भारत से अब अमेरिका खरीदेगा 30 सशस्त्र प्रीडेटर ड्रोन, जल्द लगेगी सौदे पर मुहर

भारत अब अमेरिका से 30 सशस्त्र प्रीडेटर ड्रोन खरीदने के लिए लंबे समय से चल रहे प्रस्ताव को अंतिम रूप देने को तैयार है. तीनों सेनाओं के लिए खरीदे जाने वाले इन ड्रोन पर करीब 22,000 करोड़ रुपये  का अनुमानित व्यय होगा. उन्होंने बताया कि हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइलों से लैस एमक्यू-9बी ड्रोन खरीदने के प्रस्ताव को रक्षा खरीद परिषद द्वारा अगले कुछ हफ्तों में मंजूरी दिए जाने की संभावना है. उसके बाद प्रस्ताव सुरक्षा मामलों की प्रधानमंत्री नीत कैबिनेट कमेटी के सामने रखा जाएगा.

 
भारत
भारत से अब अमेरिका खरीदेगा 30 सशस्त्र प्रीडेटर ड्रोन, जल्द लगेगी सौदे पर मुहर

वर्ल्ड डेस्क.  भारत अब अमेरिका से 30 सशस्त्र प्रीडेटर ड्रोन खरीदने के लिए लंबे समय से चल रहे प्रस्ताव को अंतिम रूप देने को तैयार है. तीनों सेनाओं के लिए खरीदे जाने वाले इन ड्रोन पर करीब 22,000 करोड़ रुपये  का अनुमानित व्यय होगा. उन्होंने बताया कि हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइलों से लैस एमक्यू-9बी ड्रोन खरीदने के प्रस्ताव को रक्षा खरीद परिषद द्वारा अगले कुछ हफ्तों में मंजूरी दिए जाने की संभावना है. उसके बाद प्रस्ताव सुरक्षा मामलों की प्रधानमंत्री नीत कैबिनेट कमेटी के सामने रखा जाएगा.

जानकारीनुसार कीमत और हथियार पैकेज सहित खरीद से जुड़े विभिन्न प्रमुख पहलुओं को पहले ही अंतिम रूप दिया जा चुका है और चालू वित्त वर्ष तक अमेरिका के साथ मेगा-सौदे पर मुहर लगने की तैयारी है. भारतीय नौसेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह प्रस्ताव शीघ्र ही में डीएसी के सामने रखा जाएगा. उन्होंने एक कार्यक्रम में संवाददाताओं से कहा, खरीद प्रक्रिया का पूरा प्रयास यह है कि हम बहुत ही संतुलित निर्णय लेते हैं और इसलिए सभी पक्षों की राय ली जाती है. प्रक्रिया जारी है और हम इस दिशा में काफी आगे बढ़ चुके हैं. इसे जल्दी ही डीएसी के समक्ष लाया जाएगा.