उत्तराखंड में कोरोना कहर: तीन लोगों की मौत, एक दिन रिकॉर्ड 630 केस, 4 जून के बाद सबसे ज्यादा केस मिलने हड़कंप

उत्त्तराखण्ड में गुरुवार को कोरोना से तीन की मौत से हड़कंप मच गया। रिकॉर्ड संख्या में 630 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। तीन में से दो मौत देहरादून व 1 मौत हरिद्वार में हुई। 4 जून (892) के बाद संक्रमितों की संख्या सबसे अधिक आयी है।
 
उत्तराखंड में कोरोना कहर: तीन लोगों की मौत, एक दिन रिकॉर्ड 630 केस, 4 जून के बाद सबसे ज्यादा केस मिलने हड़कंप
उत्तराखंड में कोरोना 

देहरादून। उत्त्तराखण्ड में गुरुवार को कोरोना से तीन की मौत से हड़कंप मच गया। रिकॉर्ड संख्या में 630 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। तीन में से दो मौत देहरादून व 1 मौत हरिद्वार में हुई। 4 जून (892) के बाद संक्रमितों की संख्या सबसे अधिक आयी है।

मामले की नजाकत देख विश्व प्रसिद्ध फारेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट पर्यटकों के लिए बन्द कर दिया गया है। मुख्य सचिव ने कोविड की व्यवस्था को लेकर बैठक की।

इसके अलावा पुराना आदेश रद्द करते हुए प्राइमरी क्लासेज पुराने व्यवस्था के तहत 3 घण्टे ही खुलेंगे। ग्राफिक एरा विवि ने ऑनलाइन पढ़ाई के आदेश दे दिए हैं।

मुख्य सचिव डाॅ. एस.एस. सन्धु ने गुरूवार को सचिवालय में कोविड की समीक्षा की। मुख्य सचिव ने कोविड की तीसरी लहर की सम्भावना को देखते हुए सभी जिलाधिकारियों को आवश्यक तैयारियां करने के दिशा निर्देश दिए। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने जनपदों में कोविड की स्थिति पर लगातार नजर बनाए रखी जाए। प्रतिदिन कोविड को लेकर उच्चाधिकारियों के साथ बैठक की जाए।

मुख्य सचिव ने कहा कि कोविड संक्रमण को रोकने हेतु कोविड अनुकूल व्यवहार का अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। लगातार आमजन में मास्क पहनने और सामाजिक दूरी बनाए रखने हेतु जन-जागरूकता फैलायी जाए, साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने वालों पर कार्रवाई भी की जाए।

उन्होंने निर्देश दिए कि टेस्टिंग बढ़ाए जाने के साथ ही नियमित तौर पर डाटा अपलोड किया जाए, ताकि स्थिति का सही से अनुमान लगाया जा सके। मुख्य सचिव ने सामान्य बेड, ऑक्सीजन बेड और वेन्टीलेटरयुक्त बेड की उपलब्धता बनाए रखने के निर्देश दिए। कहा कि सर्दियों में बर्फ से प्रभावित क्षेत्रों में कोविड के लिए सुनियोजित तरीके से कार्य करना होगा। ऐसे क्षेत्रों में सम्पर्क मार्ग अवरूद्ध हो जाने पर भी क्षेत्रवासियों को समस्या न हो इसके पूर्व में ही प्रबन्ध कर लिए जाएं।