Connect with us

उत्तराखंड

हरिद्वार से पवित्र छड़ी यात्रा बागेश्वर रवाना 

Published

on

हरिद्वार। श्रीपंच दशनाम जूना अखाड़ा के तत्वावधान में उत्तराखंड के सभी पवित्र तीर्थों तथा चारधाम की यात्रा के लिए निकाले जानी वाली पवित्र छड़ी यात्रा शनिवार सुबह पूर्ण विधि विधान के साथ हरिद्वार की अधिष्ठात्री देवी मायादेवी मन्दिर में पूजा अर्चना के पश्चात बागेश्वर के लिए रवाना हो गई।
प्रातः जूना अखाड़े के वयोवृद्ध संत पूर्व सभापति श्रीमहंत सोहन गिरि, छड़ी यात्रा के प्रमुख व अखाड़े के राष्ट्रीय सभापति श्रीमहंत प्रेमगिरि, सचिव श्रीमहंत महेश पुरी, सचिव श्रीमहंत शैलेन्द्र गिरि, कोठारी लाल भारती, कारोबारी महादेवानंद गिरि, पुजारी परमानंद गिरि आदि के सानिध्य में उप जिलाधिकारी गोपाल सिंह चैहान, हरिद्वार नगर कोतवाली प्रभारी अमरजीत सिंह, व्यापार मण्डल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कैलाश कैशवानी, पार्षद विनीत जौली ने मायादेवी मन्दिर में पवित्र छड़ी की पूजा अर्चना की। यहां से सभी लोग शोभायात्रा के रूप में श्रीभैरव मन्दिर,  श्री दुखहरण मन्दिर हनुमान घाट होते हुअ प्राचीन जूना अखाड़ा घाट पहुंचे। यहां पर मन्दिर के महंत उत्तम गिरि ने पवित्र छड़ी की पूजा-अर्चना की तथा हनुमान जी की चुनरी ओढ़ाकर स्वागत किया। गंगा स्नान के पश्चात छड़ी को स्थानीय नागरिकों व गणमान्य लोगों ने बागेश्वर के लिए रवाना किया।
बागेश्वर में पौराणिक बागनाथ महादेव के दर्शन तथा अन्य पवित्र मन्दिरों के दर्शनों के पश्चात गोमती तथा सरयू नदी के संगम में स्नान के पश्चात् 14 सितम्बर को वापस मायादेवी मन्दिर हरिद्वार पहुंजेगी। 15 सितम्बर को पवित्र छड़ी हरकी पैड़ी पर गंगा सभा द्वारा आयोजित गंगा पूजन के पश्चात दक्ष प्रजापति मन्दिर में पूजा अर्चना व नगर भ्रमण का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

Trending