हरीश रावत और त्रिवेंद्र सिंह की मुलाकात से बढ़ी सियासी सरगर्मी , उत्तराखंड में कयासों का बाजार गर्म

पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बीच रविवार को डिफ़ेंस कॉलोनी में हुई मुलाकात ने उत्तराखंड में सियासी सरगर्मी बढ़ा दी है। 
 
Harish Rawat and Trivendra Singh meeting.webp
हरीश रावत और त्रिवेंद्र सिंह की मुलाकात से

देहरादून। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बीच रविवार को डिफ़ेंस कॉलोनी में हुई मुलाकात ने उत्तराखंड में सियासी सरगर्मी बढ़ा दी है। 

हालांकि पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट कर कहा कि हरीश रावत से चलते-चलते भेंट हुई। कोरोना के पश्चात उनके स्वास्थ्य में सुधार देखकर संतोष हुआ। स्वास्थ्य के बारे में पूछने पर उन्होंने अपने अंदाज़ में कहा- मैं स्वस्थ हूँ।

भले ही त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस मुलाकात को औपचारिक बताया है, लेकिन राजनीतिक हलकों में चुनाव से ठीक पहले इस मुलाकात के मायने निकाले जा रहे हैं। 
कहा जा रहा है कि हरीश रावत डिफेंस कॉलोनी में किसी काम से पहुंचे थे और फिर वहीं त्रिवेंद्र सिंह रावत उनसे मुलाकात के लिए पहुंच गए थे। इसके बाद से ही राज्य में कयास लगने लगे। 

त्रिवेंद्र सिंह रावत से इसी साल भाजपा नेतृत्व ने सीएम पद पद से इस्तीफा ले लिया था और फिर उनकी जगह पर तीरथ सिंह रावत को कमान दी गई थी। हालांकि दो महीने के ही अंतराल पर तीरथ सिंह रावत को भी पद छोड़ना पड़ा और युवा विधायक पुष्कर सिंह धामी को पार्टी ने सीएम की जिम्मेदारी सौंप दी।

 त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सीएम पद छोड़ने के दौरान नाराजगी भी जाहिर की थी। उन्होंने इस्तीफा लिए जाने को लेकर कहा था कि इस बारे में दिल्ली से ही पता चल सकता है कि मैंने इस्तीफा क्यों दिया है। ऐसे में अब उनकी हरीश रावत से मुलाकात को लेकर कयास लग रहे हैं।