शहीद मेजर विभूति ढौंडियाल को मरणोपरांत शौर्य चक्र, 5 आ​तंकियों को उतारा था मौत के घाट

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 5 आतंकियों को मौत के घाट उतारने वाले शहीद मेजर विभूति ढौंडियाल को सोमवार को मरणोपरांत शौर्य चक्र से नवाजा गया।  दिल्ली में आयोजित अलंकरण समारोह में उनकी पत्नी लेफ्टिनेंट नितिका कौल और मां ने राष्ट्रपति से पुरस्कार ग्रहण किया।
 
Shaurya Chakra posthumously awarded to martyr Major Vibhuti Dhoundiyal
शहीद मेजर विभूति ढौंडियाल को मरणोपरांत शौर्य चक्र

देहरादून। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 5 आतंकियों को मौत के घाट उतारने वाले शहीद मेजर विभूति ढौंडियाल को सोमवार को मरणोपरांत शौर्य चक्र से नवाजा गया।  दिल्ली में आयोजित अलंकरण समारोह में उनकी पत्नी लेफ्टिनेंट नितिका कौल और मां ने राष्ट्रपति से पुरस्कार ग्रहण किया।

देहरादून निवासी विभूति ढौंडियाल जम्मू-कश्मीर में हुए 2019 में हुए सैन्य अभियान में शहीद हो गए थे। पुलवामा हमले के बाद जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ चले ऑपरेशन में शहीद हुए मेजर ढौंडियाल ने पांच आतंकियों को मार गिराया था।

शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल के नक्शेकदम पर चलते हुए उनकी नितिका कौल ने सेना की वर्दी पहनी है। मेजर विभूति के शहीद होने के बाद पत्नी निकिता ने पति के सपने को पूरा करने के लिए सेना में जाने का फैसला किया था।

निकिता ने दिसंबर 2019 में इलाहाबाद में वूमेन एंट्री स्कीम की परीक्षा दी थी। इसके बाद चेन्नई की ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी (ओटीए) से निकिता को कॉल लेटर आया और ट्रेनिंग पूरी कर निकिता ओटीए की पासिंग आउट परेड में बतौर लेफ्टिनेंट आधिकारिक रूप से सेना में शामिल हो गईं।