UP बोर्ड का बड़ा फैसला, कोरोना काल में प्रोन्नत 10वीं और 12वीं के छात्र दे सकते हैं बोर्ड परीक्षा

कोरोना काल में यूपी बोर्ड ने सत्र 2021 के 10वीं और 12वीं के छात्रों को बिना परीक्षा लिए प्रोन्नत कर दिया था. अंक सुधार के लिए प्रदेश सरकार ने ऐसे छात्रों के हित में एक बड़ा फैसला लिया है. माध्यमिक शिक्षा परिषद ने ऐसे छात्रों को सत्र 2022 की बोर्ड में परीक्षा में नि:शुल्क शामिल होने का एक अवसर दिया है. परीक्षा में शामिल होने के इच्छुक छात्र 20 नवंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

 
UP
UP बोर्ड का बड़ा फैसला, कोरोना काल में प्रोन्नत 10वीं और 12वीं के छात्र दे सकते हैं बोर्ड परीक्षा

कोरोना काल में यूपी बोर्ड ने सत्र 2021 के 10वीं और 12वीं के छात्रों को बिना परीक्षा लिए प्रोन्नत कर दिया था. अंक सुधार के लिए प्रदेश सरकार ने ऐसे छात्रों के हित में एक बड़ा फैसला लिया है. माध्यमिक शिक्षा परिषद ने ऐसे छात्रों को सत्र 2022 की बोर्ड में परीक्षा में नि:शुल्क शामिल होने का एक अवसर दिया है. परीक्षा में शामिल होने के इच्छुक छात्र 20 नवंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कक्षा 10 एवं12 के संस्थागत एवं व्यक्तिगत विद्यार्थी अब बोर्ड परीक्षा फॉर्म 20 नवंबर तक ऑनलाइन भर सकते हैं. साथ ही कक्षा 9 व 11 के छात्र-छात्राओं के अग्रिम पंजीकरण हेतु आवेदन की अंतिम तिथि 20 नवंबर तक बढ़ा दी गई है. गौरतलब है कि यूपी बोर्ड इससे पहले 10वीं और 12वीं के परीक्षा फॉर्म भरने की तिथि 2 बार बढ़ा चुका है, लेकिन इसके बावजूद पिछले साल की तुलना में लगभग पौने 5 लाख कम अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है. ऐसे में एक बार फिर से छूटे हुए अभ्यर्थियों को बोर्ड परीक्षा फॉर्म भरने का अवसर दिया है.

माध्यमिक शिक्षा परिषद की 2022 की बोर्ड परीक्षा में 2021 के हाईस्कूल और इंटर के प्रोन्नत छात्र ही बैठ सकते हैं. परीक्षा में शामिल होने के इच्छुक छात्र 20 नवंबर तक नि:शुल्क ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. ऐसे छात्र जो 18 सितंबर से 6 अक्तूबर के बीच आयोजित अंक सुधार परीक्षा में शामिल हुए थे, वह इस परीक्षा के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं. अंक सुधार के लिए 2022 की परीक्षा में शामिल होने वाले  छात्रों को उत्तीर्ण होने का प्रमाण पत्र, सह अंकपत्र वर्ष 2021 का ही प्रदान किया जाएगा.