आराधना मिश्रा मोना की रिहाई के लिए प्रदेश भर में प्रदर्शन, सड़क पर उतरे कांग्रेस कार्यकर्ता

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के चेयरमैन शाहनवाज आलम की गिरफ्तारी और हजरतगंज कोतवाली में कार्यकर्ताओं पर पुलिसिया कार्यवाही के खिलाफ राजधानी समेत प्रदेश भर में कांग्रेस का धरना प्रदर्शन हुआ।

 

लखनऊ में प्रदर्शन के दौरान यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और विधानसभा में पार्टी विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा मोना को हिरासत में ​ले लिया गया।

मोना की रिहाई के लिए प्रयागराज में भी जोरदार प्रदर्शन

आराधना मिश्रा की रिहाई की मांग को लेकर प्रयागराज में भी जोरदार प्रदर्शन हुआ। पुलिस और सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे कार्यकर्ताओं ने मोना को तुरंत छोड़े जाने की मांग की।

प्रदर्शन के दौरान जिलाध्यक्ष राम किशन पटेल, शहर अध्यक्ष नफीस अनवर, मुकुंद तिवारी, श्रीश चंद्र दुबे, हसीब अहमद, विवेकानंद पाठक, सुरेश यादव, अनिल कुशवाहा, सुशील तिवारी, सिपटैन बबलू, जितेंद्र कुमार, अनिल पाण्डेय, इरशाद उल्ला, रिंकू तिवारी, अरशद अली, बृजेश गौतम, गिरफ्तारी दी।

इस दौरान बालेन्द्र भूषण मिश्र, मीनू तिवारी, रोहन सिंह, परवेज़ सिद्दीकी, आदि सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने  प्रदर्शन में भाग लिया।

मोना के लिए प्रतापगढ़ में सड़क पर उतरे कार्यकर्ता

वहीं प्रतापगढ़ जिले में भी मोना की रिहाई को लेकर प्रदर्शन हुआ। उनके विधानसभा क्षेत्र रामपुर खास में सैकड़ों की तादाद में कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। सभी ने भाजपा सरकार और पुलि की ​कार्रवाई की निंदा की। उनका कहना था कि पुलिस कांग्रेस कार्यकताओं को जान बूझ कर निशाना बना रही है। प्रदर्शन में ज्ञान प्रकाश शुक्ल, सन्तोष द्विवेदी, रामू मिश्रा, राजेश विश्वकर्मा, प्रितेंद्र ओझा, आकाश मिश्र, भूपेंद्र यादव, इन्द्रमणि यादव, रामराज वर्मा, कमलेश सिंह, तौफीक अंसारी, त्रिभुवन तिवारी समेत भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Previous articleविधायक अमनमणि ने रचाई दूसरी शादी, मध्‍य प्रदेश की ओशिन के साथ बंधन में बंधे
Next articleउत्तराखंड: शादी में जा रही कार नदी में गिरी, तीन की मौत