योगी सरकार का बड़ा फैसला, पाकिस्तान से आए हिंदू परिवारों को फ्री राशन, रहने-खेती के लिए मिलेगी जमीन

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सीएम योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में बीते मंत्रिपरिषद की बैठक हुई. इस मीटिंग में कई बड़े फैसले लिए गए. इनमें से एक अहम निर्णय यह रहा कि साल 1970 में पूर्वी पाकिस्तान से हिन्दू बंगाली परिवारों की पुनर्वासन योजना स्वीकृत कर ली गई. 1970 के ईस्ट पाकिस्तान से विस्थापित 63 हिन्दू बंगाली परिवारों के लिए ग्राम भैंसाया, तहसील रसूलाबाद, जनपद कानपुर देहात में पुनर्वास विभाग के नाम पर मौजूद 121.41 हेक्टेयर भूमि पर प्रस्तावित पुनर्वासन योजना को सरकार ने स्वीकृति दे दी है.

 
yogi
योगी सरकार का बड़ा फैसला, पाकिस्तान से आए हिंदू परिवारों को फ्री राशन, रहने-खेती के लिए मिलेगी जमीन

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सीएम योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में बीते मंत्रिपरिषद की बैठक हुई. इस मीटिंग में कई बड़े फैसले लिए गए. इनमें से एक अहम निर्णय यह रहा कि साल 1970 में पूर्वी पाकिस्तान से हिन्दू बंगाली परिवारों की पुनर्वासन योजना स्वीकृत कर ली गई. 1970 के ईस्ट पाकिस्तान से विस्थापित 63 हिन्दू बंगाली परिवारों के लिए ग्राम भैंसाया, तहसील रसूलाबाद, जनपद कानपुर देहात में पुनर्वास विभाग के नाम पर मौजूद 121.41 हेक्टेयर भूमि पर प्रस्तावित पुनर्वासन योजना को सरकार ने स्वीकृति दे दी है.

पाकिस्तान से आए हिंदू परिवारों के रीसेटेलमेंट के लिए योगी कैबिनेट ने जो अप्रूवल दिए, उसके मुताबिक, खेती के लिए हर परिवार को दो एकड़ जमीन दी जाएगी. ताकि यह परिवार अपनी मेहनत से खेती कर जीवन यापन कर सकें. इसके अलावा, परिवार को रहने के लिए 200 वर्गमीटर जमीन दी जा रही है. वहीं, मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत हर परिवार 1 लाख 20 हजार रुपये दिए जाएंगे. इतना ही नहीं, योगी सरकार भूमि सुधार और सिंचाई सुविधा के लिए भी मनरेगा योजना के तहत काम करवाएगी.

इस कैबिनेट बैठक में कई और अहम निर्णय भी लिए गए हैं. बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के क्रियान्वयन संबंधी प्रस्ताव को अप्रूव कर दिया है. इसके तहत उत्तर प्रदेश के गांवों से निकले लोग जो बाहर शहर या विदेश में हैं वह गांव के विकास में अपना योगदान दे सकेंगे. वहीं, अन्त्योदय कार्ड धारकों के लिए बड़ी खबर यह है कि उन्हें मार्च 2022 तक मुफ्त राशन मिलेगा. जिसमें चावल और गेहूं के साथ आयोडाइज्ड नमक, दाल, चना, तेल शामिल होंगे.