मुख्यमंत्री योगी ने दिखाया बड़ा दिल, उत्तराखंड के साथ 21 साल से चल रहा परिसंपत्ति विवाद खत्म

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ लखनऊ में मुलाकात की। सीएम योगी के कालिदास मार्ग स्थित सरकारी आवास पर हुई इस मुलाकात में दोनों राज्यों 21 साल पुराने परिसंपत्ति विवाद का हल ​निकाल लिया गया। 
 
 Meeting between Chief Minister Yogi Adityanath and Uttarakhand Chief Minister Pushkar Singh Dhami
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

लखनऊ। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ लखनऊ में मुलाकात की। सीएम योगी के कालिदास मार्ग स्थित सरकारी आवास पर हुई इस मुलाकात में दोनों राज्यों 21 साल पुराने परिसंपत्ति विवाद का हल ​निकाल लिया गया। 

बैठक के बाद मुख्यमंत्री धामी ने बताया कि बैठक में दोनों राज्यों के बीच 21 साल से चल रहा विवाद खत्म हो गया है। मुख्यमंत्री योगी ने बड़ा दिल दिखाते हुए विवादों के निपटारे पर अपनी सहमति दी है। दोनों राज्य बड़े भाई-छोटे भाई जैसे हैं। इस निर्णय से दोनों ही राज्यों के लोगों को उनका हक मिलेगा।


उन्होंने बताया कि 5700 हेक्टेयर भूमि पर संयुक्त सर्वे होगा। जो जमीन यूपी के काम की है वो यूपी को मिल जाएगी शेष उत्तराखंड को मिल जाएगी। यूपी सरकार बनवास-किच्छा बैराज का पुननिर्माण कराएगी। हरिद्वार का होटल उत्तराखंड को मिल जाएगा। किच्छा में बस स्टॉप की जमीन उत्तराखंड को मिल जाएगी।


यूपी सरकार ने वाटर स्पोर्ट को भी शुरू करने की अनुमति दे दी है। जबकि कुछ मुद्दों के निपटारे के लिए 15 दिन का समय मांगा गया है। यूपी सरकार उत्तराखंड कोर्ट में चल रहे मुकदमें वापस लेगी। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 दिन बाद सभी परिसंपत्तियों के विवाद हल हो जाएंगे।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आभार जताया और उन्हें धन्यवाद दिया। कहा कि दोनों राज्यों के बीच छोटे-बड़े भाई के संबंध हैं। मेरा यूपी से पुराना रिश्ता है। मेरे सभी शैक्षणिक दस्तावेज यूपी के हैं। योगी जी ने दिल खोलकर हमारी बातों को माना। हमारा मकसद सभी का सम्मान और सभी का विकास है।