ब्रिटिश PM बोरिस जॉनसन के पिता पर लगा यौन शोषण करने का आरोप, पीड़िताओं में एक सांसद तो दूसरी पत्रकार

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के पिता स्टेनली जॉनसन पर दो महिलाओं का यौन शोषण करने का आरोप लगा है। इनमें से एक कैरोलिन नोक्स कंजर्वेटिव पार्टी की सांसद है जबकि दूसरी महिला पत्रकार एलीबे रे हैं।
 
Stanley Johnson, father of British Prime Minister Boris Johnson
ब्रिटिश PM बोरिस जॉनसन के पिता पर लगा यौन शोषण करने का आरोप

नई दिल्ली। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री (PM) बोरिस जॉनसन के पिता स्टेनली जॉनसन  पर दो महिलाओं का यौन शोषण करने का आरोप लगा है। इनमें से एक कैरोलिन नोक्स कंजर्वेटिव पार्टी की सांसद है जबकि दूसरी महिला पत्रकार एलीबे रे हैं। स्टेनली जॉनसन पहले भी कई बार चर्चा में रहे हैं। वो खुद भी पॉलिटिशियन हैं और वर्ल्ड बैंक से भी जुड़े रहे हैं।

कैरोलिन नोक्स कंजर्वेटिव पार्टी की सांसद हैं और फिलहाल, ब्रिटिश संसद की महिलाओं से जुड़ी एक कमेटी की सदस्य हैं। नोक्स ने एक टीवी इंटरव्यू में कहा कि स्टेनली ने उन्हें गलत तरीके से छुआ। 

नोक्स का आरोप- स्टेनली ने गलत तरीके से छुआ  

नोक्स ने कहा कि घटना पार्टी की सालाना बैठक के दौरान 2003 में हुई। उस वक्त स्टेनली और मैं सांसद का चुनाव लड़ने जा रहे थे। स्टेनली डेवॉन क्षेत्र से कंजर्वेटिव कैंडिडेट थे। नोक्स ने आरोप लगाया कि स्टेनली जॉनसन ने मुझे गलत तरीके से छुआ और यह बदतमीजी करके वो वहां से चले गए। उन्होंने अश्लील कमेंट भी किया था। उस वक्त मेरी उम्र करीब 30 साल थी और मैं अपना अच्छा या बुरा बहुत बेहतर तरीके से समझ सकती थी। 

पत्रकार एलीबे रे ने भी लगाए गंभीर आरोप 

नोक्स के गंभीर आरोपों के बाद, न्यू स्टेट्समैन की सीनियर पत्रकार एलीबे रे ने भी इसी तरह की शिकायत की। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपनी बात रखी। कहा- 2019 में कंजर्वेटिव पार्टी की एक कॉन्फ्रेंस हुई थी। इसी दौरान स्टेनली ने मेरे साथ भी कुछ इसी तरह की बदसलूकी की थी। मैं नोक्स की शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने मुझे सच सामने लाने की हिम्मत दी। हमें हर ताकतवर व्यक्ति की गलत हरकत के खिलाफ बोलने का हक है, फिर वो व्यक्ति प्रधानमंत्री का पिता ही क्यों न हो।

आरोपों पर क्या बोले स्टेनली जॉनसन 

नोक्स के आरोपों पर बोरिस के पिता स्टेनली जॉनसन ने कहा- मुझे तो नोक्स के बारे में कुछ याद नहीं आता, लेकिन सब इसी तरह चलता है। इसलिए मैं कोई जवाब नहीं देना चाहूंगा।