक्रमण के मामले दुनिया में सर्वाधिक है। साथ ही दुनिया में कोविड से होने वाली मौत का आंकड़ा 50 लाख छूने वाला है।
 
लोगों में तेजी से संक्रमण फैलाने वाला डेल्टा वैरिएंट 15 सितंबर को अमेरिका में अपने चरम पर था। अमेरिका में अभी भी एक दिन में 10 हजार से अधिक मामले आ रहे हैं। अमेरिकी संक्रामक रोग प्रमुख विशेषज्ञ डॉ. एंथनी फौसी ने कहा है कि संकट को समाप्त करने के लिए सभी तक स्वास्थ्य सेवाओं को पहुंचाने की जरूरत है।
 
जबकि हाल के सप्ताहों में राष्ट्रीय अस्पताल में भर्ती होने की संख्या में गिरावट आई है, कुछ राज्य, विशेष रूप से देश के दक्षिण में संक्रमित मरीजों की संख्या देश की स्वास्थ्य व्यवस्था पर दबाव बढ़ा रहे हैं।
 
अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने सोमवार को कोविड वैक्सीन की बूस्टर डोज लगवाई थी जो अमेरिकियों में एक उदारहण की तरह पेश किया जा सकता है। जबकि संयुक्त राज्य अमेरिका और अन्य देशों में इतने सारे लोगों के टीकाकरण से बचने के लिए वैज्ञानिकों को बूस्टर शॉट्स की आवश्यकता पर विभाजित किया गया है, बाइडेन ने अगस्त में अत्यधिक तेजी से फैलने वाले डेल्टा संस्करण के खिलाफ सुरक्षा की दिशा में यह कोशिश की है।
 
रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्रों के आंकड़ों के अनुसार अमेरिका की लगभग 56 फीसदी आबादी को पूरी तरह से टीकाकरण हो गया है और करीब 65 फीसदी लोगों को को कम से कम एक खुराक लग गई है।