मोदी की पाठशाला: आईआईटी के छात्रों को दिया सफलता का मंत्र, कहा- कम्फर्ट को नहीं चैलेंज को चुने

आईआईटी कानपुर के दीक्षांत समारोह में छात्रों से पीएम मोदी ने कहा कि सहूलियत के लिए शॉर्टकट बहुत लोग बताएंगे। कम्फर्ट मत चुनना, चैलेंज चुनना। जीवन में कठिनाइयां आएंगी जो लोग उससे भागते हैं, वे आगे नहीं बढ़ पाते।
 
MODI
आईआईटी कानपुर- पीएम मोदी

कानपुर। आईआईटी कानपुर के दीक्षांत समारोह में छात्रों से पीएम मोदी ने कहा कि सहूलियत के लिए शॉर्टकट बहुत लोग बताएंगे। कम्फर्ट मत चुनना, चैलेंज चुनना। जीवन में कठिनाइयां आएंगी जो लोग उससे भागते हैं, वे आगे नहीं बढ़ पाते। लेकिन, ध्यान रहे कि कठिनाइयों से भागना नही है। आप जहां जाएंगे कुछ नया करेंगे। सरकार हर कदम पर आपके साथ है।

 पीएम ने कहा कि आप अपनी मानवीय संवोदनाओं को और जानने की ललक को कभी मरने मत देना। लोगों से जुड़ने की अपनी इच्छा को दबने नहीं देना। जीने की जिजीविषा का नाम ही जीवन है और इसे पूरे आनंद एवं उल्लास से जीना।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छात्रों से कहा कि आत्मनिर्भर बनने के लिए अधीर बनें। मैं भी अधीर हूं। वर्ष 2047 में भारत कैसा होगा, यह आपको ही तय करना है। आपको ही देश की दिशा व गति तय करनी है। प्रधानमंत्री ने कहा कि 25 साल की उम्र में अपने पैरों पर खड़े हो जाना चाहिए। मगर देश आजादी के बाद 25 साल की उम्र में पैरों पर खड़ा नहीं हो पाया। अब काफी समय गुजर गया है और दो पीढ़ियां बीत गई हैं। इसलिए एक पल भी बर्बाद नहीं करना है। भविष्य में टेक्नोलॉजी के बिना जीवन अधूरा होगा। ये समय जीवन व टेक्नोलॉजी में प्रतिस्पर्धा का है। इसमें आपको आगे निकलना है। मुझे विश्वास है कि आप इसे पूरा करोगे।