राहुल गांधी का लखनऊ एयरपोर्ट पर हाईवोल्टेज ड्रामा, पहले चन्नी और बघेल का धरने पर बैठे फिर लखीमपुर रवाना

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी के लखीमपुर खीरी दौरे को लेकर बुधवार सुबह से ही हाईवोल्टेज ड्रामा चल रहा।
 
Rahul Gandhi's high voltage drama at Lucknow airport pic
लखनऊ एयरपोर्ट पर राहुल गांधी का हाईवोल्टेज ड्रामा

लखनऊ। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी के लखीमपुर खीरी दौरे को लेकर बुधवार सुबह से ही हाईवोल्टेज ड्रामा चल रहा। योगी सरकार से लखीमपुर जाने इजाजत मिलने के बाद लखनऊ पहुंचे राहुल गांधी एयरपोर्ट पर पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रह भूपेश बघेल के साथ धरने पर बैठ गए। 

जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी के एयरपोर्ट पर उतरने के बाद उनके लखीमपुर खीरी जाने वाले रूट को लेकर खींचतान मच गई।  राहुल को जिस गाड़ी से लखीमपुर जाना था उससे जाने की इजाजत उन्‍हें नहीं मिली। अधिकारियों ने बताया कि उन्‍हें सरकार द्वारा तय रूट से भेजा जाएगा। 

इस खींचतान के बाद राहुल और दोनों मुख्‍यमंत्री वहीं धरने पर बैैठ गए। एयरपोर्ट पर रस्‍सी लगाकर उन्‍हें रोका गया है। बड़ी संख्‍या में फोर्स तैनात हैै। उधर, प्रियंका गांधी को सीतापुर पीएसी गेस्‍ट हाउस में बनी अस्‍थाई जेल से रिहा कर दिया गया है। 

माना जा रहा था कि वह भी राहुल गांधी के साथ लखीमपुर जाएंगी। पहले बताया गया था कि राहुल-प्रियंका को लखीमपुर जाने देने का निर्णय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ अफसरों की हुई उच्च स्तरीय बैठक में निर्णय लिया गया। राहुल को पहले दिल्‍ली एयरपोर्ट पर रोके जाने की तैयारी थी लेकिन एयरपोर्ट अर्थारिटी से कांग्रेस के आपत्ति जताने के बाद राहुल और अन्‍य नेताओं को लखनऊ की फ्लाइट लेने दिया गया। 

इससे पहले राहुल गांधी ने दिल्ली में एक प्रेस कॉफ्रेंस की। उन्होंने उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि किसानों पर सरकार का आक्रमण हो रहा है। किसानों को जीप से कुचला जा रहा है। राहुल ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए यह भी कहा कि पीएम लखनऊ गए लेकिन लखीमपुर नहीं गए। 

राहुल गांधी ने कहा कि यह किसानों का मुद्दा है। प्रियंका के साथ धक्का-मुक्की हुई इससे हमें कोई फर्क नहीं पड़ता। राहुल ने आगे कहा कि हमें मार दिया जाए, गाड़ दिया जाए, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता...हमारी ट्रेनिंग ऐसी हुई है। यह किसानों का मुद्दा है। मैं लखनऊ जाकर जमीनी हकीकत पता करना चाहता हूं। 

राहुल ने इस दौरान कहा कि सरकार किसानों की ताकत नहीं समझ पा रही है। उन्होंने कहा कि तीनों कृषि कानून किसानों पर हमला है। राहुल ने कहा कि पूरे देश के किसानों पर योजनागत तरीके से हमला हो रहा रहा, पहले भूमि अधिग्रहण बिल वापस किया गया और फिर तीन काले कानून लाए गए। राहुल ने कहा कि यूपी में किसानों को मारा जा रहा है। इस सरकार में जो रेप करते हैं, किसानों को मारते हैं वे जेल से बाहर रहते हैं और जो कुछ नहीं करते उन्हें जेल में डाला जा रहा है।