Mahant Narendra Giri Case:आनंद गिरि के हरिद्वार आश्रम में लगे सीसी कैमरों की DVR गायब, स्थानीय पुलिस सवालों के घेरे में

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले सीबीआई की जांच का दायरा उत्तराखंड तक पहुंच गया। मुख्य आरोपी आनंद गिरि को लेकर हरिद्वार पहुंची जांच एजेंसी ने वहां उसके आश्रम में छानबीन की। 
 
Mahant Narendra Giri death case

Mahant Narendra Giri death case

हरिद्वार / लखनऊ। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि  (Mahant Narendra Giri death case )की मौत के मामले सीबीआई की जांच का दायरा उत्तराखंड तक पहुंच गया। मुख्य आरोपी आनंद गिरि को लेकर हरिद्वार पहुंची जांच एजेंसी ने वहां उसके आश्रम में छानबीन की। 

आश्रम से आनंद गिरि का लैपटॉप, आईफोन आदि सामान बरामद कर लिया गया है। तहकीकात के दौरान सीबीआई को पता चला है कि आश्रम के सीसी कैमरों की डीवीआर (DVR) गायब है। बता दें कि सोमवार देर रात स्थानीय लोगों ने डीवीआर चुराकर भाग रहे शख्स को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया था। सीबीआई इस संदिग्ध से भी पूछताछ कर सकती है।

सूत्रों के मुताबिक ये DVR चोर के पास से पुलिस ने बरामद किया था लेकिन अब यह मिसिंग बताया जा रहा है। सीबीआई स्थानीय पुलिस की इस लापरवाही के प्रति काफी नाराज भी नजर आई। 

स्थानीय पुलिस की मंशा पर उठे सवाल 
आनंद गिरि के हरिद्वार स्थित आश्रम से डीवीआर गायब होने के बाद सीबीआई का संदेह और गहराया गया है। सीबीआई ने स्थानीय पुलिस से पूछा कि आनंद गिरि की गिरफ्तारी के बाद जब पुलिस ने उसके आश्रम को सील कर दिया था तो वहां चोर कैसे घुस गया? इस पूरे मामले में डीवीआर एक अहम सबूत है, पुलिस की मौजूदगी में उसके गायब होने की भनक किसी को कैसे नहीं लगी?


श्यामपुर पुलिस को फटकार 
श्यामपुर पुलिस से सीबीआई ने न सिर्फ सवाल पूछे बल्कि उन्हें फटकार भी लगाई। सीबीआई के मुताबिक डीवीआर में मौजूद रिकॉर्डिंग के जरिए आसानी से पता चल जाता कि महंत नरेंद्र गिरि की मौत के समय और उससे पूर्व उनके आरोपित शिष्य के आश्रम में क्या-क्या गतिविधियां चल रही थी. उन लोगों के बारे में भी जानकारी होती जो पिछले तीन-चार दिनों में आनंद गिरि से मिलने के लिए आश्रम आए थे.

आश्रम से मिले कई फोन
बुधवार को सीबीआई की एक टीम आनंद गिरि को फ्लाइट से लेकर देहरादून पहुंची थी. वहां से सीबीआई टीम आनंद गिरि को लेकर पांच गाड़ियों से हरिद्वार स्थित उनके आश्रम पहुंची. टीम को लीड सीबीआई के डीआईजी कर रहे थे. आश्रम के अंदर चले तलाशी अभियान के दौरान सीबीआई ने न केवल आनंद गिरि के आईफोन और लैपटॉप कब्जे में लिया बल्कि उनके चारों सेवादारों का मोबाइल भी जब्त कर लिया है. उनके आईफोन की डेटा रिकवरी कराने की तैयारी चल रही है.