डांस टीचर की घिनौनी मानसिकता का हुआ खुलासा, लड़कियों के साथ अश्लील हरकत

कानपुर. दबौली निवासी डांस टीचर हिमांशु सोनी उर्फ आर्यन का घिनौना चेहरा सामने आया है। एकेडमी में डांस सीखने आने वाली कई किशोरियों के साथ उसने अश्लीलता की और वीडियो बना ली। डांस टीचर की घिनौनी मानसिकता का खुलासा तब  हुआ जब दुष्कर्म पीड़ित एक किशोरी के परिजनों ने उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। आरोपी ने किशोरी के तीन अश्लील वीडियो बनाए थे पुलिस ने जब उसका मोबाइल जप्त किया तो  अन्य किशोरियों के 11 अश्लील वीडियो मिले इन वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर डांस टीचर ने इन परिजनों से भी हजारों रुपए ऐठे थे। 

 
kk
ऐसे पकड़ में आया आरोपी डांस टीचर

कानपुर. दबौली निवासी डांस टीचर हिमांशु सोनी उर्फ आर्यन का घिनौना चेहरा सामने आया है। एकेडमी में डांस सीखने आने वाली कई किशोरियों के साथ उसने अश्लीलता की और वीडियो बना ली। डांस टीचर की घिनौनी मानसिकता का खुलासा तब  हुआ जब दुष्कर्म पीड़ित एक किशोरी के परिजनों ने उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई। आरोपी ने किशोरी के तीन अश्लील वीडियो बनाए थे पुलिस ने जब उसका मोबाइल जप्त किया तो  अन्य किशोरियों के 11 अश्लील वीडियो मिले इन वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर डांस टीचर ने इन परिजनों से भी हजारों रुपए ऐठे थे। 

गुजैनी निवासी हिमांशु सोनी आर वन नाम से डांस एकेडमी चलाता है गुजैनी की भी एक नाबालिग किशोरी उसके यहां डांस सीखने जाती थी किशोरी के मुताबिक हिमांशु ने झांसे में लेकर उसके साथ दुष्कर्म किया इतना ही नहीं अश्लील वीडियो बनाया और उसे वायरल करने की धमकी देकर रुपए मांगे धमकी से डरकर उसने अपने पिता के मोबाइल से गूगल पर के जरिए उसके द्वारा बताए गए खाते हुए कई बार में ₹19000 भेज दिए जानकारी होने पर उसके पिता ने आरोपी के खिलाफ थाने में तहरीर दी थाना प्रभारी रोहित तिवारी ने बताया कि दुष्कर्म पॉक्सो एक्ट धमकी ब्लैकमेल समेत अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी हिमांशु को जेल भेज दिया गया है।

ऐसे पकड़ में आया आरोपी डांस टीचर

पुलिस ने बताया कि खाते से ₹19000 गायब होने पर किशोरी के पिता ने गोविंद नगर थाने में धोखाधड़ी व आईटी एक्ट की धारा में अज्ञात के खिलाफ साइबर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी जांच थाने भेजी गई तो पुलिस पड़ताल में जुटी बैंक डिटेल निकाली तो पता चला कि रुपए रतनलाल नगर निवासी जसवंत के खाते में भेजे गए हैं पुलिस ने जब जसवंत ने पूछताछ की तो उसने बताया कि आर्यन ने किसी स्टूडेंट की फीस  उसके खाते में डलवाई थी जो बाद में आर्यन को दे दिए थे। उसके बाद पुलिस ने आर्यन को हिरासत  में लेकर पूछताछ की तो मामला सामने आया। किशोरी ने भी बताया कि उसने पिता के मोबाइल से आर्यन के बताए खाते में रुपए भेजे थे।