Lakhimpur Violence Case: गाड़ी से कुचल कर मारे गए किसानों की अंतिम अरदास में उमड़ी भारी भीड़, प्रियंका गांधी भी शामिल

लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा (Lakhimpur Violence Case) में मारे गए चार किसानों व एक पत्रकार को श्रद्धांजलि देने के लिए तिकुनिया में अंतिम अरदास कार्यक्रम के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ी।
 
Priyanka Gandhi attended the last prayer of farmers in Lakhimpur new
Lakhimpur Violence Case

लखीमपुर खीरी । उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा (Lakhimpur Violence Case) में मारे गए चार किसानों व एक पत्रकार को श्रद्धांजलि देने के लिए तिकुनिया में अंतिम अरदास कार्यक्रम के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ी। कार्यक्रम में यूपी के अलावा पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और छत्तीसगढ़ से करीब 50 हजार किसान पहुंचे हैं।

अरदास में आई भीड़।

 वहीं अंतिम अरदास और अस्थि कलश यात्रा को लेकर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। पीएसी, पैरामिलिट्री, आरएपफ और एसएसबी को भी शहर से लेकर तिकुनिया तक मुस्तैद किया गया है। ड्रोन कैमरों से निगरानी की जा रही है। 
इससे पहले लखीमपुर खीरी जा रहे राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी को बरेली एयरपोर्ट पर करीब एक घंटे नजरबंद कर रखा गया। बाद में जाने की परमिशन मिली है। इस दौरान रालोद कार्यकर्ताओं ने एयरपोर्ट के बाहर प्रदर्शन भी किया।

कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी भी अंतिम अरदास कार्यक्रम में शामिल हुईं। उधर कल पार्टी के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल कल लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेगा। कांग्रेस ने राष्ट्रपति कार्यालय से समय मांगा था, जिसे मंजूर कर लिया गया है।