प्रधानमंत्री मोदी ने रखी नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की आधारशिला, कहा- अंतरराष्ट्रीय बाजारों से सीधे कनेक्ट होगा यूपी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर, जेवर में नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की आधारशिला रखी। परियोजना स्थल पर पीएम के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य एम सिंधिया भी थे।
 
PM Modi lays foundation stone of Noida International Airport
नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की आधारशिला

नोएडा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर, जेवर में नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की आधारशिला रखी। परियोजना स्थल पर पीएम के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य एम सिंधिया भी थे।

 मोदी ने कहा कि जेवर एयरपोर्ट कनेक्टिविटी को आसान बनाएगा। यह यूपी को अंतरराष्ट्रीय बाजारों से सीधे कनेक्ट करेगा। किसान फल, सब्जी, मछली को जल्दी एक्सपोर्ट कर पाएंगे। मेरठ की स्पोर्ट्स इंडस्ट्री,आगरा के पेठा को विदेशी मार्केट में पहुंचने में आसानी होगी।

पीएम ने कहा, 'आजादी के बाद यूपी को ताने सुनने के लिए मजबूर कर दिया गया था। कभी गरीबी के ताने, कभी घोटालों के ताने, कभी खराब सड़कों के ताने, कभी माफियाओं के ताने। अब यूपी अंतरराष्ट्रीय छाप छोड़ रहा है। पहले राजनीतिक लाभ के लिए रेवड़ियों की तरह इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट की घोषणा होती थी, लेकिन प्रोजेक्ट जमीन पर कैसे उतरेंगे, इस पर विचार ही नहीं होता था। दशकों तक प्रोजेक्ट अटके रहते थे। देरी का ठीकरा दूसरों पर फोड़ा जाता था।'

इससे पहले, सीएम योगी ने कहा कि जिन्ना के अनुयायी ने गन्ने की मिठास में कड़वाहट घोली थी। गन्ने की मिठास को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाने के लिए यह एयरपोर्ट बहुत अहम होगा।

 सिंधिया ने कहा, "नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा एक मल्टी-मोडल कनेक्टिविटी हब होगा। यह 1 लाख से अधिक लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा करेगा। जल्द ही हम राज्य में अयोध्या में एक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे सहित 17 हवाईअड्डे देखेंगे।"

हवाई अड्डे का विकास यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड (वाईआईएपीएल) द्वारा किया जा रहा है, जो परियोजना के स्विस रियायतकर्ता ज्यूरिख इंटरनेशनल एयरपोर्ट एजी की 100 प्रतिशत सहायक कंपनी है।यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड (वाईआईएपीएल) उत्तर प्रदेश सरकार और भारत सरकार के साथ घनिष्ठ साझेदारी में पीपीपी मॉडल के तहत नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का विकास कर रहा है।एयरपोर्ट बनने से प्रदेश में रोजगार के अवसर खुलने की संभावना जताई जा रही है।

इसका निर्माण पूरा होने पर यह उत्तर प्रदेश का पांचवां एयरपोर्ट होगा। इस बहुप्रतीक्षित परियोजना को यूपी विधानसभा चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा से कुछ हफ्ते पहले हरी झंडी दिखाई जा रही है। मोदी ने 20 अक्टूबर को कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का उद्घाटन किया था। अयोध्या में एक और अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा निमार्णाधीन है। इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के बाद जेवर हवाई अड्डा दिल्ली-एनसीआर में बनने वाला दूसरा इंटरनेशनल एयरपोर्ट होगा।