69,000 शिक्षक भर्ती: नाखुश अभ्यर्थियों ने बेसिक शिक्षा मंत्री के घर का किया घेराव, CM योगी से मिलने के लिए अड़े

लखनऊ. 69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती मामले में आरक्षण पीड़ित ओबीसी और एससी वर्ग के अभ्यर्थियों ने लखनऊ में बेसिक शिक्षा मंत्री के आवास का घेराव किया. आरक्षण पीड़ित अभ्यर्थी केवल 6 हजार सीट देने से नाखुश चल रहे हैं. इसी को लेकर वो पिछले कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं और मुख्यमंत्री से मुलाकात को लेकर अड़े हुए हैं. पुलिस ने सभी अभ्यर्थियों को हिरासत में लेकर ईकोगार्डन भेज दिया है।

 
UP
69,000 शिक्षक भर्ती: नाखुश अभ्यर्थियों ने बेसिक शिक्षा मंत्री के घर का किया घेराव, CM योगी से मिलने के लिए अड़े
 

लखनऊ. 69 हजार सहायक शिक्षक भर्ती मामले में आरक्षण पीड़ित ओबीसी और एससी वर्ग के अभ्यर्थियों ने लखनऊ में बेसिक शिक्षा मंत्री के आवास का घेराव किया. आरक्षण पीड़ित अभ्यर्थी केवल 6 हजार सीट देने से नाखुश चल रहे हैं. इसी को लेकर वो पिछले कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं और मुख्यमंत्री से मुलाकात को लेकर अड़े हुए हैं. पुलिस ने सभी अभ्यर्थियों को हिरासत में लेकर ईकोगार्डन भेज दिया है।

आरक्षण पीड़ित अभ्यर्थी 6000 सीट देने से नाखुश है। उनका कहना है कि भर्ती में 19000 से अधिक सीटों पर आरक्षण घोटाला हुआ है। आरक्षण पीड़ित अभ्यर्थियों को आरक्षण घोटाला की सभी 19000 सीट दी जाए। सीएम योगी से आरक्षण पीड़ित अभ्यर्थियों की मुलाकात करवाई जाए इस बात को लेकर आरक्षण पीड़ित अभ्यर्थी अडे हुए हैं।

इको गार्डन में धरना प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों का कहना है कि ओबीसी वर्ग का 27% तथा एससी वर्ग का 21% आरक्षण भर्ती में पूरा किया जाए। सरकार ने ओबीसी तथा एससी वर्ग का पूरा आरक्षण दिए बिना 6000 सीट पर मामला निपटाने की कोशिश की है। लखनऊ हाईकोर्ट के सभी याचियों को सरकार द्वारा दी जाने वाली आरक्षित वर्ग की सीट में समायोजित किया जाए। भर्ती में ओबीसी वर्ग को 27% की जगह मात्र 3.86% आरक्षण मिला है। वहीं एससी वर्ग को भर्ती में 21% की जगह 16.6% आरक्षण मिला है।

बता दें, हाल ही में सीएम योगी ने अभ्यर्थियों से मुलाकात में भर्ती में 27% तथा 21% आरक्षण पूरा करने का अधिकारियों को निर्देश दिया था। वहीं आंदोलन कर रहे अभ्यर्थियों का आज 191वां दिन है। उनका कहना है जब तक पूरा आरक्षण नहीं मिलेगा अभ्यर्थी लखनऊ से वापस घर नहीं जाएंगे।