Connect with us

उत्तर प्रदेश

शिक्षक भर्ती: आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर ने एसटीएफ से की त्वरित कार्यवाही की मांग

Published

on

लखनऊ। आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर ने 69000 शिक्षक भर्ती मामले में त्वरित कार्यवाही की मांग की है। आईजी एसटीएफ अमिताभ यश को भेजे अपने पत्र में अमिताभ ने कहा कि शासन ने सम्यक विचारोपरांत बहुत उम्मीद एवं विश्वास के साथ यह जांच एसटीएफ को दी थी। लेकिन, अब तक इस मामले में अपेक्षित कार्यवाही नहीं हुई है। यहां तक कि मुख्य अभियुक्त चन्द्रमा यादव भी अब तक गिरफ्तार नहीं हुआ है।
अमिताभ ने कहा कि उन्होंने एसपी, एसटीएफ, प्रयागराज नीरज पाण्डेय को सैकड़ों की संख्या में साक्ष्य भेजे हैं, जिसमें अभिलेख, टिप्पणी, ऑडियो तथा विडियो रिकॉर्डिंग शामिल हैं। उन्होंने कहा कि थाना सोरांव, प्रयागराज के मुकदमे के अलावा भी शिक्षक भर्ती मामले में कई मुकदमे दर्ज हैं। इनमें 18 मुकदमों का उल्लेख स्वयं पीएनपी के सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी ने 06 जनवरी 2019 को शासन को भेजे गए पत्र में किया था। इनके अलावा भी प्रदेश के कई हिस्सों में इस भर्ती के पर्चा लीक के संबंध में एफआईआर दर्ज हुए।
अमिताभ ने कहा कि इनमे ज्यादातर मामलों में आधी-अधूरी कार्यवाही हुई है। इसलिए उन्होंने इन सभी मामलों को गहराई से देखते हुए अविलंब कार्यवाही किये जाने का अनुरोध किया है।

 

Trending