उत्तराखंड में कोरोना मरीजों को लेकर चौकाने वाला खुलासा, डेल्टा के 60 फीसद मरीज

उत्तराखंड में कोरोना मरीजों को लेकर चौकाने वाला मामला सामने आया है। पिछले दो महीनों के दौरान सामने आए कोरोना के केसों में 60 फीसदी मरीज डेल्टा वेरिएंट के मिले हैं। जबकि चालीस फीसदी मरीजों में कोरोना वायरस के नए म्यूटेशन पाए गए हैं।
 
उत्तराखंड में कोरोना मरीजों को लेकर चौकाने वाला खुलासा, डेल्टा के 60 फीसद मरीज 

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना मरीजों को लेकर चौकाने वाला मामला सामने आया है। पिछले दो महीनों के दौरान सामने आए कोरोना के केसों में 60 फीसदी मरीज डेल्टा वेरिएंट के मिले हैं। जबकि चालीस फीसदी मरीजों में कोरोना वायरस के नए म्यूटेशन पाए गए हैं। हालांकि टीकाकरण और हर्ड इम्युनिटी जैसी स्थिति से ट्रांसमिशन बेहद कम हो गया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से पिछले दो महीनों में राज्य के सभी जिलों से 400 के करीब सैंपल जांच के लिए देश की विभिन्न लैबों में जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजी गई।

इनकी रिपोर्ट अब विभाग को मिली है। विभाग के सूत्रों ने बताया कि इन चार सौ सैंपलों में से 250 में कोरोना की दूसरी लहर के लिए जिम्मेदार माने गए डेल्टा वेरिएंट से संक्रमित मिले हैं। जबकि अन्य 40 प्रतिशत सैंपलों में सामान्य कोरोना वायरस के साथ ही वायरए के नए म्यूटेशन एवाई सीरीज का संक्रमण मिला है। विदित है कि कोरोना वायरस में बहुत तेजी से म्यूटेशन हो रहे हैं।

ए वाई सीरीज के भी अभी तक 39 बदलाव सामने आ चुके हैं। हालांकि ये नए म्यूटेशन बहुत सामान्य हैं और इनसे फिलहाल लहर जैसा खतरा नहीं है। स्वास्थ्य विभाग के नोडल अफसर को वरिष्ठ विशेषज्ञ डॉ पंकज सिंह का कहना है कि राज्य में मिल रहे कोरोना के मरीज डेल्टा और ए वाई सीरीज के हैं और फिलहाल संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में है।