ग्रामीणों ने व्यापारी को पीटा, इलेक्ट्रानिक कांटे को रिमोड से कंट्रोल कर अनाज में करता था धोखाधड़ी

मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले में किसानों से धोखाधड़ी के एक बड़ा मामला सामने आया है। जिले में इन दिनों सोयाबीन खरीदी चल रही है. किसानों ने व्यापारी को रंगेहाथों पकड़ा और जमकर उसकी पिटाई कर दी. व्यापारी पर आरोप है कि वह इलेक्ट्रॉनिक तराजू को रिमोट से कंट्रोल कर उनके सोयाबीन में प्रति क्विंटल 
 
ग्रामीणों ने व्यापारी को पीटा, इलेक्ट्रानिक कांटे को रिमोड से कंट्रोल कर अनाज में करता था धोखाधड़ी 

राजगढ। मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले में किसानों से धोखाधड़ी के एक बड़ा मामला सामने आया है। जिले में इन दिनों सोयाबीन खरीदी चल रही है. किसानों ने व्यापारी को रंगेहाथों पकड़ा और जमकर उसकी पिटाई कर दी. व्यापारी पर आरोप है कि वह इलेक्ट्रॉनिक तराजू को रिमोट से कंट्रोल कर उनके सोयाबीन में प्रति क्विंटल 10 किलो की गड़बड़ी कर रहा था. किसानों ने व्यापारी द्वारा गड़बड़ी का पूरा वीडियो भी बनाया, जो अब वायरल होने लगा है.

जिले में नए सोयाबीन की आवक शुरू हो गई, इसी के साथ किसानों ने अपनी उपज बेचना भी शुरू कर दिया. इसी कारण कई व्यापारी मंडी में सोयाबीन खरीदने के बजाय गांव-गांव जाकर किसानों से सोयाबीन खरीद रहे हैं. यहां जिले के इकलेरा निवासी व्यापारी आशिक भी अपना इलेक्ट्रॉनिक तौल कांटा लेकर सोयाबीन खरीदने के लिए गांव-गांव पहुंच रहा था.

व्यापारी को तलेन थाना क्षेत्र के पिपलिया तब्बकुल गांव में किसानों की फसल खरीदने के लिए पहुंचा. वह यहां गांव के किसान राधेश्याम की सोयाबीन की फसल खरीद रहा था. किसान ने पहले से ही अपनी फसल तोलकर रखी थी, लेकिन व्यापारी जब इलेक्ट्रॉनिक तराजू पर फसल तौल रहा था, उसकी फसल में प्रति क्विंटल के हिसाब से 10 किलो का अंतर आ रहा था.

इस तरह का मामला गांव के अन्य किसान परिवारों के साथ भी हुआ. इस दौरान किसान की नजर व्यापारी के हाथ में रखे रिमोट पर गई, उन्हें समझ आ गया कि व्यापारी रिमोट से गड़बड़ी को अंजाम दे रहा था. व्यापारी की करतूत देख ग्रामीणों ने उसकी जमकर पिटाई कर दी.

ग्रामीणों ने धोखाधड़ी की इस करतूत का वीडियो भी बनाया. उन्होंने 77 किलो के एक व्यक्ति को तराजू पर खड़ा किया, रिमोट चालू करते ही यही वजन 77 से घटकर 70 किलो हो गया. यानी कि प्रति 10 किलो पर तराजू में एक किलो की गड़बड़ी का सिस्टम पहले से फीड था. गुस्साए ग्रामीणों ने पहले तो व्यापारी की पिटाई की, फिर उसे पुलिस के हवाले कर दिया.