Home राज्य उत्तर प्रदेश डॉ. कफील की रिहाई के लिए प्रियंका की चिट्ठी, CM योगी को...

डॉ. कफील की रिहाई के लिए प्रियंका की चिट्ठी, CM योगी को याद दिलाया उन्हीं के गुरु का मंत्र

लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक बार फिर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है। इस बार उन्होंने गोरखपुर के डॉ कफील खान के लिए न्याय की मांग की है। पत्र में गुरु गोरखनाथ के एक दोह का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि अगर सामने वाला जल रहा हो तो आप पानी बनकर उसे शांत करें।

पत्र में लिखी ये बात

प्रियंका गांधी ने अपने पत्र में लिखा है, ‘मैं डॉक्टर कफील खान का मामला आपके संज्ञान में लाना चाहती हूं। वो अब तक 450 दिन से भी अधिक समय जेल के अंदर गुजार चुके हैं। डॉ कफील ने कठिन परिस्थितियों में नि:स्वार्थ भाव से लोगों की सेवा की है।’ प्रियंका ने उम्मीद जताई कि सीएम योगी आप संवेदनशीलता का परिचय देते हुए डॉ कफील को न्याय दिलवाने का पूरा प्रयास करेंगे।

गोरखनाथ के दोहे का किया जिक्र

कांग्रेस महासचिव ने पत्र में गुरु गोरखनाथ के एक दोहे का भी जिक्र किया है। उन्होंने लिखा- “मन में रहिणां, भेद न कहिणा, बोलिबा अमृत वाणी, अगिला अगनी होईबा, हे अवधू तौ आपण होईबा पार्णी।” अर्थात, किसी से भेद न करो, मीठी वाणी बोलो। यदि सामने वाला आग बनकर जल रहा है तो हे योगी तुम पानी बनकर उसे शांत करो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

अयोध्या में मेहमानों के पहुंचने का सिलसिला शुरू

अयोध्या। रवीन्द्र पाण्डेय"रवि" रामजन्मभूमि स्थल पर बुधवार को होने वाले श्रीराम मंदिर के भूमिपूजन के मद्देनजर ख्यातिनाम धर्म गुरुओं और विशिष्ठ मेहमानों का अयोध्या पहुँचने...

महानायक अमिताभ बच्चन को अमूल ने खास अंदाज में दी बधाई

मुंबई । महानायक अमिताभ बच्चन कोरोना से जंग जीतकर घर लौट चुके हैं। बिग बी अब होम क्वारंनटीन में हैं और घर पर ही...

नकली सोने का कारोबार करने वाला कारोबारी पैसों के साथ गिरफ्तार

नगांव (असम) । नगांव जिला के सदर पुलिस थाना की टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर अभियान चलाकर नकली सोने के कारोबार में...

अयोध्या : रामलला के दरबार में आने वाले पहले प्रधानमंत्री होंगे नरेंद्र माेदी

अयाेध्या। वैसे तो देश की आजादी के बाद से कई प्रधानमंत्रियाें का अयाेध्या आगमन हुआ है लेकिन किसी ने भी रामलला के दरबार जाकर...