5G ट्रायल का रास्ता साफ, रिलायंस जियो और वोडाफोन-आइडिया को केंद्र सरकार ने दी मंजूरी

5जी नेटवर्क की टेस्टिंग के लिए केंद्र सरकार ने रिलायंस जियो इन्फोकॉम और वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड को स्पेक्ट्रम आवंटित किया है. सरकार की ओर से गुजरात में 5जी नेटवर्क के परीक्षण के लिए इन दोनों कंपनियों को स्पेक्ट्रम और लाइसेंस आवंटित किया गया है.

 
JIO
5G ट्रायल का रास्ता साफ, रिलायंस जियो और वोडाफोन-आइडिया को केंद्र सरकार ने दी मंजूरी  
 

5जी नेटवर्क की टेस्टिंग के लिए केंद्र सरकार ने रिलायंस जियो इन्फोकॉम और वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड को स्पेक्ट्रम आवंटित किया है. सरकार की ओर से गुजरात में 5जी नेटवर्क के परीक्षण के लिए इन दोनों कंपनियों को स्पेक्ट्रम और लाइसेंस आवंटित किया गया है.

संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बीते दिनों कहा था कि 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी को लेकर भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण इस पर तेजी से काम कर रहा है. संभावना है कि फरवरी के मध्य तक ट्राई अपनी रिपोर्ट सौंपेगा. इसके तुरंत बाद, हम नीलामी शुरू कर देंगे.

जियो-एयरटेल के लिए काफी महत्वपूर्ण है आवंटन

5G के ट्रायल स्पेक्ट्रम का आवंटन रिलायंस जियो और भारती एयरटेल के लिए काफी महत्वपूर्ण है। इसका कारण यह है कि दोनों ही कंपनियों के पास 5G-रेडी नेटवर्क है। कोरोना महामारी के बावजूद दोनों कंपनियों के डाटा इस्तेमाल में भारी बढ़ोतरी हुई है। स्पेक्ट्रम के आवंटन से इन दोनों कंपनियों को जल्द से जल्द 5G सेवाएं रोलआउट करने में मदद मिलेगी।