मध्य प्रदेश में दो दिन और बरसेंगे मेघ, मौसम विभाग ने 'ऑरेंज अलर्ट' जारी किया

मध्य प्रदेश में चौथे दिन झमाझम बारिश का सिलसिला जारी है। राजधानी भोपाल समेत इदौर, उज्जैन, ग्वालियर, सागर संभागों के कई जिलों में शुक्रवार-शनिवार की रात को भी बारिश हुई। भोपाल और उज्जैन में कोहरा भी छाया जिससे विजीब्लिटी काफी कम रही। यह सिलसिला शनिवार सुबह तक जारी रहा।
 
मध्य प्रदेश में दो दिन और बरसेंगे मेघ, मौसम विभाग ने 'ऑरेंज अलर्ट' जारी किया 

भोपाल। मध्य प्रदेश में चौथे दिन झमाझम बारिश का सिलसिला जारी है। राजधानी भोपाल समेत इदौर, उज्जैन, ग्वालियर, सागर संभागों के कई जिलों में शुक्रवार-शनिवार की रात को भी बारिश हुई। भोपाल और उज्जैन में कोहरा भी छाया जिससे विजीब्लिटी काफी कम रही। यह सिलसिला शनिवार सुबह तक जारी रहा। मौसम विभाग के मुताबिक 11 जनवरी तक मौसम के तेवर इसी तरह के बने रहेंगे। इस दौरान बारिश के साथ ओले गिरने की भी आशंका बनी रहेगी। इसके लिए विभाग ने आरेंज अलर्ट जारी किया है। 

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में अफगानिस्तान और उसके आसपास एक तीव्र आवृति वाला पश्चिमी विक्षोभ हवा के ऊपरी भाग में बना हुआ है। इसके असर से दक्षिण-पश्चिम राजस्थान और उससे लगे पाकिस्तान पर एक प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। इसके अतिरिक्त मध्यप्रदेश के मध्य से लेकर पंजाब-हरियाणा तक जेट स्ट्रीम बना हुआ है। जिसके चलते बंगाल की खाड़ी एवं अरब सागर से हवाओं के साथ लगातार नमी आ रही है। इससे मध्यप्रदेश के अधिकतर जिलों में बारिश हो रही है। साथ ही कहीं-कहीं ओले भी गिर रहे हैं। 

मौसम विज्ञान केंद्र ने पश्चिमी मध्य प्रदेश में बिजली गिरने और ओलावृष्टि के साथ गरज के साथ ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। अगले दो दिनों तक राज्य के बड़े हिस्से में ऐसा मौसम रहने की संभावना है क्योंकि एक चक्रवाती सिस्टम मध्य प्रदेश की सीमा पर दक्षिण-पूर्वी राजस्थान के ऊपर बना हुआ है। यह सिस्टम मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में नमी पैदा कर रहा है, जिससे बारिश हो रही है। बादलों के कारण रात का तापमान बढ़ा हुआ है, जबकि दिन के तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। 11 जनवरी के बाद बादलों के छंटने से ठंड बढऩे लगेगी। 

इन जगहों पर तेज बारिश का अलर्ट

अगले 6 घंटे के दौरान भोपाल, रायसेन, विदिशा, सागर, दतिया, श्योपुरकलां, मुरैना, भिंड, टीकमगढ़, निवाड़ी, छतरपुर और पन्ना में कहीं-कहीं तेज बारिश के साथ ओले गिर सकते हैं। हवाओं की रफ्तार 45 किलो मीटर प्रति घंटा रह सकती है। वहीं श्योपुर, सीहोर, अशोकनगर, गुना, होशंगाबाद, नरसिंहपुर, दमोह, कटनी, रीवा और सतना में कहीं-कहीं हल्की बारिश हो सकती है। यहां पर हवाएं 30 किलोमीटर की तरफ्तार से चल सकती हैं।