Manish Gupta Murder Case: फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलेगा मामल,यूपी कानून मंत्री बोले- सरकार पीड़ित परिवार के साथ

गोरखपुर में पुलिस की पिटाई से मरने वाले कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता (Manish Gupta Murder Case) की मौत के मामले में यूपी के कानून मंत्री बृजेश पाठक में बड़ा बयान दिया है। 
 
UP Law Minister Brijesh Pathak.webp
Manish Gupta Murder Case

लखनऊ। गोरखपुर में पुलिस की पिटाई से मरने वाले कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता (Manish Gupta Murder Case) का अंतिम संस्कार मौत के 53 घंटे बाद गुरुवार सुबह हुआ। अब इस मामले में यूपी के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक का बड़ा बयान सामने आया है। बृजेश पाठक ने कहा कि इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाया जाएगा।

कानून मंत्री पाठक ने कहा, 'किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं है, चाहे वह पुलिसकर्मी हो या उच्च पदों पर आसीन कोई अन्य व्यक्ति। इस मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाया जाएगा। सरकार पीड़ित परिवार के साथ खड़ी है। हम उनकी मांगों को सुनेंगे।'

मनीष गुप्ता की मौत को कानून मंत्री ने दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताया। उन्होंने कहा कि सरकार ने मामले को गंभीरता से लिया है। सीएम ने 6 निलंबित पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के निर्देश दिए हैं और हम उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे।