किसी के रोके नहीं रुकेगी यूपी के विकास की धारा: मोदी

प्रधानमंत्री ने प्रयागराज में महिला सशक्तिकरण को दिया नया आयाम, स्‍वयं सहायता समूहों के खातों में ट्रांसफर किए 1000 करोड़ रुपए 
 
Prime Minister Narendra Modi - Prayagraj
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- प्रयागराज

प्रयागराज। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को महिला सशक्तिकरण को नया आयाम देने के लिए उत्तर प्रदेश के प्रयागराज पहुंचे । मोदी ने यहां बटन दबाकर 202 टेक होम राशन प्‍लांट का शिलान्‍यास किया। इसके साथ ही उन्‍होंने 1.60 लाख स्‍वयं सहायता समूहों के खातों में 1000 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए। इससे 16 लाख महिलाओं को मदद मिलेगी। इसके पहले उन्‍होंने बैंकिंग सखियों, स्‍वयं सहायता समूह की महिलाओं और कन्‍या सुमंगला योजना की लाभार्थियों से बात की। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि प्रयागराज में आकर हमें अलग ही पवित्रता का अहसास होता है। पिछले साल कुंभ में मैं यहां आया था। तीर्थराज प्रयाग की पावन भूमि को मैं प्रणाम करता हूं। यूपी के विकास की धारा अब किसी के रोकने से रुकने वाली नहीं है, पहले की सरकारों का दौर वापस नहीं आएगा। यहां पहुंची महिलाओं ने ये संकल्प कर लिया है।

योगी राज में सुरक्षा भी ,अधिकार भी 

5 साल पहले यूपी की सड़कों पर गुंडों का राज था। उनका स्कूल कॉलेज जाना मुश्किल था। कुछ कह नहीं सकती थीं, बोल नहीं सकती थीं। थाने गईं तो बलात्कारी की सिफारिश में फोन आ जाता था। योगी जी ने गुंडों को उनकी सही जगह पहुंचाया है। आज योगी राज में सुरक्षा भी है, अधिकार भी है, संभावनाएं भी हैं। व्यापार भी है। इस नई यूपी को कोई वापस अंधेरे में नहीं धकेल सकता।

बेटियों के जीवन को सुनहरा बनाया 

देश भर के सैनिक स्कूलों में बच्चियों को एडमिशन देने का फैसला हमने किया। तीन तलाक के खिलाफ कानून हमारी सरकार ने बनाया। बिना किसी भेदभाव के डबल इंजन की सरकार बेटियों के जीवन को सुनहरा बनाने के लिए काम कर रही है।

शादी की उम्र 21 करने पर कुछ लोगों को तकलीफ

बेटियों की शादी की उम्र 18 साल थी। बेटियां चाहती थीं, उन्हें भी आगे बढ़ने के लिए समय मिले। इसलिए शादी की उम्र 21 साल करने का प्रयास किया जा रहा है। देश ये फैसला बेटियों के लिए कर रहा है। लेकिन किसको इससे तकलीफ हो रही है, ये सबको पता है।

महिलाओं को मिल रहा अधिकार 

हमारे यहां परंपरा से ऐसी व्यवस्था रही कि घर और हर संपत्ति पर केवल पुरुषों का ही अधिकार था। अब हमारी सरकार इस असमानता को दूर कर रही है। प्रधानमंत्री आवास योजना इसका सबसे बड़ा उदाहरण है। ये प्राथमिकता के आधार पर महिलाओं के नाम से बन रहे हैं। यूपी में 30 लाख से अधिक घर इस योजना में बने। इसमें 25 लाख घरों की रजिस्ट्री में महिलाओं का ही नाम है। यही तो सच्चा सशक्तिकरण है।

पहले की सरकारों का दौर नहीं लौटेगा 


यूपी में विकास और महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए जो काम हुआ है, वो पूरा देश देख रहा है। महिलाएं अब यूपी में दोबारा पहले की सरकारों वाला दौर लौटने नहीं देंगी। 

महिलाओं के जीवन में बड़े बदलाव 

उत्तर प्रदेश में नारी सशक्तिकरण के लिए जो काम हुआ है, वो पूरा देश देख रहा है। एक लाख महिलाओं के खाते में मुझे करोडों रुपए ट्रांसफर करने का सौभाग्य मिला। ये योजना भरोसे का माध्यम बन रही है। यूपी ने बैंक सखी शुरू किया है, ये महिलाओं के जीवन में बड़े बदलाव ला रहा है।
बेटियों को स्कूल न छोड़ना पड़े, इसके लिए काम किया है। हमारी सरकार बेटियों को आगे बढ़ाने में पीछे नहीं रही है। सुकन्या सुमंगला योजना के तहत ढाई करोड़ बेटियों के अकाउंट खोले गए हैं।

ये रहे मौजूद 
कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्‍यनाथ, डिप्‍टी सीएम केशव मौर्य, प्रदेश सरकार में मंत्री महेन्‍द्र सिंह, सांसद रीता बहुगुणा जोशी, हेमामालिनी सहित कई बड़ी हस्तियां मौजूद हैं।