UP Election: चुनाव आयोग की कैराना सीट पर विशेष नजर, बढ़ाई जाएगी सुरक्षा, हर विधानसभा पर बनेगा 1 पिंक बूथ

शामली. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद चुनाव आयोग ने भी जिले स्तर पर अपनी तैयारियों तेज कर दी है। शामली जिले में 10 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जिले को 11 जोन 94 सेक्टर में बांट दिया गया। इस बार चुनाव आयोग की कैराना विधानसभा क्षेत्र पर विशेष नजर रहेगी, यहां पर पुलिस और अर्धसैनिक बलों की अतिरिक्त टीमों के साथ अतिरिक्त चुनाव प्रेक्षक तैनात किए जाएंगे। हर विधानसभा क्षेत्र में 1-1 पिंक मतदेय स्थल होगा, जहां पर मतदान कर्मियों और सुरक्षाबल महिलाएं ही रहेंगी।

 
kk
UP Election: चुनाव आयोग की कैराना सीट पर विशेष नजर, बढ़ाई जाएगी सुरक्षा, हर विधानसभा पर बनेगा 1 पिंक बूथ
 

शामली. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद चुनाव आयोग ने भी जिले स्तर पर अपनी तैयारियों तेज कर दी है। शामली जिले में 10 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जिले को 11 जोन 94 सेक्टर में बांट दिया गया। इस बार चुनाव आयोग की कैराना विधानसभा क्षेत्र पर विशेष नजर रहेगी, यहां पर पुलिस और अर्धसैनिक बलों की अतिरिक्त टीमों के साथ अतिरिक्त चुनाव प्रेक्षक तैनात किए जाएंगे। हर विधानसभा क्षेत्र में 1-1 पिंक मतदेय स्थल होगा, जहां पर मतदान कर्मियों और सुरक्षाबल महिलाएं ही रहेंगी।

जिला निर्वाचन अधिकारी डीएम जसजीत कौर ने कहा कि विधानसभा चुनाव में कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कराया जाएगा। कोरोना पीड़ित मरीजों को बाद में अतिरिक्त एक घंटे का समय देकर मतदान कराया जाएगा। प्रत्येक मतदेय स्थल पर कोरोना हेल्प डेस्क स्थापित की जाएगी। बिना मास्क के आने वाले मतदाताओं को मास्क उपलब्ध कराकर मतदान का मौका दिया जाएगा। मतदेय स्थल पर सैनिटाइज, मास्क के साथ मेडिकल टीम की व्यवस्था रहेगी। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए मतदान कराया जाएगा। वही 80 साल से अधिक दिव्यांग मतदाताओं को पोस्टल बैलेट की सुविधा दी जाएगी। 

विधानसभा चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद कैराना, शामली, थाना भवन विधानसभाओं के कंट्रोल रूम चालू हो गए हैं। इस मौके पर एडीएम संतोष कुमार सिंह ने बताया कि विधानसभा चुनाव 2022 में 50 प्रतिशत से अधिक यानि 540 मतदेय स्थलों की वेबकास्टिंग की जाएगी।