Connect with us

उत्तर प्रदेश

सपा के संस्थापक सदस्य रहे बेनी वर्मा के बेटे दिनेश का निधन ,कार्यकर्ताओं में शोक की लहर

Published

on

लखनऊ । समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक सदस्यों में से एक पूर्व केंद्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा के बेटे दिनेश वर्मा (48) का दिल्ली के एक अस्पताल में निधन हो गया। वह भण्डारण निगम लखनऊ में क्लर्क थे। उनकी मौत से सपा कार्यकर्ताओं और उनके समर्थकों में शोक की लहर दौड़ गई।

बीते 26 मार्च को लाकडाउन के दौरान ही लम्बी बीमारी से पीड़ित पूर्व केंद्रीय मंत्री व सपा के संस्थापक सदस्य रहे बेनी प्रसाद वर्मा का निधन हो गया था। दिनेश गोमती नगर रेलवे स्टेशन के पास रहते थे। 20 जून को उनकी तबीयत खराब हो गई थी। दिनेश के केजीएमयू में भर्ती कराया गया था। जहां वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

पांच दिन बाद उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया था। दिनेश वर्मा को फिर कुछ परेशानी हुई। वर्ष 2007 में उनकी माताजी ने किडनी दी थी, उसका ट्रांस्प्लांट किया गया था। दिनेश वर्मा को उसी के लेकर दिक्कत हुई। इसके बाद परिजन उन्हें  दिल्ली एस्कार्ट हास्पिटल गए। मंगलवार को करीब 12 बजे उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई। बताया जा रहा है कि वहां पर हुई जांच में भी वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

उत्तर प्रदेश

Locust attack on Lucknow, लखनऊ पर टिड्डियों का हमला, लखनऊ की जनता सहमी, किसान हुए परेशान

Published

on

लखनऊ । कोरोना वायरस के संक्रमण काल में उमस भरी गर्मी के बीच लखनऊ शहर पर आज टिड्डी दल ने भी अपना कहर बरपाया। करीब छह किलोमीटर लम्बा टिड्डी दल उन्नाव के रास्ते लखनऊ में घुसा।

टिड्डियों के हमले के साथ ही उत्तर प्रदेश के किसान परेशान हो गए हैं, जिसका कारन है की यह टिड्डि दल जहां भी जाता है वहां की फसलों को ख़राब कर देता है।


टिड्डियों का झुंड काकोरी के पहिया आजमपुर, तेज सिंह खेड़ा, दोना,नर्मदा खेड़ा जैसे गांव को पूरी तरह से ढक लिया है। किसान तेज आवाज कर अपने खेतों से भगा रहे हैं। खेतों पर बैठने नहीं दे रहे।

जिला कृषि अधिकारी ओपी मिश्रा के अनुसार केमिकल स्प्रे की व्यवस्था की जा रही है। टिड्डियों का यह दल कल संडीला की तरफ देखा गया था ।

टिड्डी दल को भगाने के लिए लखनऊ पुलिस के जवान भी सड़कों पर उतर आए। लगातार हूटर बजाकर उन्‍होंने इनको भगाया। टिड्डी दल लखनऊ से सटे बारांबकी में भी देखे गए। इससे भी ये उत्‍तर प्रदेश के कई शहरों में हमला बोल चुके हैं।

Continue Reading

उत्तर प्रदेश

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के गुर्गे की करोड़ों की सम्पत्ति जब्त 

Published

on

जौनपुर। यूपी पुलिस द्वारा प्रदेश के माफिया और गैंगस्टर व उनके करीबियों पर लगातार कार्रवाई की जा रही है। जिसके तहत जौनपुर में मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के गुर्गों पर पुलिस का शिकंजा कसता जा रहा है। रविवार को जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह के आदेश पर जौनपुर पुलिस ने उसके एक गुर्गे पर बड़ी कार्रवाई करते हुए उसकी करोड़ों की चल अचल सम्पत्ति जब्त कर लिया है।
मुनादी करवाते पुलिस के आला अधिकारी

डीएम ने सभी सम्पत्ति को जब्त करने का आदेश दिया

कार्रवाई से पूर्व पूरे मोहल्ले में डुगडुगी पीटा गया। इस दौरान भारी पुलिस फोर्स और पीएसी बल तैनात रही। जौनपुर नगर कोतवाली थाना क्षेत्र के जोगियापुर मोहल्ले के निवासी रविन्द्र निषाद काफी दिनों से अवैध रूप से मछली का व्यापार बड़े पैमाने पर करता चला आ रहा है। इस कारोबार से उसने अकूत सम्पत्ति एकत्रित कर रखा है। खुफिया विभाग की पुलिस ने जांच पड़ताल किया तो पता चला कि मछली व्यापारी का सम्बंध मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी से है, वह इस कारोबार के मुनाफे का कुछ हिस्सा अंसारी गैंग को देता है। जिस पर पुलिस ने उसके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। उसके बाद जांच पड़ताल में पता चला कि आरोपी रविन्द्र निषाद अवैध रूप कमाये गये पैसो से अपना एक आलीशान मकान बना रखा है तथा कारोड़ो रूपये की लागत से एक शापिंग मॉल का निर्माण करा रहा है। जांच पड़ताल के बाद डीएम ने सभी सम्पत्ति को जब्त करने का आदेश दिया।
कुर्की की नोटिस चस्पा करते हैं राजस्व विभाग के लोग

इतनी है संपत्ति

रविवार को एसपी सिटी संजय कुमार व क्षेत्राधिकारी नगर सुशील कुमार सिंह के नेतृत्व में भारी पुलिस फोर्स और पीएसी बल के साथ मौके पर पहुंचकर उसकी सभी सम्पत्ति को सीज कर दिया। इस सम्बंध में जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक शहर संजय कुमार ने बताया कि रविन्द्र निषाद के ऊपर गैंगस्टर के तहत कार्यवाही किया गया था। जानकारी करने पर मालूम हुआ कि यह मछली का व्यवसाय करता है और इसमें मुख्तार अंसारी का शेयर रहता है। गैंगस्टर के तहत कार्रवाई करते हुए दो लोगों को जेल भेजा जा चुका है। इसी क्रम में जिलाधिकारी के आदेश पर इसकी सभी संपत्ति को कुर्क किया गया है। इस संपत्ति में है इसका भाई अरविंद निषाद, पत्नी गुंजा शामिल है। साथ ही लगभग 14 लाख रुपए बैंक खाते में है, दो मकान एक शॉपिंग मॉल और दो पिकअप गाड़ियां शामिल है। अन्य संपत्ति और पैसों की तलाश की जा रही है।
Continue Reading

उत्तर प्रदेश

योगी के मंत्री उपेंद्र तिवारी भी कोरोना पॉजिटिव, लखनऊ में मिले 75 नए केस, सीओ की मौत

Published

on

लखनऊ। प्रदेश में अनलॉक के दौरान कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। माननीयों के बीच भी कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। ग्राम्य विकास मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह ‘मोती सिंह’, आयुष मंत्री डॉ. धर्म सिंह सैनी, सैनिक कल्याण, होमगार्ड्स, प्रान्तीय रक्षक दल व नागरिक सुरक्षा मंत्री चेतन चौहान के बाद अब खेल एवं युवा कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेंद्र तिवारी भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

सम्पर्क में आए लोग भी जरूर कराएं जांच-मंत्री

उनकी शनिवार को राजधानी के सिविल अस्पताल में जांच करायी गई थी, जिसकी रिपोर्ट आज पॉजिटिव आ गई है। मंत्री ने इसकी जानकारी देते हुए ट्वीट किया कि आज सुबह मेरी कोरोना संक्रमण की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। डॉक्टरों की निगरानी में उपचार चल रहा है। विगत 10 दिनों में मेरे संपर्क में आए लोगों से अनुरोध है कि अपनी कोरोना टेस्टिंग जरूर कराएं।

लखनऊ में मिले 75 नए केस

राजधानी की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में शनिवार को जांच किये गए 3,977 नमूनों में 179 की रिपोर्ट रविवार को पॉजिटिव आई। इनमें लखनऊ के 75, संभल के 37, मुरादाबाद के 24, बाराबंकी के 21, शाहजहांपुर के 08, मथुरा के 07, हरदोई के 05 और गाजीपुर व लखीमपुर खीरी का 01-01 रोगी शामिल है। इसके साथ ही कई अन्य प्रयोगशालाओं की रिपोर्ट में भी कोरोना के नए मामलों की पुष्टि हुई है।

सीओ की मौत

वहीं हरदोई में सीओ हरियावां (सदर) नागेश मिश्रा करीब दस दिन पहले बीमार हो गए थे। निमोनिया होने पर उनका इलाज चल रहा था। इसी बीच जिला अस्पताल में उनका ट्रूनेट कोरोना टेस्ट कराया गया जो कि निगेटिव आया। इसके बाद भी हालत में सुधार न होने पर लखनऊ रेफर कर दिया गया। यहां कोरोना जांच में उनमें संक्रमण की पुष्टि हुई। हालत में सुधार न होता देख शनिवार को उनको केजीएमयू से संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में भेजा गया। जहां वह वेंटिलेटर पर थे। रविवार की सुबह उनका निधन हो गया।

परिवार समेत सांसद क्वारंटाइन

लखीमपुर में धौरहरा सांसद रेखा वर्मा के परिवार के एक सदस्य की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इसके बाद परिवार समेत सांसद क्वारंटाइन यानि एकांतवास में हैं।
Continue Reading

Trending