हिरासत में सपा एमएलसी: इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन 'पम्पी' से टैक्स चोरी मामले में पूछताछ कर रहा आयकर विभाग

उत्तर प्रदेश के कन्नौज में इत्र कारोबारी और समाजवादी पार्टी (सपा) के विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) पुष्पराज जैन उर्फ 'पम्पी' को टैक्स चोरी के मामले में आयकर विभाग ने सोमवार को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। 
 
 Income tax raid at SP MLC and perfume trader Pushpraj Jain
सपा एमएलसी पुष्पराज जैन: आयकर विभाग 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कन्नौज में इत्र कारोबारी और समाजवादी पार्टी (सपा) के विधान परिषद सदस्य (एमएलसी) पुष्पराज जैन उर्फ 'पम्पी' को टैक्स चोरी के मामले में आयकर विभाग ने सोमवार को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। 

पुष्पराज जैन के कन्नौज स्थित आवास एवं अन्य ठिकानों पर पिछले चार दिनों से छापेमारी चल रही है। सूत्रों के अनुसार आयकर विभाग की टीम ने सोमवार की सुबह पुष्पराज जैन को हिरासत में लिया। इसके बाद उन्हें कानपुर लाया गया है। 
सूत्रों की मानें तो आयकर विभाग की टीम पम्पी को उसके कानपुर में रानी घाट चौराहे पर स्थित आवास रतन प्रेसिडेंसी आवास लेकर पहुंची है। पम्पी और उसके भाई अतुल जैन से पूछताछ के साथ ही आयकर की छापेमारी अभी भी जारी है। समझा जाता है कि आवासीय सोसाइटी रतन प्रेसिडेंसी में स्थित जिस फ्लैट में पम्पी को लेकर आयकर विभाग की टीम पहुंची है वह उसके छोटे भाई अतुल जैन का है और इसे पिछले दिनों सील किया गया था। सूत्रों ने बताया कि अब तक की जांच में आयकर विभाग को पम्पी के 10 करोड़ रुपये की फर्जी खरीद के बिल और 10 करोड़ की बोगस एंट्री के दस्तावेज मिले हैं। इनकी जांच की जा रही है। 

आपको बता दें कि सपा एमएलसी पुष्पराज जैन के ठिकानों से आयकर विभाग को तीसरे दिन दस करोड़ रुपये की फर्जी खरीद और दस करोड़ की बोगस इंट्री के दस्तावेज मिले हैं, इनकी जांच की जा रही है। इससे पहले मिडिल ईस्ट से करीब 40 करोड़ रुपये के निवेश के कागजात पाए गए थे। आयकर विभाग ने पम्पी जैन और मलिक ग्रुप के कानपुर, कन्नौज, लखनऊ, दिल्ली, मुंबई और हाथरस के 35 परिसरों पर छापेमारी की थी। रविवार तक कानपुर और लखनऊ सहित 23 परिसरों की जांच हो गई। अभी भी 12 और जगहों पर छानबीन चल रही है।