Connect with us

उत्तर प्रदेश

राम मंदिर भूमिपूजन पर आतंकी साया, पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट

Published

on

लखनऊ। अयोध्या में पांच अगस्त रामजन्मभूमि पूजन कार्यक्रम हो रहा है। इसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ कई मंत्री-नेता और उद्योगपति शामिल होने वाले हैं। इसके मद्देनजर देश की खुफिया विभाग व सुरक्षा जांच एजेसियों को सतर्क रखा गया है। इन्हीं जांच एजेंसियों ने यूपी पुलिस को सचेत करते हुए कहा है कि इस दिन आतंकी हमला हो सकता है। इसके बाद पूरे प्रदेश को हाई अलर्ट कर दिया गया है। अयोध्या समेत आसपास जिलों की सीमाओं पर कड़ी सुरक्षा कर दी गयी है। दूसरे शहर से आने वालों वाहनों की संघन तलाशी ली जा रही हैं। नेपाल बार्डर सीमा पर तैनात सुरक्षा बलों को भी अलर्ट किया गया हैं। सेटेलाइट के जरिये नजर रखी जा रही हैं।

पहली बार अयोध्या आ रहे हैं पीएम मोदी

प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेन्द्र मोदी पहली बार अयोध्या आ रहे हैं। वह यह पर रामजन्मभूमि मन्दिर का भूमि पूजन के साथ शिलान्यास करेंगे। संयोगवश इसी दिन कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने की पहली वर्षगांठ भी है। इस कार्यक्रम पर भारत देश के अलावा पूरी दुनियां की निगाहें रहेंगी। इसको लेकर आयोध्या में पूरी तैयारी चल रही है।

लश्कर ए तैयबा और जैश ए मुहम्मद के आतंकी कर सकते हैं हमला

इस बीच भारत की खुफियां व सुरक्षा जांच एजेंसी से यह ​जानकारी मिली है कि पाकिस्तानी आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा और जैश ए मुहम्मद के आतंकी श्रीराम मंदिर भूमि पूजन से पहले अयोध्या में कुछ हरकत कर सकते हैं। इसके बाद गृहमंत्रालय ने पांच अगस्त से लेकर 15 अगस्त तक पूरे प्रदेश को हाई अलर्ट कर दिया हैं।
 
रामजन्मभूमि के आसपास भारी फोर्स को तैनात है। प्रशासनिक अफसर को छोड़ किसी को भी अनुमति नहीं हैं। शहर में जगह-जगह चेकिंग की जा रही है। दूसरे राज्य व शहरों से आने वालें वाहनों पर रोक लगा दिया गया हैं। यूपी एटीएस, एसटीएफ, सर्विलांस, साइबर व अन्य जांच एजेंसिया अपने-अपने स्तर से काम में जुटी हुई हैं।

आसपास जिलों में कड़ी चौकसी

डीजीपी मुख्यालय ने अयोध्या के अलावा आसपास के जिलों के पुलिस कप्तानों को भी सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रखने के निर्देश दिए हैं। सीतापुर, गोंडा, बहराइच, सुल्तानपुर, महाराजगंज अम्बेडकरनगर, बाराबंकी, सिद्धार्थनगर, आगरा, मथुरा, मेरठ, कानपुर, प्रयागराज, गोरखपुर, वाराणसी और लखनऊ समेत दर्जनभर शहरों को विशेष सर्तकता बरतने के निर्देश दिए हैं।सभी जिलों के बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, होटल, लॉज, ढाबा आदि स्थानों को अलर्ट पर रखा गया है।

नौ आईपीएस को कमान

डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने एडीजी अभियोजन आशुतोष पांडेय को अमेठी, एडीजी यातायात अशोक कुमार सिंह को गोंडा, एडीजी पीएसी राम कुमार को बहराइच, आईजी फायर सर्विसेज विजय प्रकाश को सुल्तानपुर, आईजी पीयूष मोरडिया को अंबेडकरनगर, आईजी बस्ती एके राय को बस्ती, आईजी भर्ती बोर्ड विजय भूषण को बाराबंकी, डीआईजी पीटीएस चंद्र प्रकाश (द्वितीय) को महराजगंज और डीआईजी प्रशासन आरके भारद्वाज को सिद्धार्थनगर जिले की सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी है।

सेटेलाइट से रहेगी नजर

रामजन्मभूमि कार्यक्रम को लेकर काफी सारी तैयारियों पुलिस की ओर से की जा चुकी है। अभेद्य सुरक्षा में रहेगी रामनगरी। अयोध्या में जगह-जगह हाई क्वावलिटी के सीसीटीवी कैमरे लगाने के साथ ही सेटेलाइट से नजर रखी जायेगी। डीजीपी मुख्यालय इन जिलों में तैनात सुरक्षा अधिकारियों से पल-पल की खबर ले रहा है। मुख्यमंत्री ने भी सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं।  

Trending