Connect with us

टेक्नोलॉजी

Facebook Messenger लांच कर सकता है आटो स्टेटस फीचर

Published

on

नई दिल्ली. Facebook Messenger में जल्द ही एक नया फीचर जुड़ने जा रहा है, जो आपके अपने करीबी दोस्तों को बताएगा कि आप क्या कर रहे हैं। एक यूज़र ने फेसबुक को Instagram के Threads ऐप के ऑटो स्टेटस विकल्प से मेल खाते वर्ज़न पर काम करते हुए स्पॉट दिया है। आपको बताते चलें कि इस फीचर में व्यक्ति अपनी प्रोफाइल पर इमोजी का इस्तेमाल करके यह दर्शा सकता है कि वह क्या कर रहा है या किस मूड में है। इस फीचर में यूज़र यह भी चुन सकता है कि उसका स्टेटस कौन कौन देख सकता है।

TechCrunch की एक रिपोर्ट के अनुसार, फेसबुक मैसेंजर पर यह फीचर आपकी लोकेशन, एक्सेलेरोमीटर और बैटरी लाइफ का इस्तेमाल करेगा और यह निर्धारित करेगा कि आप क्या कर रहे हैं और इसे आपके द्वारा चुने गए अन्य यूज़र्स के साथ साझा करेगा। हालांकि यह सटीक निर्देशन साझा करने के बजाय, यह उस गतिविधि की जानकारी देने के लिए आपके प्रोफाइल आइकन पर एक इमोजी को दिखायेगा जिसमें कोई व्यक्ति शामिल है। इस फीचर की पुष्टि फेसबुक के ईएमईए संचार प्रबंधक Alexandru Voica पहले से ही कर चुके हैं। उन्होंने यह बताया था, कि यह फीचर फिलहाल आंतरिक परीक्षण पर है और इसे टेस्ट करने के लिए रिलीज़ नहीं किया गया है।

ऑटो स्टेटस फीचर को सबसे पहले इंस्टाग्राम के थ्रेड्स ऐप पर देखा गया था, जो फेसबुक के स्वामित्व वाले प्लेटफॉर्म का ऐप है और केवल करीबी दोस्तों के लिए हैं। इस ऐप को अक्टूबर 2019 में लॉन्च किया गया था। इंस्टाग्राम थ्रेड्स पर ऑटो स्टेटस फीचर यूज़र्स के करीबी दोस्तों को यह बताता है कि वह क्या कर रहे हैं। यह ऐप यूज़र्स को उनके दोस्तों को उनकी लोकेशन, मौसम, बैटरी की स्थिति आदि स्टेटस साझा करने का विकल्प देता है, भले ही वह इस ऐप को चला नहीं रहे हों। ऑटो स्टेटस केवल दोस्तों की एक विशिष्ट सूची के लिए दिखाई देता है और कोई भी किसी भी समय इसे बदल सकता है, जिस तरह Instagram की क्लोज फ्रेंड्स लिस्ट विकल्प काम करता है।

एक यूज़र या तो खुद से एक ऑटो स्टेटस को चुन सकता है या इंस्टाग्राम को इमोजी चुनने के लिए डेटा सिग्नल का इस्तेमाल करने की अनुमति दे सकता है। इंस्टाग्राम आपके सटीक स्थान का पता लगाएगा, जैसे कि आप घर में हैं या ऑफिस, कैफे, बार जैसे स्थानों में हैं और इस हिसाब से आपका स्टेटस खुद सेट करेगा। यदि आप बाइक चला रहे हैं या ड्राइविंग कर रहे हैं तो आपके फोन के एक्सेलेरोमीटर के जरिए यह पता लगाया जाता है और आपके स्टेटस को सेट कर दिया जाता है। इसी तरह आपके फोन की बैटरी यह दिखा सकती है कि आपकी बैटरी कम है या आप इस समय अपना फोन चार्ज कर रहे हैं। इन्हीं सब का पता लगा कर ऐप आपके प्रोफाइल के ऊपर एक छोटी इमोजी सेट कर देता है।

टेक्नोलॉजी

रेडमी Note 9 Pro Max की बिक्री आज, जानें फीचर्स और कीमत

Published

on

By

नई दिल्ली। मोबाइल कंपनी Redmi Note 9 Pro Max को आज भारत में सेल में उपलब्ध करा दिया जाएगा। इस मोबाइल के सेल का आयोजन ऐमेजॉन इंडिया और शाओमी की साइट पर होगा। Redmi Note 9 सीरीज का सबसे प्रीमियम वेरिएंट है। इस मोबाइल में स्नैपड्रैगन 720G प्रोसेसर, क्वॉड रियर कैमरा सेटअप और 5,020mAh की बैटरी दी गई है।

ये मोबाइल MIUI 11 पर चलता है और इसमें 6.67-इंच फुल-HD+ (1,080×2,400 पिक्सल) का IPS डिस्प्ले है। इसमें 8GB LPDDR4X रैम के साथ ऑक्टा-कोर क्वॉलकॉम स्नैपड्रैगन 720G प्रोसेसर मौजूद है। इसकी इंटरनल मेमोरी 128GB तक की है, जिसे कार्ड की मदद से 512GB तक बढ़ाया जा सकता है।

इस मोबाइल में फोटोग्राफी के लिए इसके रियर में क्वॉड कैमरा सेटअप दिया गया है। इसका प्राइमरी कैमरा 64MP का है। इसके अलावा यहां 8MP अल्ट्रा-वाइड एंगल कैमरा, 5MP मैक्रो कैमरा और 2MP डेप्थ कैमरा भी मौजूद है। सेल्फी के लिए 32MP का कैमरा फ्रंट में दिया गया है। इसकी बैटरी 5,020mAh की है और यहां 33W फास्ट चार्जिंग का सपोर्ट भी मिलता है। फिंगरप्रिंट सेंसर यहां साइड माउंटेड है।

Redmi Note 9 Pro Max के लिए सेल की आज दोपहर 12 बजे से होगी। इसके 6GB रैम + 64GB स्टोरेज वेरिएंट की कीमत 16,499 रुपये, 6GB + 128GB वेरिएंट की कीमत 17,999 रुपये और टॉप 8GB + 128GB वेरिएंट की कीमत 19,999 रुपये रखी गई है। ग्राहक इसे तीन कलर ऑप्शन- ऑरोरा ब्लू, ग्लेशियर वाइट और इंटरस्टेलर ब्लैक में खरीद पाएंगे। वैसे इस मोबाइल के साथ मिलाने वाले ऑफर्स की बात करें तो एयरटेल की ओर से 298 रुपये और 398 रुपये वाले प्लान्स में डबल डेटा बेनिफिट्स दिए जाएंगे। आपकी जानकारी के लिए बता दें भारत में अब रेड जोन्स को भी डिलीवरी के लिए ओपन कर दिया गया है, हालांकि, कुछ कंटेनमेंट जोन्स में अभी भी डिलीवरी नहीं हो पाएगी।

Continue Reading

टेक्नोलॉजी

भारत में सैमसंग के दो नए मोबाइल हुए लॉन्च, जानें फीचर्स और कीमत

Published

on

By

नई दिल्ली। सैमसंग गैलेक्सी M11 और गैलेक्सी M01 को आज भारत में दोपहर 12 बजे लॉन्च कर दिया गया है। सैमसंग गैलेक्सी  M11 पिछले वर्ष के गैलेक्सी M10 का अपग्रेड वर्जन तो है। तो वहीं सैमसंग गैलेक्सी M01 एक नया बजट फोन है। जानकारी के लिए बता दें कि गैलेक्सी M11 को मार्च के अंतिम में यूएई में लॉन्च कर दिया गया था।

वैसे सैमसंग गैलेक्सी M01 को लेकर ज्यादा जानकारी नहीं है। दोनों ही फोन्स को आज ही लॉन्च के बाद फ्लिपकार्ट और ऑफलाइन रिटेलर्स के माध्यम से सेल में भी उपलब्ध करा दिया जाएगा।

कीमत की बात करें तो एक मुंबई बेस्ड रिटेलर ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि गैलेक्सी M11 को दो वेरिएंट 3GB + 32GB और 4GB + 64GB में लॉन्च किया जा सकता है और इनकी कीमत क्रमश: 10,999 रुपये और 12,999 रुपये हो सकती है। वहीं,गैलेक्सी  M11 के 3GB + 32GB वेरिएंट की कीमत 8,999 रुपये हो सकती है।

गैलेक्सी M11 के दो वेरिएंट 3GB + 32GB और 4GB + 64GB में लॉन्च किया जा सकता है और इनकी कीमत क्रमश: 10,999 रुपये और 12,999 रुपये हो सकती है। वहीं, गैलेक्सी M01 के 3GB + 32GB वेरिएंट की कीमत 8,999 रुपये हो सकती है।

सैमसंग गैलेक्सी M11 को यूएई में पहले ही लॉन्च किया जा चुका है। ऐसे में इसके सारे स्पेसिफिकेशन्स पहले से ही मालूम हैं। डुअल-सिम (नैनो) सपोर्ट वाले इस स्मार्टफोन में 6.4-inch HD+ (720×1,560 पिक्सल) डिस्प्ले, ऑक्टा-कोर प्रोसेसर, 4GB तक रैम, 13MP प्राइमरी कैमरा, 8MP सेल्फी कैमरा, 32GB स्टोरेज, रियर माउंटेड फिंगरप्रिंट स्कैनर और 5,000mAh की बैटरी दी गई है।

फिलहाल सैमसंग गैलेक्सी M01 के बारे में अधिक जानकारी सामने नहीं आई है। फ्लिपकार्ट टीजर के अनुसार, ये फोन डुअल रियर कैमरा सेटअप के साथ आएगा। इसका प्राइमरी कैमरा 13MP का होगा। इसका सेल्फी कैमरा नॉच में मौजूद होगा।  इसकी बैटरी 4,000mAh की होगी।

Continue Reading

टेक्नोलॉजी

टिकटॉक के प्रतिद्वंद्वी मित्रों एप को गूगल ने प्ले स्टोर से हटाया, जानिए वजह

Published

on

By

नई दिल्ली। टिकटॉक के प्रतिद्वंद्वी के रूप मशहूर हो रहे मोबाइल एप मित्रों को गूगल ने प्ले स्टोर से हटा दिया है। इस एप को पाकिस्तान के एक डिवेलपर ने Tic-Tic नाम से बनाया था और बाद में भारत के आईआईटी स्टूडेंट ने इसे खरीद कर मित्रों नाम दिया था। गूगल ने ‘स्पैम एंड मिनिमम फंक्शनैलिटी’ पॉलिसी के उल्लंघन का दोषी बताते हुए यह कार्रवाई की है।

गूगल पॉलिसी पेज में कहा गया है कि ऐसे एप जो दूसरे एप से कंटेंट कॉपी करते हैं लेकिन उनमें कोई बदलाव नहीं करते या वैल्यू ऐड नहीं करते हैं, वे यह नियमों का उल्लंघन करते हैं। पॉलिसी में कहा गया है, ”हम ऐसे एप को स्वीकृति नहीं देते हैं जो गूगल प्ले स्टोर पर पहले से मौजूद एप जैसा ही अनुभव देते हैं। एप पर कंटेट या सर्विसेज यूनीक होने की आवश्यकता है।”

Qboxus के सीईओ और फाउंडर इरफान शेख ने न्यूज 18 को बताया कि आईआईटी स्टूडेंट की ओर से खरीदे जाने के बाद Tic Tic में कोई बदलाव नहीं किया गया। एप नाम बदलकर गूगल प्ले स्टोर पर मित्रों नाम से आ गया।

शेख ने कहा, ”डिवेलपर ने क्या किया है वह कोई समस्या नहीं है। उनसे स्क्रिप्ट के लिए पैसा दिया और यूज किया, जो ठीक है। लेकिन दिक्कत यह है कि लोग इसे भारत में निर्मित एप बता रहे हैं जो ठीक नहीं है। विशेषकर क्योंकि उन्होंने कोई बदलाव नहीं किया है।”

कुछ ही दिनों में इसे 50 लाख से अधिक लोगों ने डाउनलोड किया था। 11 अप्रैल को लॉन्च किया गया एप टिकटॉट की तर्ज पर वीडियो बनाने, एडिट और खुद के वीडियो अटैच करने का विकल्प देता है।

Continue Reading

Trending