मध्यप्रदेश में खुलेंगे 1 से 12वीं तक के स्कूल, 100 प्रतिशत होगी क्षमता

कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने पूरी क्षमता के साथ स्कूल खोलने की घोषणा कर दी है। इसके साथ ही पहले की तरह छात्र और छात्राएं हॉस्टल में रह सकते हैं। लेकिन अभी भी स्कूल जाने के लिए कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरह पालन करना पड़ेगा और कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज भी जरुरी है।
 
मध्यप्रदेश में खुलेंगे 1 से 12वीं तक के स्कूल, 100 प्रतिशत होगी क्षमता 

भोपाल। कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने पूरी क्षमता के साथ स्कूल खोलने की घोषणा कर दी है। इसके साथ ही पहले की तरह छात्र और छात्राएं हॉस्टल में रह सकते हैं। लेकिन अभी भी स्कूल जाने के लिए कोरोना गाइडलाइन का पूरी तरह पालन करना पड़ेगा और कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज भी जरुरी है। इस सम्बन्ध में स्कूल शिक्षा विभाग ने आदेश जारी कर दिए हैं. 

स्कूल-हॉस्टल के लिए परिजनों की मंजूरी अनिवार्य होगी. स्कूल और हॉस्टल के शिक्षकों समेत पूरे स्टाफ के कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेना भी अनिवार्य होगा. बता दें कि स्कूल शिक्षा विभाग के उप-सचिव प्रमोद सिंह ने सोमवार देर रात ये आदेश जारी किए हैं. आदेश के मुताबिक स्कूल प्रबंधन को यह अधिकार दिया गया है कि वह स्कूल कैसे संचालित करें ताकि कोरोना गाइडलाइंस का पालन हो.

स्कूल शिक्षा विभाग ने ऑनलाइन क्लासेज जारी रखने का अधिकार भी स्कूल प्रबंधन को दिया है. यह उनकी मर्जी पर निर्भर करेगा, जो स्कूल ऑनलाइन क्लासेज चलाना चाहते हैं, वह चला सकते हैं लेकिन जो नहीं चलाना चाहते वह इसके लिए बाध्य नहीं होंगे. स्कूल असेंबली, खेलकूद जैसी गतिविधियों पर अभी रोक रहेगी.

अगर कोई छात्र या स्टाफ कोरोना संक्रमित पाया जाता है तो स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की सहमति से जारी विभागीय आदेश का पालन किया जाएगा. केंद्र सरकार या राज्य सरकार समय-समय पर जो एसओपी या कोविड प्रोटोकॉल जारी करेंगी, उनका भी पालन किया जाएगा.