Tuesday, August 16, 2022
spot_img
Homeलाइफ स्टाइलबाबा विश्वनाथ का दर्शन पूजन हुआ महंगा, देखें मंदिर प्रशासन ओर से...

बाबा विश्वनाथ का दर्शन पूजन हुआ महंगा, देखें मंदिर प्रशासन ओर से जारी शुल्क दर की नई लिस्ट

– सावन माह में सुगम दर्शन का शुल्क 500 रुपये से बढ़ाकर 750 प्रति श्रद्धालु

वाराणसी। काशीपुराधिपति बाबा विश्वनाथ दरबार में इस बार सावन माह में शिवभक्तों को मंगला आरती, सुगम दर्शन, मध्याह्न-सप्तऋषि आरती देखने के लिए अधिक धनराशि चुकानी होगी। मंदिर में दर्शन-पूजन महंगा हो गया है। सावन माह के सोमवार को मंगला आरती का शुल्क 15 सौ रुपये से बढ़ाकर दो हजार कर दिया गया है।

काशी विश्वनाथ मंदिर प्रशासन ने आरती और दर्शन-पूजन के शुल्क दर की नई लिस्ट जारी कर दी है। मंदिर प्रशासन ने दर्शन पूजन सभी के व्यवस्थाओं में 25 से 30 फीसदी की वृद्धि कर दी है। सावन के सोमवार पर मंदिर में सुगम दर्शन का शुल्क 500 रुपये से बढ़ाकर 750 प्रति श्रद्धालु कर दिया गया है।

मास के अन्य दिनों में सुगम दर्शन का शुल्क 500 रुपये ही रहेगा। मंगला आरती का शुल्क सावन के सभी सोमवार पर 1500 रुपये से दो हजार हो गया है। अन्य दिनों में एक हजार रुपये का टिकट रहेगा। पिछले वर्ष यह टिकट 700 रुपये में मिलता था।

मध्याह्न भोग आरती, सप्तऋषि आरती व शृंगार भोग आरती का टिकट पूरे माह 500 रुपये रहेगा, जबकि पिछले वर्ष यह शुल्क 200 रुपये था। मंदिर में एक शास्त्री से रुद्राभिषेक कराने पर 700 रुपये खर्च करने पड़ेंगे। सावन के सोमवार पर पांच शास्त्री से रुद्राभिषेक कराने पर तीन हजार लगेंगे। अन्य दिनों में 2100 रुपये शुल्क होगा।

वाराणसी परिक्षेत्र के कमिश्नर के अनुसार यदि कोई श्रद्धालु सावन में सोमवार को विशेष शृंगार करना चाहते हैं तो उन्हें अब 20 हजार रुपये खर्च करने पड़ेंगे, जबकि पिछले वर्ष यह धनराशि 15 हजार रुपये थी।

गंदगी करने पर 500 रुपये जुर्माना

काशी विश्वनाथ मंदिर में सावन मास में साफ-सफाई पर खासा ध्यान दिया जायेगा। यहां गुटखा खाते हुए या गंदगी फैलाते पकड़े जाने पर 500 रुपये का जुर्माना भरना पड़ेगा। मंदिर में अक्सर दर्शनार्थियों के द्वारा फैलाई जा रही गंदगी की शिकायत पर मंदिर प्रबंधन ने यह निर्णय लिया है। मंदिर प्रशासन ने सफाई व्यवस्था के लिए कैमरे से भी निगरानी शुरू कराने की व्यवस्था की है।

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments