मध्य प्रदेश में डेंगू का कहर : 66 नए मरीजों की हुई पुष्टि, ग्वालियर में अब तक 587 मरीज

कोरोना का कहर अभी रुकने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच, मध्य प्रदेश में डेंगू ने अपना रूप दिखाना शुरू कर दिया है। ऐसे में ग्वालियर-चंबल संभाग में डेंगू ने अपना कहर बरपा दिया है। कल देर शाम गजरा राजा मेडिकल कॉलेज और मुरार जिला चिकित्सालय से जारी रिपोर्ट में डेंगू के 66 नए मरीज सामने आए हैं
 
मध्य प्रदेश में डेंगू का कहर : 66 नए मरीजों की हुई पुष्टि, ग्वालियर में अब तक 587 मरीज 

ग्वालियर। कोरोना का कहर अभी रुकने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच, मध्य प्रदेश में डेंगू ने अपना रूप दिखाना शुरू कर दिया है। ऐसे में ग्वालियर-चंबल संभाग में डेंगू ने अपना कहर बरपा दिया है। कल देर शाम गजरा राजा मेडिकल कॉलेज और मुरार जिला चिकित्सालय से जारी रिपोर्ट में डेंगू के 66 नए मरीज सामने आए हैं, जिसमें 43 मरीज ग्वालियर जिले के हैं और 23 मरीज अन्य जिलों के सामने आए हैं।

कुल 178 मरीजों के सैंपल जांच के लिए आए थे। इस तरीके से ग्वालियर में डेंगू पीड़ितों की संख्या का आंकड़ा बढ़कर 587 पहुंच गया है। इनमें 337 बच्चे डेंगू का शिकार बने हैं। सबसे बड़ी चिंता का विषय कुल मरीजों में बच्चों की संख्या अधिक होना है। हालांकि, जिस इलाके से डेंगू मरीज रिपोर्ट होते हैं स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम का अमला उन प्रभावित इलाकों में जाकर घर-घर सर्वे का काम कर रहा है, लेकिन उसके बावजूद भी डेंगू का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा है।

कलेक्टर ग्वालियर का कहना है कि लोगों में जागरूकता की कमी है, जब तक महा प्रहार अभियान में लोगों का साथ नहीं मिलेगा तब तक पूरी तरीके से काबू नहीं पाया जा सकता। उनका यह भी कहना है कि बड़े स्तर पर हर कदम उठाए जा रहे है। डेंगू की चपेट में आ रहे बच्चों को लेकर भी उनका कहना है कि उनके इलाज के लिए बेड बढ़ाने से लेकर उनके इलाज को मजबूती प्रदान की जा रही है।