दिल्ली को "जहरीली हवा" से बचाने के लिए लॉकडाउन लगाने की तैयारी

केजरीवाल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दिया हलफनामा
 
air pollution in delhi
दिल्ली में वायु प्रदूषण

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली को जहरीली हवा (वायु प्रदूषण) से बचाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सरकार कम्पलीट लॉकडाउन लगाने के लिए तैयारहै। इस बाबत सरकारने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा भी दिया है।

दिल्ली सरकार ने अपने हलफनामे में कहा है कि प्रदूषण को रोकने के लिए वे संपूर्ण लॉकडाउन जैसे कदम उठाने को पूरी तरह तैयार हैं। साथ में सरकार ने यह भी कहा है कि ऐसे कदमों से सिर्फ कुछ समय का असर पड़ेगा। केजरीवाल सरकार ने बताया कि दिल्ली के साथ एनसीआर क्षेत्र में भी लॉकडाउन लगाने की जरूरत है, तभी ऐसे कदमों का असर पड़ेगा। 

Delhi's Air Quality Crisis : Important Supreme Court Orders On Firecrackers  & Stubble Burning [2016-2021]

वहीं, केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि दिल्ली और उत्तरी राज्यों में वर्तमान में पराली जलाना प्रदूषण का प्रमुख कारण नहीं है क्योंकि यह प्रदूषण में केवल 10% योगदान देता है।

यही नहीं केंद्र सरकार ने शीर्ष अदालत में एयर पलूशन से निपटने के लिए तीन सुझाव भी दिए। केंद्र सरकार ने कहा कि ऑड ईवन स्कीम, दिल्ली में ट्रकों की एंट्री से एयर पलूशन को कम किया जा सकता है। यही नहीं सरकार ने कहा कि यदि इससे भी समस्या खत्म नहीं होती है तो फिर अगला विकल्प लॉकडाउन भी हो सकता है। 

इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली में एयर पलूशन की मुख्य वजह धूल है, जो गाड़ियों की अधिक आवाजाही और उद्योगों के चलते है। अदालत ने कहा कि यदि सरकार की ओर से समय रहते इसलिए कदम उठाए जाएं तो फिर इसे खतरनाक लेवल तक पहुंचने से रोका जा सकता है।