सुपरटेक के ट्विन टॉवर मामले की जांच करेगी एसआईटी,सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद योगी सरकार सख्त

नोएडा स्थित सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के ट्विन टॉवर  मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी सख्त रवैया अख्तियार कर लिया है।
 
cm yogi new pic
सुपरटेक ट्विन टॉवर

लखनऊ। नोएडा स्थित सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के ट्विन टॉवर  मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी सख्त रवैया अख्तियार कर लिया है। सीएम योगी ने गुरुवार को इस मामले की जांच के लिए शासन स्तर पर एक एसआईटी (स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम) के गठन के लिए आदेश जारी कर दिए हैं।

 ये एसआईटी साल 2004 से 2017 तक इस प्रकरण से जुड़े रहे प्राधिकरण के अफसरों की सूची बनाकर जवाबदेही तय करेगी. सीएम योगी ने मामले में दोषी पाए गए अफसरों पर कड़ी कार्रवाई करने के अभी आदेश दिए हैं.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में नोएडा अथॉरिटी के तत्कालीन अधिकारियों और ग्रुप (सुपरटेक) के बीच मिलीभगत की बात कही थी। बीते मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने नोएडा स्थित सुपरटेक एमराल्ड कोर्ट के 40 फ्लोर वाले अवैध ट्विन टॉवर को गिराये जाने के आदेश दिए थे। सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश के साथ नोएडा अथॉरिटी पर टिप्पणी भी की थी। शीर्ष अदालत ने कहा कि प्रॉजेक्ट में जो भी गड़बड़ी हुई हैं कहीं न कहीं उसके लिए नोएडा अथॉरिटी के अधिकारी जिम्मेदार हैं, लेकिन यह पूरा प्रकरण 2012 और उसके पहले का है। सुप्रीम कोर्ट की इस टिप्पणी के बाद से ही सीएम योगी ने भी सख्ती दिखाई है।