Connect with us

मध्य प्रदेश

केन्द्र की मध्यस्थता के बाद सेल करेगा मप्र को ऑक्सीजन सप्लाई, शिवराज ने PM को किया धन्यावाद

Published

on

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना काल के समय मेडिकल ऑक्सीजन की कमी से जूझ रही सरकार की ओर केन्द्र सरकार ने मदद का हाथ बढ़ाया है। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (सेल) अब प्रदेश को 50 टन ऑक्सीजन सप्लाई करेगा। इससे एमपी के पास 180 टन का स्टॉक होगा। जिसके बाद अब प्रदेश में कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी।

सेल आज से ऑक्सीजन की सप्लाई शुरू कर देगा

केंदीय मंत्री पीयूष गोयल ने स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया से इसके लिए मध्यस्थता की है। सेल आज से ऑक्सीजन की सप्लाई शुरू कर देगा। इसके लिए सेल से ऑक्सीजन सप्लायर्स के टैंकर्स भी मिल चुके हैं। सीएम शिवराज ने रविवार को ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। उन्होंने लिखा है कि ‘आज मेरे अनुरोध पर भारत सरकार ने मध्यप्रदेश को 50 टन प्रतिदिन ऑक्सीजन की आपूर्ति की, जिससे हमारी ऑक्सीजन की उपलब्धता बढक़र 180 टन प्रतिदिन हो गई है। कोविड19 के इस कठिन समय में मध्यप्रदेश का सहयोग करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी और पीयूष गोयल को सहृदय धन्यवाद देता हूं’।
गौरतलब है कि कोरोना संकट के चलते मप्र के कई जिलों में ऑक्सीजन की कमी का मामला सामने आया था। महाराष्ट्र से मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई बंद होने से प्रदेश में इसकी कमी हुई थी। सीएम शिवराज ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से फोन पर बात कर सप्लाई जारी रखने का आग्रह किया था जिस पर उन्होंने आश्वासन भी दिया था। वहीं अब सेल से ऑक्सीजन की सप्लाई शुरू होने पर मप्र को राहत मिलेगी।

Trending