पांच डॉक्टरों के पैनल ने किया महंत नरेंद्र गिरि का पोस्टमार्टम, सीएम को बंद लिफाफे में सौंपी जाएगी रिपोर्ट

महंत नरेंद्र गिरि को आज मठ में ही समाधि दी जाएगी। इससे पहले उनके पार्थिव शरीर का स्वरूप रानी नेहरू हॉस्पिटल में 5 डॉक्टरों ने पोस्टमार्टम किया।
 
narendra giri.jpg
महंत नरेंद्र गिरि का पोस्टमार्टम

प्रयागराज। महंत नरेंद्र गिरि को आज मठ में ही समाधि दी जाएगी। इससे पहले उनके पार्थिव शरीर का स्वरूप रानी नेहरू हॉस्पिटल में 5 डॉक्टरों ने पोस्टमार्टम किया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट सीएम को बंद लिफाफे में भेजी जाएगी। बाघंमरी मठ के भीतर समाधि स्थल को फूलों से सजाया गया है।

महंत के पार्थिव देह को शहर में घुमाते हुए संगम में गंगा में स्नान कराया गया। इसके बाद देह को लेटे हुनमान मंदिर ले जाया जा रहा है। इसी मंदिर के नरेंद्र गिरी महंत थे। और रोज एक बार मठ से मंदिर दर्शन के लिए जाते थे। शाम तक बाघंबरी मठ में ही महंत को भू-समाधि दी जाएगी।

महंत के अंतिम दर्शन के लिए उमड़ी भीड़ को देखते हुए प्रयागराज में शहरी क्षेत्र के 12वीं तक के सभी स्कूल-कॉलेज में छुट्‌टी कर दी गई है। उधर, आनंद गिरि से एडीजी से लेकर डीआईजी और अन्य अफसरों ने 12 घंटे लंबी पूछताछ की है। आनंद को सुसाइड नोट भी दिखाया गया।

खुद को उत्तराधिकारी बताने वाले बलबीर बयान से पलटे 

उधर कल तक खुद को गद्दी का अगला उत्तराधिकारी बता रहे बलवीर अब अपने बयान से पलट गए हैं। अब उनका कहना है कि उत्तराधिकारी कौन होगा, ये निर्णय पंचपरमेश्वर लेंगे। इससे पहले बलवीर कह रहे थे कि सुसाइड लेटर में गुरुजी नरेंद्र गिरि की ही राइटिंग है। अब बोल रहे हैं कि मैं उनकी राइटिंग नहीं पहचानता हूं।