मध्यप्रदेश : सीएम शिवराज बाटेंगे 6 करोड़ की स्कॉलरशिप, लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ लेने के लिए पढ़े पूरी खबर

मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज महानवमीं के शुभ अवसर पर प्रदेश की बेटियों को करीब 6 करोड़ रुपए की स्कॉलरशिप बाटेंगे. इस मौके पर सीएम 40 लाख लाडली लक्ष्मी और बेटियों को संबोधित भी करेंगे. 
 
मध्यप्रदेश : सीएम शिवराज बाटेंगे 6 करोड़ की स्कॉलरशिप, लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ लेने के लिए पढ़े पूरी खबर 

भोपाल। मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज महानवमीं के शुभ अवसर पर प्रदेश की बेटियों को करीब 6 करोड़ रुपए की स्कॉलरशिप बाटेंगे. इस मौके पर सीएम 40 लाख लाडली लक्ष्मी और बेटियों को संबोधित भी करेंगे. सरकार आज प्रदेश स्तर पर लाडली लक्ष्मी उत्सव मना रही है.

बता दें कि कार्यक्रम के तहत सीएम शिवराज दोपहर 3 बजे आयोजित कार्यक्रम में 40 लाख लाडली लक्ष्मी और बेटियों को वर्चुअली संबोधित करेंगे. इस दौरान सीएम शिवराज प्रदेश की 21 हजार 550 लाडलियों को 5 करोड़ 99 लाख रुपए की छात्रवृत्ति बाटेंगे। इस बीच सरकार ने हर जिले में साल में एक बार लाडली लक्ष्मी उत्सव मनाने का फैसला किया है। 

लाडली लक्ष्मी योजना क्या है ?

बेटियों के जन्म के प्रति लोगों को जागरुक और सकारात्मक करने और लिंग अनुपात में सुधार के उद्देश्य से लाडली लक्ष्मी योजना की शुरुआत की गई थी. इस योजना के तहत बेटी के पंजीकरण के समय से लगातार 5 सालों तक 6-6 हजार रुपए मध्य प्रदेश लाडली लक्ष्मी योजना निधि में सरकार द्वारा जमा किए जाएंगे.

इसके बाद बालिका के कक्षा 6 में ए़डमिशन लेने पर 2 हजार रुपए, कक्षा 9 में एडमिशन लेने पर 4 हजार रुपए और 11वीं में एडमिशन लेने पर 6 हजार रुपए मिलेंगे. बेटी के 12वीं कक्षा में एडमिशन लेने पर 6 हजार रुपए फिर से ई-पेमेंट के रूप में मिलेंगे. वहीं बेटी के 21 साल होने पर अंतिम किस्त के रूप में 1 लाख रुपए और मिलेंगे. हालांकि इसके लिए बेटी का 12वीं की परीक्षा में शामिल होना अनिवार्य होगा. साथ ही बेटी की शादी 18 साल से पहले भी नहीं होनी चाहिए.
 
प्रदेश में एक अप्रैल 2007 को लाडली लक्ष्मी योजना की शुरुआत हुई थी. इस योजना के तहत सरकार 39.81 लाख बेटियों को आर्थिक मदद मुहैया कराती है. इस योजना में पंजीकरण के लिए जरूरी दस्तावेजों को आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के माध्यम से परियोजना कार्यालय/लोक सेवा केंद्र या किसी भी इंटरनेट कैफे से रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है.