अपडेट- लखनऊ में विधान भवन के गेट पर दरोगा ने खुद को गोली से उड़ाया, सुसाइड नोट में लिखा- सीएम साहब मेरे बच्चों का ध्यान रखियेगा

लखनऊ। विधान भवन गेट नम्बर सात पर सुरक्षा में तैनात दारोगा निर्मल कुमार चौबे ने सर्विस पिस्टल से गोली मारकर खुदकुशी कर ली। आत्महत्या करने वाले दारोगा के बैग से पुलिस को एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है। इसमें उन्होंने साफ लिखा है कि उनकी तबीयत ठीक नहीं रहती है। वे अपनी पत्नी और बच्चे को छोड़कर जा रहे हैं। मुख्यमंत्री जी मेरे बच्चों का ध्यान रखियेगा।

घटनास्थल पर पहुंचे जेसीपी लॉ एण्ड आर्डर नवीन अरोरा ने बताया कि बंथरा थाना में तैनात दारोगा चिनहट थाना क्षेत्र में परिवार के साथ रहते थे। विधान भवन में चल रहे सत्र के मद्देनजर गेट नम्बर सात पर भवन की सुरक्षा में उनकी ड्यूटी लगाई गयी थी। दोपहर में एक गोली चली है, जिसमें दारोगा निर्मल गंभीर रुप से घायल हो गये। साथी पुलिस कर्मियों ने घायल को इलाज के लिए आनन-फानन में सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

जेसीपी ने मौका मुआयाना किया और बताया कि इनके पास से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें इन्होंने खुद को बीमार बताया है और अपनी पत्नी व बच्चों को छोड़कर जाने की बात कही है। सर्विस पिस्टल से गोली चलने की बात पर उन्होंने कहा कि उनकी अपनी पिस्टल है। अभी तक शरीर में गोली मिली नहीं है। गोली उनके सीने को चीरते हुए निकल गई है। इसकी फॉरेंसिक जांच करायी जायेगी कि गोली उनके पिस्टल से चली है या नहीं। जो पुलिस को सुसाइड नोट मिला है उससे तो सौ प्रतिशत यह लग रहा है कि गोली दारोगा ने खुद ही चलाई है क्योंकि इसमें उन्होंने साफ लिखा है कि उनकी तबीयत ठीक नहीं है और वो पत्नी और बच्चे को छोड़कर जा रहे हैं।

सुसाइड नोट उनके बैग में ही मिला है। उन्होंने बताया कि मामले की जांच के लिए टीम को लगा दिया गया है जो भी जानकारी मिलेगी उसे साझा किया जायेगा। सभी पुलिस कर्मी अपनी-अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं।

मेरे बच्चों का ध्यान रखियेगा मुख्यमंत्री जी

पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने बताया कि ये सब इंस्पेक्टर निर्मल कुमार चौबे जो वाराणसी के चोलापुर निवासी थे। अभी तक जो जानकारी मिली है कि पुलिस को इनके पास से एक सुसाइड नोट मिला है। सुसाइड नोट में उन्होंने स्पष्ट रुप से लिखा है कि मेरी तबीयत खराब है। मैं जा रहा हूं मुख्यमंत्री जी मेरे ​बच्चों का आप ध्यान रखियेगा। कमिश्नर ने यह भी बताया कि सीसीटीवी फुटेज को भी देखा गया है दारोगा यहां पर बैठे हुए है और अचानक गिर पड़े। यहां ​पर किसी को भी आते-जाते नहीं देखा गया है।