Manish Gupta Murder Case: पीड़ित परिवार से मिले अखिलेश यादव, हाईकोर्ट के रिटायर जज से जांच कराने की मांग

गोरखपुर में पुलिस की पिटाई से मरने वाले प्रापर्टी डीलर मनीष गुप्ता (Manish Gupta Murder Case) के परिवार से गुरुवार को समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुलाकत की। 
 
Akhilesh Yadav met Manish Gupta's family
Manish Gupta Murder Case

कानपुर। गोरखपुर में पुलिस की पिटाई से मरने वाले प्रापर्टी डीलर मनीष गुप्ता (Manish Gupta Murder Case) के परिवार से गुरुवार को समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुलाकत की। 

अखिलेश ने पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाते हुए सपा की तरफ से 20 लाख रुपये का आर्थिक सहायता का ऐलान किया। उन्होंने यह भी कहा कि उनकी पार्टी पीड़ित परिवार के साथ है और उनको न्याय दिलाने के लिए हर संभव प्रयास करेगी। न्याय न मिला तो कानपुर से लेकर लखनऊ तक सड़क मार्च कर सो रही सरकार को जगाया जाएगा। यह कानपुर की जनता की लड़ाई है और शहर का हर आम आदमी सपा के साथ है।

गोरखपुर पुलिस ने सबूत मिटा दिए
अखिलेश ने कहा कि गोरखपुर पुलिस ने सबूत मिटा दिए गए हैं। खून के धब्बे धो दिए गए। घटना को छुपाने की पूरी कोशिश की गई। प्रदेश सरकार भी पुलिस के कृत्य को छुपा रही है उसकी वजह यह है कि पुलिस सरकार के लिए काम कर रही है।

हाईकोर्ट के रिटायर जज से कराएं जांच 

अखिलेश ने कहा, हाईकोर्ट के रिटायर जज से इस हत्याकांड की जांच कराई जाए। सांक्ष्य मिटाने की भी जांच होनी चाहिए। घटना के जिम्मेदार गोरखपुर के डीएम और एसएसपी को तत्काल हटाना चाहिए।