हरिद्वार कुंभ में फर्जी कोरोना जांच: दो अफसरों पर गिरी गाज, सीएम धामी ने निलंबित किया

हरिद्वार कुंभ 2021 में हुए फर्जी कोरोना जांच घोटाले में दो बड़े अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है।
 
kumbh ma farzi corona testing
हरिद्वार कुंभ में फर्जी कोरोना जांच


देहरादून। हरिद्वार कुंभ 2021 में हुए फर्जी कोरोना जांच घोटाले में दो बड़े अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के आदेश पर मेला अधिकारी (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) डॉ. अर्जुन सिंह सेंगर और तत्कालीन प्रभारी (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) डॉ. एन के त्यागी को गुरुवार रात निलंबित कर दिया गया। यह कार्रवाई फर्जी जांच घोटाले की छानबीन के लिए हरिद्वार के जिलाधिकारी द्वारा गठित एक समिति की सिफारिश के आधार पर की गई है।

उल्लेखनीय है कि कोरोना जांच के नाम हुए इस फर्जीवाड़े की एसआईटी कर रही थी। एसआईटी और जिलाधिकारी के आदेश पर सीडीओ द्वारा की गई जांच की रिपोर्ट स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी व स्वास्थ्य मंत्री धनसिंह रावत तक पहुंची। जिस पर शासन द्वारा कड़ी कार्रवाई करते हुए तत्कालीन कुंभ मेला स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर अर्जुन सिंगर और नोडल अधिकारी एनके त्यागी को निलंबित करने के आदेश दिए गए हैं। दोनों ही अधिकारियों को कोरोना जांच में सही तरीके से निगरानी ना करने और बिना जांच के 30 लाख के बिल जारी करने के आरोप में निलंबित किया गया है।

आरोपित अधिकारियों द्वारा कोविड टेस्टिंग के लिये अनुबंधित संस्था के साथ गठजोड़ कर राज्य को वित्तीय हानि पहुंचाने और अनुशासनहीनता और लापरवाही बरतने पर मुख्यमंत्री ने कार्यवाही के निर्देश दिए हैं।