Connect with us

राज्य

बिहार की दुर्दशा के लिए जिम्मेदार कौन, जनता या सरकार?

Published

on

संतोष राज पांडेय

यदि आपको बिहार की स्थिति समझनी है तो कभी फुर्सत में समय निकालकर दोपहर 1-1:30 बजे नयी दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या 14 पर जाइये ! आप में से बहुत लोगों ने यह दृश्य कभी नहीं देखा होगा । प्लेटफार्म के आगे और पीछे साइड सैंकड़ों लोग लाइन में लगे रहते हैं । भीड़ इतनी ज़बरदस्त कि उसे संभालने और किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए RPF के कई जवान तैनात रहते हैं । यह भीड़ बिहार के उन गरीब व्यक्तियों कि रहती है जो बिहार-संपर्क क्रांति एक्सप्रेस के सामान्य (जनरल) डिब्बे में चढ़ने आये होते हैं । 2:30 पर जो ट्रेन खुलती है उसके जनरल डिब्बे में चढ़ने भर कि जगह मिल जाये इसलिए ये लोग सुबह 10-11 बजे से ही लाइन लगाना आरम्भ कर देते हैं । इनका गंतव्य सीवान,छपरा, सोनपुर, मुजफ्फरपुर,सहरसा, समस्तीपुर एवं दरभंगा रहता है । RPF कि मौजूदगी के बावजूद मार-पीट, भगदड़, लाठीचार्ज बहुत ही सामान्य है ।

हर डब्बे में कम से कम 250 लोग

जनरल डिब्बे की क्षमता 100 लोगों की होती है, परन्तु हर डब्बे में कम से कम 250 लोग तो अवश्य रहते हैं । एक सीट पर चार कि जगह आठ लोग बैठते हैं तो नौवां आ कर कहता है, “थोड़ा घुसकिये जी, आगे-पीछे हो कर बैठिएगा तो थोड़ा जगह बनिए जाएगा । शौचालय से ले कर पायदान तक एक भी जगह खाली नहीं रहता । यदि आप एक बार अंदर चले गए तो शायद शौचालय जाने के लिए ऎसी जद्दोजहद करनी होगी कि शायद आधा-एक घंटा इसी में निकल जाए । यही स्थिति प्रायः बिहार जाने वाली सभी ट्रेन में रहती है – वैशाली एक्सप्रेस, विक्रमशिला एक्सप्रेस, सम्पूर्ण क्रांति एक्सप्रेस, स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस, महाबोधि एक्सप्रेस इत्यादि । यदि आप दिल्ली में नहीं रहते तो कोई बात नहीं । मुंबई, इंदौर, जालंधर, सूरत, अहमदाबाद, बैंगलोर एवं पुणे से जो ट्रेनें बिहार जाती हैं, आप उनमें भी यही स्थिति पाएंगे ।

बिहार में आपके लिए कुछ नहीं

बिहार में नौकरी नहीं है । यदि आप बिहार सरकार की नौकरी नहीं कर रहे तो बिहार में आपके लिए कुछ नहीं है । उद्योग का नामोनिशान नहीं है । आप मजदूर हों या मैकेनिक, अकाउंटेंट हों या मैनेजर, इंजीनियर हों या वैज्ञानिक, बिहार में आपके लिए कुछ नहीं है । यहां तक कि खेती करने वाले मजदूरों को भी पंजाब और हरयाणा आ कर बड़े किसानों के यहाँ मजदूरी करनी पड़ती है । दिल्ली में रिक्शा चलाने वाले, कंस्ट्रक्शन लेबर, इधर-उधर काम करने वाले मजदूर – अधिकतर बिहार के होते हैं । यही हाल देश के अन्य शहरों में है विशेष रूप से गुजरात, महाराष्ट्र, मध्य-प्रदेश और पंजाब ।

उद्योगों एवं नौकरियों पर क्रूरता से प्रहार

बिहार को सुनियोजित ढंग से ख़तम कर दिया गया । बिहार को जातिवाद की आग में सालों जलाया गया, गुंडागर्दी और रंगदारी को बेलगाम होने दिया गया, सभी उद्योगों एवं नौकरियों पर क्रूरता से प्रहार किया गया । प्रहार ऐसा कि आज तक बिहार नहीं उभर पाया है । सामजिक न्याय और समाजवाद के नाम पर लोगों को कहा गया कि सड़क और बिजली का कोई काम नहीं क्यूंकि सड़क पर गाड़ियां अमीरों कि चलती हैं और बिजली से मौज-मस्ती अमीरों के घर में होता है । यूनियन और गुटबाजी कर के सारे चीनी मिल और उद्योगों को बंद करा दिया गया । उद्योगपति, इंजीनियर, डॉक्टर, प्रोफेसर, शिक्षक, स्किल्ड मैकेनिक, एक-एक कर सभी बिहार छोड़ते चले गए । गाँव से जो अनवरत पलायन आरम्भ हुआ वो आज तक जारी है । सरकारों ने रोड और बिजली अवश्य दे दिया, परन्तु पिछले 13 वर्ष में उद्योग नहीं आरम्भ कर सके । इस कारण से आज भी बिहार में यदि कोई चारा है तो सरकारी नौकरी ही है । दुःख की बात यह है कि लोग समझते नहीं हैं कि सरकार सभी को सरकारी नौकरी नहीं दे सकती ।

उद्योगपति लूटेरे होते हैं

नौकरी का सबसे बड़ा स्रोत निजी क्षेत्र ही होता है । गुजरात, महाराष्ट्र, पंजाब, कर्णाटका, तमिल नाडु – ये सब वो राज्य हैं जहाँ बिहार के लोग नौकरी कि तलाश में जाते हैं – छोटी से छोटी नौकरी से लेकर बड़ी नौकरी तक । इसका कारण एक ही है – यह सभी राज्य industrialised हैं । बिहार में एक ऐसी धारणा बना दी गयी सालों तक कि उद्योगपति लूटेरे होते हैं, उद्योग लगाना एक डाका है । प्राइवेट मतलब लूट । इंडस्ट्री को लूट का पर्याय बना दिया गया । आज बिहार में आलम यह है कि लोग धक्के और ठोकर खाते हुए देश के विभिन्न राज्य में नौकरी करने जाएंगे, लेकिन जैसे ही उद्योग की बात करो सबसे पहले उद्योगपतियों को गाली देंगे । अपने आप में यह एक विचित्र विडम्बना है बिहार के इस समाज की ।

हम कब तक दूसरे राज्यों पर बोझ बनेंगे ?

जब तक कोई ऎसी सरकार नहीं आती बिहार में जिसका प्रमुख फोकस “Industrialization” हो, बिहार इसी गर्त में डूबा रहेगा । पलायन जारी रहेगा और जनता कि निराशा बढ़ती रहेगी । आज दिल्ली, मुंबई, जालंधर, सूरत, बैंगलोर, चेन्नई, इंदौर, पुणे जैसे शहर अपनी क्षमता से कई गुना अधिक बोझ उठाये हुए हैं । इस प्रेशर के कारण इन शहरों का इंफ्रास्ट्रक्चर भी चरमरा चूका है । यह शहर और लोगों को नहीं समा सकते । जब तक बिहार नहीं उठेगा, यह देश नहीं उठ सकता । हम कब तक दूसरे राज्यों पर बोझ बनेंगे ? हम कब तक घर से दूर ठोकर खाते फिरेंगे ? हम कब तक अपनी मिटटी से दूर सिर्फ जीवनयापन की तलाश में दर-दर भटकते फिरेंगे ? क्या बिहार कभी अपने उस स्वर्णिम दौर को पुनः प्राप्त कर सकेगा ? आज देश के जिस राज्य में जाता हूँ, उसका हाल बिहार से बेहतर ही पाता हूँ । यह पीड़ा शायद एक बिहारी ही समझ सकता है ।

जातिवाद का जहर फिर से न पनपने दीजिये

मेरी आप सभी से एक ही सलाह है – छद्म “सामाजिक न्याय” और “समाजवाद” के नाम पर जातिवाद का जहर फिर से न पनपने दीजिये । हमने इसे सालों झेला है और आज भी उसी पीड़ा का अनुभव कर रहे हैं । एक बिहार फिर भी किसी तरह से इसे संभाल रहा है । इस देश में ३० बिहार न होने दीजिये । हम कहीं के नहीं रहेंगे, हमारी अगली पीढ़ी केवल और केवल हमें कोसेगी । जो भाग सकते हैं, वो विदेश भाग जायेंगे या फिर कोई न कोई उपाय निकाल लेंगे । जो पिसेंगे वह मध्यम-वर्ग, निम्नमध्यम-वर्ग और गरीब तबका ही होगा । आज भी जो बिहार में अमीर हैं, उनकी जिंदगी में शायद ही कोई दिक्कत आया है । बिहार इस देश के लिए एक सीख है । इस देश में और बिहार न होने दीजिये । https://www.kanvkanv.com

राज्य

बहराइच : पशु वध करते हुए प्रयुक्त उपकरण के साथ आरोपी गिरफ्तार

Published

on

राधेश्याम मिश्र

बहराइच| अपराधों के रोकथाम एवं अपराधियों तथा वांछित आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु चलाये गये अभियान में  क्षेत्राधिकारी नगर  त्रयम्बक नाथ दुबे के  निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक प्रेम प्रकाश पांडेय की संयुक्त टीम ने मुखबिर  की सूचना पर थाना पुलिस द्वारा सलारगंज स्थित बन्द पड़ी वधशाला में अवैध रूप से  पशु का वध कर रहे आरोपीगण दोपहर समय 2:50 बजे नियमानुसार  गिरफ्तार किया गया एवं इस कृत्य में उपयोग किये जा रहे उपकरण को कब्जा पुलिस में लेकर सीलसर्वमुहर किया गया। पशु चिकित्साधिकारी द्वारा बरामद कटे अंगों का पोस्टमार्टम कराया गया एवं नगरपालिका की टीम द्वारा माल को दफनाने हेतु भिजवाया गया। गिरफ्तार आरोपीगण द्वारा न्यायालय में पेश किया गया है |
एसपी कार्यालय से मिली सूचना के अनुसार  आरोपीगण कोतवाली नगर अन्तर्गत, निवासी.मोहल्ला चॉदपुरा पुन्ना उर्फ इसरार अहमद पुत्र रुस्तम, और और सद्दाम पुत्र राशिद,तथा थाना दरगाह शरीफ मोहल्ला सलार गंज निवासी नसीर अहमद पुत्र रफीक को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है| पुलिस ने इनके पास से 4 छोरी, एक कुल्हाड़ी ,एक सूजा, 20 फीट कटे हुए काली खाल और एक भैंस की खाल बरामद किया है, इनके ऊपर आई पी सी की धारा429/505(1)बी505(1)सी सी के अन्तर्गत जेल भेजा है| https://www.kanvkanv.com
Continue Reading

राज्य

फतेहपुर : पीसीएस परीक्षा में किसान के बेटे प्रखर उत्तम ने हासिल किया प्रदेश में चौथा स्थान, जिले में खुशी

Published

on

उमेश चन्द्रा

फतेहपुर। जिले के बिंदकी तहसील के सेलावन गांव का रहने वाला प्रखर पीसीएस परीक्षा में चौथा स्थान लाकर पूरे गांव का मान बढ़ाया है। प्रखर को पीसीएस परीक्षा में यूपी में चौथा स्थान मिलने के बाद पूरे गांव में जश्न का माहौल है।

गांव वाले एक दूसरे को मीठा खिलाकर खुशियां मना रहे है। प्रखर के पिता पेशे से किसान है जो खेती किसानी कर प्रखर को इस मुकाम तक पहुंचाया। जिससे पूरा गांव किसान अनिल कुमार उत्तम को बधाई दे रहा है। प्रखर उत्तम शुरू से ही मेधावी छात्र थे। घर में खास सुविधाएं न होने के कारण उन्होंने कक्षा 6 से 12 तक की पढ़ाई अपने मामा कमल उत्तम के घर कानपुर नगर के दामोदर नगर में रहकर की वह किदवई नगर कानपुर के मदर टेरेसा के छात्र रहे।

इसके बाद उन्होंने दिल्ली से कंप्यूटर साइंस में बीटेक किया। वर्ष 2016 में उनका मुंबई के कस्टम अधिकारी पद पर सेलेक्शन हुआ, जिसके बाद वह अपने माता पिता को एप से लेकर मुम्बई चले गए। वर्ष 2016 में ही उन्होंने पीसीएस की परीक्षा दी थी जिसका प्री मेन और फाइनल रिजल्ट अब आया है।

प्रखर उत्तम इस समय मुंबई में मौजूद है उनसे बात की गई तो बताया कि उनकी माँ जो गांव में ही प्रिंसिपल थी जिनका सपना पीसीएस अधिकारी बनने का था लेकिन वह नही बन पाई और उन्होंने अपने बेटे को पीसीएस अधिकारी बनाने की ठान ली। जब बेटा पीसीएस अधिकारी बना तो पूरा परिवार खुशी से झूम उठा। वहीं इस सफलता का पूरा श्रेय प्रखर अपने किसान पिता और अपनी प्रिंसिपल माँ को दे रहे है। प्रखर के दादा, अशोक उत्तम व प्रखर की बड़ी माँ राजेश्वरी देवी और प्रखर के पड़ोसी वीरेंद्र और उनके गांव वालों से बात की तो उनका कहना था कि प्रखर के पीसीएस बनने से पूरे गांव ने खुशी का माहौल है औए हम सबकी कामना है कि प्रखर पीसीएस अधिकारी बनकर गांव वालों का सपना पूरा करे । https://www.kanvkanv.com

Continue Reading

राज्य

बहराइच : ईवीएम व वीवी पैट जागरुकता के लिए डीएम ने कराया माॅकपोल

Published

on

राधेश्याम मिश्र

बहराइच । आसन्न लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2019 के दृष्टिगत जनपद के मतदाताओं में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ई.वी.एम.) व वी.वी. पैट के प्रति जन-जागरूकता के उद्देश्य से 56-संसदीय निर्वाचन क्षेत्र बहराइच (अ.जा.) में 02 तथा 57-संसदीय निर्वाचन क्षेत्र कैसरगंज (आंशिक) में 01 कुल 03 वीडियो मोबाइल वाहनों के माध्यम से जन-जागरूकता अभियान संचालित किया जा रहा है।
मतदान केन्द्रों पर संचालित विशेष शिविर के निरीक्षण के लिए मतदान केन्द्र चाकूजोत पहुॅचे जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने मतदान केन्द्र पर मौजूद वीडियो मोबाइल वाहन के साथ उपलब्ध वी.वी. पैट युक्त ई.वी.एम. को मतदान केन्द्र पर मौजूद स्त्री-पुरूषों से अपने समक्ष माॅकपोल कराकर उन्हें वीवी पैट व ईवीएम को उपयोग करने के सम्बन्ध में व्यवहारिक जानकारी प्रदान की।

जानकारी प्रदान की जा रही

इस अवसर पर उन्होंने मौजूद लोगों से अपील की कि सभी लोग अपना नाम मतदाता सूची में अवश्य दर्ज करायें और मतदान के समय अपने मताधिकार का उपयोग अवश्य करें। उन्होंने कहा कि  भारत निर्वाचन आयोग की ओर से आमजन की जन-जागरूकता के लिए मोबाइल वाहन के माध्यम से वीवी पैट व ईवीएम संचालन की जानकारी प्रदान की जा रही है। जिलाधिकारी ने मौजूद लोगों से यह भी अपेक्षा की कि जो लोग यहाॅ पर मौजूद नहीं है उन्हें भी आप लोग वीवी पैट व ईवीएम के सम्बन्ध में ज़रूरी जानकारी अवश्य उपलब्ध करायें तथा अपने सम्पर्क में आने वाले लोगों को मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने तथा बिना किसी भय, दबाव व लालच के निर्भीक होकर मतदान में प्रतिभाग करने के लिए प्रेरित करें। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी राम सुरेश वर्मा व उप जिलाधिकारी सदर ज़ुबेर बेग सहित ग्राम स्तरीय अधिकारी व बूथ लेबिल अधिकारी मौजूद रहे। https://www.kanvkanv.com
Continue Reading
राज्य1 hour ago

बहराइच : पशु वध करते हुए प्रयुक्त उपकरण के साथ आरोपी गिरफ्तार

देश1 hour ago

घायल यात्री को कंधे पर लादकर 1.5 किलोमीटर दौड़ा सिपाही, बचाई जान, देखें लाइव वीडियो

राज्य1 hour ago

फतेहपुर : पीसीएस परीक्षा में किसान के बेटे प्रखर उत्तम ने हासिल किया प्रदेश में चौथा स्थान, जिले में खुशी

राज्य1 hour ago

बहराइच : ईवीएम व वीवी पैट जागरुकता के लिए डीएम ने कराया माॅकपोल

राज्य2 hours ago

बहराइच : तारा महिला व महाराज सिंह इण्टर कालेज परीक्षा केन्द्र का डीएम ने किया निरीक्षण

राज्य2 hours ago

25 फरवरी को शादी के पवित्र बंधन में बंधेंगी अदाकारा श्रद्धा सिंह

राज्य2 hours ago

कन्नौज : किसान सम्मान योजना का गोरखपुर से कल शुभारंभ करेंगे प्रधानमंत्री

राज्य2 hours ago

कन्नौज : भगवान हमेशा धर्म के साथ ही रहते है : आचार्य मृदुल कृष्ण

राज्य2 hours ago

कन्नौज : आंगनबाड़ी केंद्रों का नियमित निरीक्षण कर समय से निर्धारित बैठकें भी आयोजित कराएं : डीएम

राज्य2 hours ago

अयोध्या : भरतकुंड के पास दर्दनाक हादसा, पूर्व ब्लॉक प्रमुख के दो चालकों की मौत, भतीजा घायल

राज्य2 hours ago

लखीमपुर-खीरी : दुधवा जंगल में आपसी संघर्ष में नर गैंडे भीम की मौत

राज्य2 hours ago

देवीपाटन मंडल : विधिक साक्षरता शिविर का उद्देश्य अदालत से बाहर निकलकर जनता को न्याय देना : सचिव 

राज्य2 hours ago

भदोही में पटाखा कारोबारी के मकान में भीषण विस्फोट, 13 की मौत, थानाध्यक्ष-चौकी इंचार्ज निलंबित

राज्य2 hours ago

अयोध्या : शाहगंज बाजार में किशोरी ने फांसी लगाकर दे जान, घर में मचा कोहराम

देश5 hours ago

हमारी सरकार और मां भगवती पर भरोसा रखो, इस बार सबका हिसाब होगा, पूरा हिसाब होगा : पीएम मोदी

देश6 hours ago

PCS परीक्षा-2016 का रिजल्ट घोषित, कानपुर की जयजीत कौर फर्स्ट, टॉपर्स में ये 10 नाम

देश6 hours ago

इंस्पेक्टर को पकड़ने गई सीबीआई टीम पर ग्रामीणों ने किया हमला, दो अधिकारी घायल

देश7 hours ago

पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, लड़ाकू विमान ‘तेजस’ में उड़ाने भरने वाली बनीं पहली महिला, देखें 8 फोटो

खेल1 week ago

ICC के कहने पर जोंटी रोड्स ने चुने दुनिया के टॉप 5 फील्डर्स, इस भारतीय खिलाड़ी को बताया नंबर वन

राज्य1 week ago

यूपी में 64 IAS और 11 IPS व 58 PPS अफसरों के तबादले, 22 जिलों में नए डीएम, देखें पूरी लिस्ट

मनोरंजन4 weeks ago

रवि किशन की बेटी और पद्मिनी कोल्हापुरे के बेटे की जोड़ी फिल्मी परदे पर मचाएगी धमाल

देश1 week ago

पुलवामा में उरी से भी बड़ा आतंकी हमला, 20 जवानों के दूर तक बिखरे थे शव, देखें 20 भयावह तस्वीरें और वीडियो

देश1 week ago

पुलवामा आतंकी हमला : CRPF के 44 जवान शहीद, मोदी बोले-व्यर्थ नहीं जाएगा बलिदान, देखें वीडियो

राज्य3 weeks ago

सीतापुर : पीड़ित गिड़गिड़ाते रहे और रसूखदारों को रेवड़ी की तरह बांट दिए शस्त्र लाइसेंस

राज्य3 weeks ago

अय्याश दरोगा ने खाकी को किया शर्मसार, युवती के साथ रंगरेलिया मनाते वायरल हुआ वीडियो

मनोरंजन3 weeks ago

43 साल की कुंवारी एकता कपूर सरोगेसी से बनी मां, बेटे का हुआ जन्म, सोशल मीडिया पर ऐसे आए रिएक्शन

राज्य1 week ago

योगी आदित्यनाथ सरकार को बड़ा झटका, ओम प्रकाश राजभर ने छोड़ा मंत्री पद, CM को लिखा लेटर

देश4 weeks ago

भाजपा को झटका : प्रियंका गांधी की पहल पर कांग्रेस में शामिल होंगे वरुण गांधी!, मिलेगी ये बड़ी जिम्मेदारी

देश1 week ago

जम्मू-कश्मीर में CRPF के काफिले पर बड़ा आतंकी हमला, IED ब्लास्ट में 20 जवान शहीद, 45 घायल

टेक्नोलॉजी3 days ago

48 मेगापिक्सल कैमरे के साथ धूम मचाने को तैयार है रेडमी Note 7 pro, जानें इसके ख़ास फीचर्स

देश1 week ago

शहादत को सलाम : 22 दिन पहले ही पिता बने थे तिलक राज, खबर मिलते ही शोक में डूबा गांव

राज्य2 weeks ago

ESMA के बावजूद 20 लाख कर्मचारी ‘महाहड़ताल’ पर, काटा जाएगा वेतन

राज्य3 weeks ago

योगी के हेलिकॉप्टर को ममता सरकार ने उतरने के नहीं दी इजाजत, लखनऊ से फोन पर गरजे मुख्यमंत्री

देश1 week ago

एलओसी पर आईईडी ब्लास्ट में मेजर शहीद, 19 दिन बाद होनी थी शादी

राज्य6 days ago

यूपी में चली ‘तबादला एक्सप्रेस’, योगी सरकार ने 109 वरिष्ठ PCS अधिकारियों के किए तबादले, देखें लिस्ट

दुनिया2 weeks ago

शादी को हुए थे सिर्फ 3 मिनट, फिर दूल्हे ने किया ऐसा काम कि दुल्हन ने वहीं दे दिया तलाक

Trending